Whether the staffs of municipality belonging to weaker section will retire from the service as work charge employee

  Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com>
Whether
this is not arbitrary action that we poor staffs of municipality have
been made staffs Satyam construction on paper from 2013 while we were
appointed in 1997.

1 message
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> Fri, Mar 25, 2016 at 6:00 PM

To:
pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, supremecourt
<supremecourt@nic.in>, presidentofindia@rb.nic.in, urgent-action
<urgent-action@ohchr.org>, “hgovup@up.nic.in”
<hgovup@up.nic.in>, cmup <cmup@up.nic.in>, csup
<csup@up.nic.in>

श्री मान जी क्या यह मनमानापन नही है कभी हम लोगों को कहते है आप लोग 3-सितम्बर
-1997
से नियुक्त हैं और कभी कहते है कि आप लोग 1-जन वरी-2001 से नियुक्त है |
25 March
2016
15:44
With due respect your appellant wants to draw the kind
attention of the Hon’ble Sir to the following submissions as follows.
1-It is submitted before the Hon’ble Sir that
1-श्री मान जी
आप का पत्र दिनांक
3-मार्च –2016 जिसके
द्वारा आप श्री महेश प्रताप सिंह का
13-फर्वरी-2016 का पत्र आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेशित किया गया है कोई
कार्यवाही नही  किया गया है
|अधिकारी सपा कार्य काल समाप्त होने का इंत जार  कर रहे हैं | उनका
कहना है
2013 में एक बार गवर्न मेंट आप लोगो को हटाने
कि बात करती हैं फिर
2016 में पूछ्ती है कि आप आख्या दी जिए कैसे
आप ने   कार्य् वाही किया हैं
|
2-श्री मान जी
क्या यह मनमानापन नही है कभी हम लोगों को कहते है आप लोग
3-सितम्बर –1997 से नियुक्त हैं और कभी कहते है कि आप
लोग
1-जन वरी-2001 से
नियुक्त है
|
 3-श्री मान जी शिवराम जी यादव  हमारे प्रतिनिधि के रुप आप से मिलने के  लिए 10 मार्च को आप
के ग्रिह जनपद सैफइ गए मान् नीय मुलायम सिंह ने आश्वासन दिए कि आप लोगो से हम
लख्ननऊ में मिलेगे फिर वही से हम लख्ननऊ आगए फिर हम लोगो से पर्ची मागी गयी फिर
आश्वाशन दिया गया  कि आप लोगो से नेता जी
पार्टी कार्यालय पर मिलेंगे
11
मार्च को शाम तक इंत्जार
किए किंतु आप लोगों के पास हम लोगो के लिए
  समय नही है | क्या ऐसे में हम लोगो  का उत्साह
आप को जिता पायेगा
| सभी साथियों में निराशा हैं | अधिकारी कह्ते हैं कि दूसरी सर्कार आएगी तभी सपा सर्कार द्वारा दिया गाया
आदेश वापस हो सकता है क्यो कि कोई सर कार अपने ही आदेश को तो वापस लेगी नही
|
2-It is submitted before the Hon’ble Sir that
माननीय मुलायम सिंह
जी मंच से हम लोगो को आश्वाशन दिए थे की ठेकेदारी प्रथा हम समाप्त कर देंगे किन्तु
अपसोस की बात है की उन्ही की सरकार हम लोगो को कागज पे ठेकेदार का स्टाफ बना दिया
क्या इसी प्रकार अखिलेश सरकार ने सारे वादे पूरे किये
|आज भी हमें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतनमान नहीं
दिया जा रहा है क्या हमारा शोषण नहीं हो रहा हैं प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री 
कार्यालय के पत्रों को ठन्डे बस्ते में दाल दे रहे है
|
3-It is submitted before the Hon’ble Sir that through
aforesaid letter only those contract workers had to be eliminated who were not
appointed by following standard setup norm. Whether all the appointed staffs on
contract basis were not qualified for the post. Whether all the 101 staffs sent
for regularization were appointed illegally. If these staffs are not qualified
,then why they are still taking our services through Satyam construction ( an
imagination of accountable staffs of Municipality Mirzapur on paper).
 This is humble request of your applicant to you Hon’ble Sir
that It can never be justified to overlook  the rights of citizenry by
delivering services in arbitrary manner by floating all set up norms. This is
sheer mismanagement which is encouraging wrongdoers to reap benefit of
loopholes in system and depriving poor citizens from right to justice.
Therefore it is need of hour to take concrete steps in order to curb grown
anarchy in the system. For this your applicant shall ever pray you Hon’ble Sir.
         
               
                                                                   
Yours  sincerely
                                                                         
Shivram Yadav S/O Dukhi Yadav
                                                                             
Naresh Yadav S/O Jaglal
                                                                           
Ram Gopal Prajapati S/O Dukhi Lal
                                                                           
Hariram S/O Doodhnath
                                                                            
Murali Yadav S/O Munnu
                                                                             
Ram Babu S/O Jhallu prajapati
                                                                            
Jeet Lal S/O Doodh nath
                                                                            
Prithvi S/O Late Munni Lal
                                                                             
Parmesh S/O Jadurai
                                                                            
Kamalesh S/O Babu Nandan 


3 attachments
Contract workers of municipality are really its staff obvious from documents..pdf
1116K
Shivram Yadav sought information from PIO ,Principal secretatry, urban development.pdf
858K
Shivram Yadav was made available incomplete misleading information..pdf
2172K

1 comment on Whether the staffs of municipality belonging to weaker section will retire from the service as work charge employee

  1. माननीय मुलायम सिंह जी मंच से हम लोगो को आश्वाशन दिए थे की ठेकेदारी प्रथा हम समाप्त कर देंगे किन्तु अपसोस की बात है की उन्ही की सरकार हम लोगो को कागज पे ठेकेदार का स्टाफ बना दिया क्या इसी प्रकार अखिलेश सरकार ने सारे वादे पूरे किये |आज भी हमें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतनमान नहीं दिया जा रहा है क्या हमारा शोषण नहीं हो रहा हैं प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री कार्यालय के पत्रों को ठन्डे बस्ते में दाल दे रहे है |

Leave a Reply

%d bloggers like this: