Whether this is not sheer injustice with student of weaker section perpetrated by MGKVP University ,Varanasi

श्री मान १९ अप्रैल से पहले या तो टाइम टेबल revise करे या प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करे क्यों की आप की कमी है की प्रार्थी परीक्षा में उपस्थित नही हो प् रहा है


Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh yogimpsingh@gmail.com

17:37 (1 hour ago)

to pmosbpresidentofind.urgent-actionsupremecourtcmupuphrclkocsup,
 hgovupRegistrarvcmgkvp
श्री मान जी शिकायत संख्या  40019717000763 नियत तिथि:   
12 – Apr – 2017 शिकायत की स्थिति:   लम्बित अंतरित  ऑनलाइन 
सन्दर्भ 13 – Mar – 2017    रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ
वाराणसी —             लंबित          क्या श्री मान जी इस बात का 
जवाब दे सकते है की प्रस्तुत प्रकरण अभी तक लंबित क्यों है जब की प्रकरण 
एक लड़के के भविष्य से सम्बंधित है | एक महीने से ज्यादा पुराना प्रकरण 
किन्तु रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठवाराणसी ने अवलोकन करना 
भी उचित नही समझा | क्या यही मोदी का सुशासन है |
With great respect to revered Sir , your applicant invites the kind 
attention of the Hon’ble Sir to the following submissions as follows.
1-It is submitted before the Hon’ble Sir that उच्च शिक्षा केंद्र का विषय
 है और इतनी बड़ी मनमानी और तानाशाही को आप सभी नजर अंदाज कर रहे
 है | यह लड़का भी मोदी सर का बहुत बड़ा भक्त है |
२ -It is submitted before the Hon’ble Sir that आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या  40019717000763
आवेदक कर्ता का नाम:   Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:    7237849131,7237849131               
विषय:  How is it feasible than an examinee may appear in two papers at the same time
Please consider following submissions under article 51 A constitution of India. Your
 applicant’s enrolment number is KA2K17405015126 Vice Chancellor MGKVP University;
Varanasi may take concrete steps in order to provide justice to your
applicant 10 March 2017 19:56
To                                                           
                                                     Vice Chancellor   , MGKVP Varanasi                                                      
                                              and Chancellor of state universities His Excellency                                                                  Government of Uttar Pradesh
Subject-Date of exams of three papers of medieval and modern history coincides with 
corresponding papers of ancient history.
 With due respect your applicant wants to draw the kind attention of the Honble Sir to
 the following submissions as follows. 
1-It is submitted before the Hon’ble Sir that  your applicant is Kuldeep Kumar
Chaudhary SO Rambabu  Chaudhary , College name-405 , KBPG College Mirzapur , Exam
centre – 405 , KBPG College Mirzapur is the student of BA Part (1), Art group appearing in
 the annual exam as private student being conducted by MGKVP University ,Varanasi For
details ,take a glance of attached scanned copy of admit card with this representation 2-It is
submitted before the Hon’ble Sir that please take a glance of revised time table for first year
 students attached with this representation Ipso facto obvious that date of exam of ancient
history first paper is on 19042017 unfortunately date of exam of medieval history first paper
 is also on 19042017 and your applicant is not a Yogi that he may appear in both the exam
 papers at the same instant of time through its Yogic powers 3-It is submitted before the
Hon’ble Sir that Ipso facto obvious that date of exam of ancient history second paper is on
21042017 unfortunately date of exam of medieval history second paper is also on 21042017 
This is humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that It can never be justified to overlook
the rights of citizenry
 by delivering services in arbitrary manner by floating all set up norms This is sheer
mismanagement which is encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and
 depriving poor citizens from right to justice Therefore it is need of hour to take concrete
 steps in order to curb grown anarchy in the system For this your applicant shall ever pray
 you Honble Sir                                                                  Yours  sincerely Kuldeep Kumar
Chaudhary Mobile number -9695657211 , 8545992921, 9598603518 Mohalla-Sabari ,Bhagauti
Chaudhary ke bagal ki gali ,District-Mirzapur
नियत तिथि:    12 – Apr – 2017
शिकायत की स्थिति:     लम्बित
रिमाइंडर :     
फीडबैक :      
आवेदन का संलग्नक    
संलग्नक देखें
 अग्रसारित विवरण-
क्र.स.   सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक   अधिकारी को प्रेषित      आदेश  
आख्या दिनांक   आख्या       नियत दिनांक   स्थिति  आख्या रिपोर्ट
1              अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 13 – Mar – 2017  रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठवाराणसी   —                
   लंबित
३ -It is submitted before the Hon’ble Sir that शिकायत संख्या   
40019717001023 नियत तिथि:     04 – May – 2017 शिकायत की 
स्थिति:  लम्बित  अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ     04 – Apr – 2017    
रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठवाराणसी   —              
लंबित श्री मान जी आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्रों 
को १९ अप्रैल व २१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है 
जो किसी भी तरह विधि सम्मत नही है नियत तिथि: 04 – May – 2017 इस प्रकार 
विश्वविद्यालय के द्वारा लिया गया कोई भी निर्णय १९ अप्रिल के पश्चात 
प्रार्थी के लिए कोई लाभकारी नही होगा |
                                        
आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या  40019717001023
आवेदक कर्ता का नाम:   Kuldeep Kumar Chaudhary
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:    8545992921,8545992921               
विषय:  Honble Sir undoubtedly the raised issue invites the utmost care and due attention of
concerned accountable public functionaries of MGKVP Varanasi Whether this is not reflection
of insolence that they are not considering the gravity of situation that they are playing game
 with the future of a studentशिकायत संख्या 40019717000763               How is it feasible than
an examinee may appear in two papers at the same time Please consider following
submissions under article 51 A constitution of IndiaYour applicants enrolment number is
KA2K17405015126 Vice Chancellor MGKVP University, Varanasi may take concrete steps in
order to provide justice to your applicant2-It is submitted before the Honble Sir that it is
their obligatory duty consider the problem of every student and find an amicable solution
Whether two papers of an examinee should coincide , then why your applicant facing such
difficulty and still concerned accountable public functionaries of MGKVP University Varanasi
 are keeping closed their eye and ears श्री मान जी स्मरण पत्र का कोई असर नही हो रहा है क्या आप
 का कोई सगा सम्बन्धी होता तो भी आप यही करते श्री मान जी पार्थी द्वारा मोटी रकम शुल्क के रूप में
 जमा की गई है जो किसी छात्रवृत्ति से नही प्राप्त हुई है मेरे पिता की गाढ़ी कमाई का है श्री मान जी 
आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्रों को १९ अप्रैल व 
२१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जो किसी भी 
तरह विधि सम्मत नही है अनुरोध है की प्रार्थी के प्रत्यावेदनो को गंभीरता से लिया जाय श्री मान जी प्रार्थी 
का प्रवेश पत्र व टाइम टेबल संलग्न है कृपया अवलोकन करे क्या संगतता है यदि नही तो प्रार्थी कैसे एक ही 
समय में दोनों प्रश्न पत्रों का उत्तर देगा क्या परीक्षा समिति की भूलो के लिए प्रार्थी का भविष्य अंधकारमय 
किया जा सकता है क्या प्रार्थी को न्याय नही मिलेगा कहा है सामाजिक न्याय गरीब और न्याय में इतनी 
दूरी है की वह दूरी सामीप्य में बदल ही नही सकती श्री मान प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करना पड़ सकता
 है यदि परीक्षा समिति यथोचित समय तक निर्णय लेने में विफल रहती है | This is sheer mismanagement
 which is encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving poor citizens
 from right to
 justice Therefore it is need of hour to take concrete steps in order to curb grown anarchy in
 the system For this your applicant shall ever pray you Honble Sir Yours sincerely Kuldeep
Kumar Chaudhary Mobile number -9695657211 , 8545992921, 9598603518 Mohalla-Sabari ,
Bhagauti Chaudhary ke bagal ki gali ,District-Mirzapur
नियत तिथि:    04 – May – 2017
शिकायत की स्थिति:     लम्बित
रिमाइंडर :     
फीडबैक :      
आवेदन का संलग्नक    
संलग्नक देखें
 अग्रसारित विवरण-
क्र.स.   सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक   अधिकारी को प्रेषित      आदेश  
आख्या दिनांक   आख्या       नियत दिनांक   स्थिति  आख्या रिपोर्ट
1              अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 04 – Apr – 2017   रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ,
वाराणसी   —                   लंबित
 This is humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that It 
can never be justified to overlook  the rights of citizenry by 
delivering services in arbitrary manner by floating all set up norms. 
This is sheer mismanagement which is encouraging wrongdoers to 
reap benefit of loopholes in system and depriving poor citizens from 
right to justice. Therefore it is need of hour to take concrete steps 
in order to curb grown anarchy in the system. For this your applicant
 shall ever pray you Hon’ble Sir.
                                          Yours  sincerely
                            Yogi M. P. Singh Mobile number-7379105911
Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road District-Mirzapur 
, Uttar Pradesh ,India .

2 comments on Whether this is not sheer injustice with student of weaker section perpetrated by MGKVP University ,Varanasi

  1. श्री मान जी शिकायत संख्या 40019717000763 नियत तिथि: 12 – Apr – 2017 शिकायत की स्थिति: लम्बित अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 13 – Mar – 2017 रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी — लंबित क्या श्री मान जी इस बात का जवाब दे सकते है की प्रस्तुत प्रकरण अभी तक लंबित क्यों है जब की प्रकरण एक लड़के के भविष्य से सम्बंधित है | एक महीने से ज्यादा पुराना प्रकरण किन्तु रजिस्ट्रार -महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी ने अवलोकन करना भी उचित नही समझा | क्या यही मोदी का सुशासन है |
    With great respect to revered Sir , your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir to the following submissions as follows.
    1-It is submitted before the Hon’ble Sir that उच्च शिक्षा केंद्र का विषय है और इतनी बड़ी मनमानी और तानाशाही को आप सभी नजर अंदाज कर रहे है | यह लड़का भी मोदी सर का बहुत बड़ा भक्त है |

  2. श्री मान जी स्मरण पत्र का कोई असर नही हो रहा है क्या आप का कोई सगा सम्बन्धी होता तो भी आप यही करते | श्री मान जी पार्थी द्वारा मोटी रकम शुल्क के रूप में जमा की गई है जो किसी छात्रवृत्ति से नही प्राप्त हुई है मेरे पिता की गाढ़ी कमाई का है | श्री मान जी आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्रों को १९ अप्रैल व २१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जो किसी भी तरह विधि सम्मत नही है अनुरोध है की प्रार्थी के प्रत्यावेदनो को गंभीरता से लिया जाय | श्री मान जी प्रार्थी का प्रवेश पत्र व टाइम टेबल संलग्न है कृपया अवलोकन करे क्या संगतता है यदि नही तो प्रार्थी कैसे एक ही समय में दोनों प्रश्न पत्रों का उत्तर देगा | क्या परीक्षा समिति की भूलो के लिए प्रार्थी का भविष्य अंधकारमय किया जा सकता है क्या प्रार्थी को न्याय नही मिलेगा | कहा है सामाजिक न्याय | गरीब और न्याय में इतनी दूरी है की वह दूरी सामीप्य में बदल ही नही सकती | श्री मान प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करना पड़ सकता है यदि परीक्षा समिति यथोचित समय तक निर्णय लेने में विफल रहती है

Leave a Reply

%d bloggers like this: