Whether this is signal of good governance or sheer anarchy.


Whether this is signal of good governance or sheer anarchy

Inbox
x

yogimpsingh@gmail.com

11:26 AM (25 minutes ago)

to hgovupcmupurgent-actionsupremecourtpmosb
Whether this is
signal of good governance or sheer anarchy. No one is safe in this misrule.
Whether there is fear of police in the mind of crime perpetrators. Whether
government is incompetent enough to provide us good governance. Criminals are
committing the serious offences and workout of the case remains zero is not
arising out questions on eligibility of police personnel .
With due respect
your applicant wants to draw the kind attention of the Hon’ble Sirs to the
following submissions as follows.
1-It is submitted
before the Hon’ble Sir that Hon’ble Sir please take a glance of following link
information as published in the leading Hindi daily Amar Ujala –
रिश्तेदार के घर आई युवती का अपहरण
सोमवार, 4 अगस्त 2014
Mirzapur
Updated @ 5:30 AM IST
मिर्जापुर। कटरा कोतवाली क्षेत्र में अपने रिश्तेदार के यहां एक माह पूर्व आई युवती का रविवार की भोर में कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया। घर के पास बने बाथरूम के पास खून के निशान भी मिले। सूचना पर पहुंचे एएसपी सिटी, सीओ नगर, कटरा कोतवाल और मंडी चौकी प्रभारी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और डाग स्क्वाएड बुलाकर छानबीन की।
चंदौली जनपद के मुगलसराय थानाक्षेत्र निवासी युवती एक माह पूर्व मिर्जापुर के कोतवाली कटरा क्षेत्र में अपने रिश्तेदार के यहां आई थी। घरवालों के अनुसार शनिवार की रात बारह बजे टीवी देखने के बाद युवती परिवार वालाें के साथ सोई थी। सुबह पांच बजे महिलाओं की नींद खुली तो युवती गायब थी। महिलाओं ने सोचा कि वह घर में कहीं काम रही होगी, लेकिन काफी देर तक दिखाई नहीं दी तो खोजबीन शुरू हुई। घर के पास मौजूद बाथरूम की ओर जाने पर देखा कि दरवाजा खुला है और दरवाजे के पास काफी मात्रा में खून पड़ा है। इस पर महिलाओं ने शोर मचाया तो लोग जुट गए। लोगों ने देखा कि बाथरूम से दस मीटर की दूरी पर स्थित आम के पेड़ तक खून गिरा है। बाथरूम की दीवार की सीमेंट भी उखड़ी मिली। आशंका जताई जा रही है कि पहले से कुछ लोग घात लगाकर बाथरूम के पास बैठे थे। युवती जैसे ही बाहर निकली, उसका अपहरण कर लिया। युवती ने बचने का प्रयास किया लेकिन घायल होने के बावजूद सफल नहीं र्हुई।डाग स्क्वाएड के साथ पहुंची पुलिस ने दीवार पर से फिंगर प्रिंट लेकर छानबीन शुरू कर दी। इस दौरान करीब तीन सौ मीटर की दूरी पर स्थित एक घर तक डाग स्क्वाएड गया। इसके बाद लौट आया।सीओ सिटी प्रवीण यादव ने बताया कि पुलिस युवती को बरामद करने में जुटी है। उसके मोबाइल का काल डिटेल खंगाला जा रहा है। जल्द आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।
2-It is submitted
before the Hon’ble Sir that Hon’ble Sir please take a glance of following link
information as published in the leading Hindi daily Amar Ujala –
दुकान का दरवाजा तोड़ चोर उठा ले गए सामान
सोमवार, 4 अगस्त 2014
Mirzapur
Updated @ 5:30 AM IST
कछवां/मझवां। थाना क्षेत्र के कटका गांव स्थित एक जनरल स्टोर की दुकान का दरवाजा तोड़कर शनिवार की रात चोर हजाराें रुपये का सामान चुरा ले गए। सुबह घटना की जानकारी होने पर दुकानदार ने इंस्पेक्टर के मोबाइल पर कई बार फोन किया लेकिन फोन नहीं उठा तो सौ नंबर डायल कर घटना की जानकारी दी। पुलिस काफी देर बाद मौके पर पहुुंची और छानबीन कर लौट गई। 
कछवां निवासी जय प्रकाश मोदनवाले ने क्षेत्र के कटका इलाके में जनरल स्टोर की दुकान खोल रही है। प्रतिदिन की भांति शनिवार की रात करीब नौ बजे वह दुकान बंद कर घर चले गए। सुबह दुकान खोलने पहुुुंचे तो देखा कि उनके दुकान के पीछे वाले दरवाजा को तोड़कर चोर हजाराें रुपये का सामान चुरा गए है। चोरी हुए सामानाें 14 हजार रुपया नगद, दाल एक बोरा, एक बोरा चीनी, एक कुंतल चावल, मैदा, दो पेटी साबून समेत अन्य अन्य सामान शामिल है।
3-It is submitted
before the Hon’ble Sir that Hon’ble Sir please take a glance of following link
information as published in the leading Hindi daily Amar Ujala –
ताला खोल लाखों का माल पार
मंगलवार, 5 अगस्त 2014
Mirzapur
Updated @ 5:30 AM IST
हलिया। ड्रमंडगंज बाजार निवासी एक व्यक्ति के घर में लगे शटर का ताला खोलकर चोरों ने करीब साढ़े तीन लाख रुपये के जेवरात और नगदी पार कर दिया। नींद खुलने पर गृहस्वामी ने शोर मचाया। शोरगुल सुनकर आसपास के लोग एकत्र हो गए। सूचना पर पहुुंची पुलिस छानबीन कर लौट गई। 
ड्रमंडगंज बाजार निवासी लल्लूराम गुप्ता रविवार की रात अपने नातियाें के साथ घर के सामने लगे टीनसेड के नीचे सोए थे। आधी रात के बाद पहुुंचे चोर उनके तकिया के नीचे रखी चाभी निकाल लिए और शटर में लगे ताले को खोलकर घुस गए। चोर कमरे में रखे बक्से की कुंडी तोड़कर उसमें रखा जेवरात अन्य सामान चुरा ले गए। लल्लूराम ने बताया कि चोरी हुए सामानाें में चांदी का 26 लच्छा, चांदी का एक करधन, चांदी का एक जोड़ा छागल, चांदी की चार बिछीया , सोने का एक जोड़ा झाला, सोने की एक चेन, सोने का एक जोड़ा झुमका, मंगलसूत्र, सोने की माथबेदी, साढ़े सात हजार रुपये नगद समेत अन्य सामान शामिल हैं। पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि जब वह बाथरूम जाने के लिए जागे तो शटर दो फीट उपर उठा हुआ देख हैरान हो गए। शोर मचाते हुए नातियाें को जगाया तो एक युवक घर से निकलकर भागने लगा। जिसको पकड़ने का प्रयास किया तो वह धक्का देेते हुए भाग निकला। चोरी की तहरीर पर पुलिस छानबीन कर रही है।
    This is humble request of your applicant to
you Hon’ble Sir that please curb this anarchy. It can never be justified that
public functionaries make the life of civilians hell. What steps are being
taken by the government for betterment of society. There is greed in the origin
of such evil practices and law breakers don’t fear with the penal action of law
as police adopt lackadaisical approach in dealing with the criminals. Please
direct superintendent of police ,Mirzapur to curb this anarchy. For this your
applicant shall ever pray you Hon’ble Sir.
                                                  
Yours sincerely
                                                  
Yogi M. P. Singh

Mohalla-Surekapuram
, Jabalpur Road , District-Mirzapur , State-Uttar Pradesh , Country-India

urgent-action@ohchr.org

11:32 AM (16 minutes ago)

to me

   

Translate message
Turn off for: Hindi

2 comments on Whether this is signal of good governance or sheer anarchy.

  1. Whether this is signal of good governance or sheer anarchy. No one is safe in this misrule. Whether there is fear of police in the mind of crime perpetrators. Whether government is incompetent enough to provide us good governance. Criminals are committing the serious offences and workout of the case remains zero is not arising out questions on eligibility of police personnel .

  2. Really there is sheer anarchy. Whether Government headed by Akhilesh Yadav is able to provide security to people if not Why? An administrator always remains impartial. The root cause behind this jungle raj is greed of public functionary.

Leave a Reply

%d bloggers like this: