Why pond’s land encroached by land grabbers was not freed by them and even small piece for poor man

Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com>
Why the attached documents on the jansunwai portal, by the public functionaries, are not opening? Whether the aggrieved has no right to know that what is written in the report?
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> 10 April 2018 at 20:27
To: pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, presidentofindia@rb.nic.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, cmup <cmup@up.nic.in>, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko <uphrclko@yahoo.co.in>

विषय -तहसीलदार सदर ने अपने रिपोर्ट में कहा है की १५ दिन में बेदखली की कार्यवाही कर दी जायेगी किन्तु अब तो ३० दिन बीत गये किन्तु स्थिति ज्यो का त्यों बनी हुई है | पूर्व की रिपोर्ट में कहा गया की कब्जेदार कब्जा हटाने को तैयार है किन्तु १५ दिन में बेदखली की धमकी भी कोई रंग नही दिखा सकी अर्थात कार्यालय में बैठकर रिपोर्ट तैयार करने से किसी भी मामले का निस्तारण नही होगा| क्या कब्जेदारो को कोई नोटिस भेजी गयी अभी तक यदि नही तो क्यों |  

प्रश्नगत प्रकरण में ग्राम आदमपुर के आ0नं0 93 का स्थ लीय एवं अभिलेखीय जांय किया गया। जांचोपरान्ता आ0नं0 93 तालाब की भूमि है। तालाब की पश्चिमी तरफ चकमार्ग बना है। चकमार्ग तालाब में कटकर फिसल गया है तथा तालाब की पश्चिमी सिरे पर मडहा आदि विपक्षी द्वारा रखा गया था। जिसे हटाने के के लिए कहा गया और विपक्षी हटाने के लिए तैयार है एवं ग्राम प्रधान से कहा गया सडक निर्माण का कार्य कराया जाय। तालाब के भीटे पर कुछ लोगों द्वारा अवैध कब्जा किया गया है। उन लोगों को भी अवैध कब्जाा हटाने के लिए कहा गया एवं कब्जेदारों को 15 दिन का कब्जा‍ हटाने के लिए समय दिया गया है। यदि कब्जा् नहीं हटाते हें तो उनके विरूद्ध बेदखली की कार्यवाही कर दी जायेगी। 

1-It is submitted before the Hon’ble Sir that nowadays apex court of India is showing some alertness but it seems that before this elephant size anarchy/darkness, what could be done by a  glow-worm? 
Diary No.
5952/SCI/PIL(E)/2018
Application Date
27-01-2018
Received On
07-02-2018
Applicant Name
MAHESH PRATAP SINGH YOGI M P SINGH
Address
MOHALLA SUREKAPURAM JABALPUR ROAD DISTRICT MIRZAPUR
State
UTTAR PRADESH
Action Taken
UNDER PROCESS
  2-It is submitted before the Hon’ble Sir that undoubtedly apex court of India is making wholehearted efforts but it seems that it has been without teeth and nail in front of this bitter terrible darkness.  
Diary No.
8471/SCI/PIL(E)/2018
Application Date
15-02-2018
Received On
24-02-2018
Applicant Name
MAHESH PRATAP SINGH YOGI M P SINGH
Address
MOHALLA SUREKAPURAM JABALPUR ROAD DISTRICT MIRZAPUR
State
UTTAR PRADESH
Action Taken
UNDER PROCESS

3-It is submitted before the Hon’ble Sir that whether it is not a mockery of the law of the land that concerned encroachers of the pond’s land don’t want to free land even covered by an area of a point of a needle. Whether the land belongs to encroachers is not causing an adverse impact on the ecology as natural water storage is on the verge of extinct because of most part of the pond has been levelled by the encroachers by covering it by the Earth. 

           

This is a humble request of the applicant to you Hon’ble Sir that it can never be justified to overlook the rights of the citizenry by delivering the services in an arbitrary manner by floating all set up norms. This is the sheer mismanagement which is encouraging wrongdoers to reap the benefit of loopholes in the system and depriving poor citizens of the right to justice. Therefore it is the need of the hour to take concrete steps in order to curb grown anarchy in the system. For this, your applicant shall ever pray you, Hon’ble Sir.
                                                  Yours sincerely

                                                Yogi M. P. Singh Mobile number-7379105911, Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road District-Mirzapur, Pin code 231001, Uttar Pradesh, India.

                     

[Quoted text hidden]

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh

तहसीलदार सदर ने अपने रिपोर्ट में कहा है की १५ दिन में बेदखली की कार्यवाही कर दी जायेगी किन्तु अब तो ३० दिन बीत गये किन्तु स्थिति ज्यो का त्यों बनी हुई है | पूर्व की रिपोर्ट में कहा गया की कब्जेदार कब्जा हटाने को तैयार है किन्तु १५ दिन में बेदखली की धमकी भी कोई रंग नही दिखा सकी अर्थात कार्यालय में बैठकर रिपोर्ट तैयार करने से किसी भी मामले का निस्तारण नही होगा| क्या कब्जेदारो को कोई नोटिस भेजी गयी अभी तक यदि नही तो क्यों |

Preeti Singh
2 years ago

आवेदन का संलग्नक
संलग्नक देखें
अग्रसारित विवरण-
क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या स्थिति आख्या रिपोर्ट
1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 11 – Apr – 2018 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, — अधीनस्थ को प्रेषित
2 आख्या जिलाधिकारी ( ) 11 – Apr – 2018 उप जिलाधि‍कारी -सदर,जनपद-मिर्ज़ापुर,राजस्व एवं आपदा विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें अधीनस्थ को प्रेषित
3 आख्या उप जिलाधि‍कारी (राजस्व एवं आपदा विभाग ) 11 – Apr – 2018 तहसीलदार -सदर,जनपद-मिर्ज़ापुर,राजस्व एवं आपदा विभाग आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें कार्यालय स्तर पर लंबित