Yogi

श्री मान जी क्या यही स्वच्छता अभियान है हर जगह गंदगी पसरी हुई है |इस समूह एक तिहाई गाये संक्रामक वीमारी से पीड़ित है जो की विडियो से स्पस्ट है |जब मोहल्ले की यह स्थिति है तो सोचिये सब्जी मंडी और  चौराहों की हालत क्या होगी |श्री मान जी सुरेकापुरम कॉलोनी मिर्ज़ापुर शहर का आतंरिक हिस्सा है |


महोदय भगवान राम  महान साम्राट थे  पूरी आर्यावर्त में उनका शासन था क्योंकि वह  प्रजा वत्सल थे  वह भेष बदल कर जनता की समस्याए सुनते थे उसी क्रम में कठोर निर्णय लिए थे  | किन्तु इस लोकतंत्र में जनता की समस्याए देख कर लोक सेवक आँख बंद कर लेते है |श्री मान जी मेरी भी गौ माता में बड़ी श्रद्धा किन्तु मैं श्रद्धा का ढोंग करके उसका मजाक नहीं बनने देना चाहता |श्री मान जी क्या यह भयावह स्थिति नहीं है की एक तिहाई गाये इस प्रदेश की विमार है|प्रदेश का पशु विभाग हाथ पे हाथ धरे बैठा हुआ है कुछ करना ही नहीं चाहता | श्री मान जी प्रस्तुत शिकायत का सी श्रेणीकरण हुआ किन्तु इसका निस्तारण बिना किसी ठोस निष्कर्ष पर पहुचे बिना ही कर दिया गया और डी.एम्. महोदय द्वारा आख्या स्वीकार कर लिया गया |श्री मान जी इस प्रत्यावेदन के विडियो संलग्न है कृपया विडियो का अवलोकन करे और गौ माता की वास्तविक स्थिति का अवलोकन करे |

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

श्री मान जी फरवरी माह से ही अखबारों की सुरखिया बना पशुओं का यह रोग प्रदेश सरकार की निष्क्रियता की वजह से दावानल का रूप ले रहा है | श्री मान जी किसान तो किसी तरह इलाज कर रहे है किन्तु रोड पर टहलने वाले आवारा पशुओं का इलाज कौन करेगा | अगर प्रदेश सरकार सक्रिय रहती तो मिर्ज़ापुर या अन्य शहरो के पशुओं का जो इस रोग से पीड़ित है का इलाज हो जाता तो इस समय उनकी दुर्दशा देख कर मानसिक कष्ट तो न होता | लंगडाते हुए कमजोर पशुओं के देख कर किसके मन में हताशा व निराशा नही पैदा होता | श्री मान जी लावारिश पशुओं का इंतजाम करना भी सरकार के ही कार्यो का हिस्सा है | नागरिक बहुत करेगा दो रोटी दे सकता है किन्तु उनका इलाज तो नही कर सकता |

Arun Pratap Singh
1 year ago

Undoubtedly one third population of the mother cow is suffering from hoof and mouth disease is not reflecting the carelessness of the ongoing incumbent. Think about the gravity of the situation that concerned staff of veterinary department is not interested to talk in regard to initiatives of the government commenced to curb this epidemic of hoof and mouth disease.

Mahesh Pratap Singh Yogi M. P. Singh

Undoubtedly the conditions of the cows in this largest populous state in the largest democracy in the world is it too much precarious so action must be taken on the part of responsible public functionaries. Whether it is not surprising that those who are doing politics in the name of cows itself adopting lackadaisical approach in order to cure them from epidemic. About the king Shivi who donated the flash app it's body equal to the weight of the pigeon in order to save save the life of the pigeon. Here this question arises that what we learnt from our ancestors who were so compassionate that itself accepted the death in order to save the life of a bird.