Whether MGKVP University Varanasi is a failed university if not why students are so sufferers?

Print

logo जनसुनवाई
समन्वित शिकायत निवारण प्रणाली, उत्तर प्रदेश
सन्दर्भ संख्या:-40019917004280
आवेदनकर्ता का विवरण :
नाम : Ajay Kumar Maurya पिता/पति का नाम : Rajendra Kumar Maurya   लिंग : पुरुष
मोबाइल नंबर-1 : 9125998975 मोबाइल नंबर-2 : 9125998975 ईमेल : yogimpsingh@gmail.com
क्षेत्र : नगरीय प्रदेश : उत्तर प्रदेश जनपद : मिर्ज़ापुर
तहसील : सदर ब्लाक : —- ग्राम पंचायत : —-
थाना : कोतवाली कटरा Address : तहसील-सदर, जिला-मिर्ज़ापुर
शिकायत/सुझाव क्षेत्र की जानकारी :
क्षेत्र : नगरीय प्रदेश : उत्तर प्रदेश जनपद : मिर्ज़ापुर
तहसील : सदर ब्लाक : ग्राम पंचायत : —-
ग्राम : 0 थाना : कोतवाली कटरा
आवेदन का विवरण :
आवेदन पत्र का विवरण : Matter is concerned with the KBPG COLLEGE Mirzapur​ विषय-प्रार्थी को महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय वाराणसी द्वारा गलत एडमिट कार्ड जारी हुआ जिन प्रश्न पत्र में प्रार्थी ने आवेदन नही किया वह प्रश्न पत्र एडमिट कार्ड में दिया गया और उसकी तैयारी भी प्रार्थी द्वारा नही की गयी है और उसमे प्रार्थी के प्राप्तांक संतोषजनक है | श्री मान जी प्रार्थी से निर्धारित शुल्क रूपये ५०० के स्थान पर रूपये ७०० श्रेणी सुधार शुल्क के नाम पर वसूला गया और सुविधा के नाम पर यह तानाशाही है और ऐसी तानाशाही जो प्रार्थी के भविष्य को बर्बाद करने पर तुली है प्रार्थी प्रथम श्रेणी में स्नातक गणित वर्ग में उत्तीर्ण होने वाला छात्र है | इस पत्र के साथ प्रार्थी द्वारा कॉलेज में जमा यूनिवर्सिटी कॉपी व कॉलेज कॉपी तथा स्टूडेंट कॉपी की स्कैन्ड प्रतिया है प्राचार्य द्वारा यूनिवर्सिटी को भेजे पत्र का स्कैन्ड कॉपी लगी है | आप को सरकार तनख्वाह देती है हमारा भविष्य बनाने के लिए या तानाशाही रवैया अपना कर चौपट करने के लिए | अभी भी अपडेट के नाम पर एरर मेसेज डिस्प्ले हो रहा है | यह शायद आप भूल गये है की जिसके साथ अमानवीय अत्याचार होता है उसके साथ इश्वर जरुर खड़े होते है और कभी यदि कोई जांच का आदेश कर दिया तो सभी नपेगे | हमारा भविष्य तो आप लोग बर्बाद करने पर ही तुले है और यह अहंकार प्रभु का भोजन है |क्या आप को नही मालूम है की प्रार्थी दर्जनों पत्र लिख कर आप लोगो से क्या याचना कर रहा है |कुलपति महोदय जिसके अन्दर मानवता होती है वे किसी छात्र के भविष्य को अन्धकारमय नही बनाते है | इमानदारी तो इसी बात में परिलक्षित होती है कुकुरमुत्ते की तरह ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज खुल रहे है और शिक्षा का स्तर आसमान से जमीन पर पहुच गया है तथा परीक्षा में उपस्थित छात्रो अनुपस्थित कर सौदेबाजी की जाती है |श्री मान जी क्या महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ वाराणसी के कुलपति महोदय यह बता सकते है की उनके स्टाफ ने क्या जांच किया क्योकि प्रार्थी द्वारा जमा विश्वविद्यालय कॉपी ,कॉलेज कॉपी और स्टूडेंट कॉपी सभी में प्रार्थी द्वारा गणित द्वितीय और चतुर्थ भरा गया किन्तु आपके अधिनस्थो द्वारा प्रार्थी को गलत एडमिट कार्ड उपलब्ध कराया गया है | एडमिट कार्ड में प्रार्थी को गणित प्रथम व द्वितीय में श्रेणी सुधार परीक्षा में बैठने की अनुमति दी गई है जो की पूर्ण रूप से अन्याय पूर्ण है | प्रार्थी जब गणित चतुर्थ पेपर के लिए आवेदन दिया तो उसके ऊपर गणित प्रथम प्रश्न पत्र क्यों थोपा जा रहा है | क्या उप कुलपति महोदय को हमारे इमानदार प्रधान मंत्री से थोडा भी भय नही लगता है यदि भय है इतनी बड़ी आराजकता क्यों |जनसुनवाई पोर्टल पर डाले गये आवेदनों को भी महत्वहीन बना दिया गया |प्रार्थी द्वारा जमा किये गये श्रेणी सुधार आवेदन में गणित द्वितीय व चतुर्थ भरा है और उसके साथ प्रार्थी का सिगनेचर भी है अर्थात जो हाथ से भरा गया है वही प्रार्थी का मूल आवेदन और ऑथेंटिक भी है | श्री मान जी प्रार्थी गणित के चतुर्थ व द्वितीय प्रश्न पत्र बहुत कम अंक पाया है इसलिए उसी में आवेदन करना चाहता है और वह प्रार्थी के स्तर से इस समय संभव नही है|निस्संदेह प्रार्थी के भविष्य निर्माण में आपका सहयोग अपेक्षित है | श्री मान प्रार्थी का सहयोग करे जिसके लिए प्रार्थी सदैव श्री मान जी का आभारी रहेगा | आपका आज्ञाकारी अजय कुमार मौर्या
सन्दर्भ का प्रकार : शिकायत अधिकारी : जिलाधिकारी विभाग : उच्‍च शिक्षा विभाग
सन्दर्भ श्रेणी : कालेजों द्वारा अवैध वसूली
संलग्नक : है

आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
40019917004280
आवेदक कर्ता का नाम:
Ajay Kumar Maurya
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
9125998975,9125998975
विषय:
Matter is concerned with the KBPG COLLEGE Mirzapur​ विषयप्रार्थी को महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय वाराणसी द्वारा गलत एडमिट कार्ड जारी हुआ जिन प्रश्न पत्र में प्रार्थी ने आवेदन नही किया वह प्रश्न पत्र एडमिट कार्ड में दिया गया और उसकी तैयारी भी प्रार्थी
द्वारा नही की गयी है और उसमे प्रार्थी के प्राप्तांक संतोषजनक है
| श्री मान जी प्रार्थी से निर्धारित शुल्क रूपये ५०० के स्थान पर रूपये ७०० श्रेणी सुधार शुल्क के नाम पर वसूला गया और सुविधा के नाम पर यह तानाशाही है और ऐसी तानाशाही जो प्रार्थी के भविष्य को बर्बाद करने पर तुली है प्रार्थी प्रथम श्रेणी में स्नातक गणित वर्ग में उत्तीर्ण होने वाला छात्र है | इस पत्र के साथ प्रार्थी द्वारा कॉलेज में जमा यूनिवर्सिटी कॉपी कॉलेज कॉपी तथा स्टूडेंट कॉपी की स्कैन्ड प्रतिया है प्राचार्य द्वारा यूनिवर्सिटी को भेजे पत्र का स्कैन्ड कॉपी लगी है | आप को सरकार तनख्वाह देती है हमारा भविष्य बनाने के लिए या तानाशाही रवैया अपना कर चौपट करने के लिए | अभी भी अपडेट के नाम पर एरर मेसेज डिस्प्ले हो रहा है | यह शायद आप भूल गये है की जिसके साथ अमानवीय अत्याचार होता है उसके साथ इश्वर जरुर खड़े होते है और कभी यदि कोई जांच का आदेश कर दिया तो सभी नपेगे | हमारा भविष्य तो आप लोग बर्बाद करने पर ही तुले है और यह अहंकार प्रभु का भोजन है |क्या आप को नही मालूम है की प्रार्थी दर्जनों पत्र लिख कर आप लोगो से क्या याचना कर रहा है |कुलपति महोदय जिसके अन्दर मानवता होती है वे किसी छात्र के भविष्य को अन्धकारमय नही बनाते है | इमानदारी तो इसी बात में परिलक्षित होती है कुकुरमुत्ते की तरह ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज खुल रहे है और शिक्षा का स्तर आसमान
से जमीन पर पहुच गया है तथा परीक्षा में उपस्थित छात्रो अनुपस्थित कर सौदेबाजी
की जाती है
|श्री मान जी क्या महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ वाराणसी के कुलपति महोदय यह बता सकते है की उनके स्टाफ ने क्या जांच किया क्योकि प्रार्थी द्वारा जमा विश्वविद्यालय कॉपी ,कॉलेज कॉपी और स्टूडेंट कॉपी सभी में प्रार्थी द्वारा गणित द्वितीय और चतुर्थ भरा गया किन्तु आपके अधिनस्थो द्वारा प्रार्थी को गलत एडमिट कार्ड उपलब्ध कराया गया है | एडमिट कार्ड में प्रार्थी को गणित प्रथम द्वितीय में श्रेणी सुधार परीक्षा में बैठने की अनुमति दी गई है जो की पूर्ण रूप से अन्याय पूर्ण है | प्रार्थी जब गणित चतुर्थ पेपर के लिए आवेदन दिया तो उसके ऊपर गणित प्रथम प्रश्न पत्र क्यों थोपा जा रहा है | क्या उप कुलपति महोदय को हमारे इमानदार प्रधान मंत्री से थोडा भी भय नही लगता है यदि भय है इतनी बड़ी आराजकता क्यों |जनसुनवाई पोर्टल पर डाले गये आवेदनों को भी महत्वहीन बना दिया गया |प्रार्थी द्वारा जमा किये गये श्रेणी सुधार आवेदन में गणित द्वितीय चतुर्थ भरा है और उसके साथ
प्रार्थी का सिगनेचर भी है अर्थात जो हाथ से भरा गया है वही प्रार्थी का मूल
आवेदन और ऑथेंटिक भी है
| श्री मान जी प्रार्थी गणित के चतुर्थ द्वितीय प्रश्न पत्र बहुत कम अंक पाया है इसलिए उसी में आवेदन करना
चाहता है और वह प्रार्थी के स्तर से इस समय संभव नही है
|निस्संदेह प्रार्थी के भविष्य निर्माण में आपका सहयोग अपेक्षित है | श्री मान प्रार्थी का सहयोग करे जिसके लिए प्रार्थी सदैव श्री मान जी का आभारी रहेगा | आपका आज्ञाकारी अजय कुमार मौर्या
नियत तिथि:
25 – Sep – 2017
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:

आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
नियत दिनांक
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन सन्दर्भ
10 – Sep – 2017
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
लंबित

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh

विषय-प्रार्थी को महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय वाराणसी द्वारा गलत एडमिट कार्ड जारी हुआ जिन प्रश्न पत्र में प्रार्थी ने आवेदन नही किया वह प्रश्न पत्र एडमिट कार्ड में दिया गया और उसकी तैयारी भी प्रार्थी द्वारा नही की गयी है और उसमे प्रार्थी के प्राप्तांक संतोषजनक है | श्री मान जी प्रार्थी से निर्धारित शुल्क रूपये ५०० के स्थान पर रूपये ७०० श्रेणी सुधार शुल्क के नाम पर वसूला गया और सुविधा के नाम पर यह तानाशाही है और ऐसी तानाशाही जो प्रार्थी के भविष्य को बर्बाद करने पर तुली है प्रार्थी प्रथम श्रेणी में स्नातक गणित वर्ग में उत्तीर्ण होने वाला छात्र है | इस पत्र के साथ प्रार्थी द्वारा कॉलेज में जमा यूनिवर्सिटी कॉपी व कॉलेज कॉपी तथा स्टूडेंट कॉपी की स्कैन्ड प्रतिया है प्राचार्य द्वारा यूनिवर्सिटी को भेजे पत्र का स्कैन्ड कॉपी लगी है |

Preeti Singh
3 years ago

प्रार्थी जब गणित चतुर्थ पेपर के लिए आवेदन दिया तो उसके ऊपर गणित प्रथम प्रश्न पत्र क्यों थोपा जा रहा है | क्या उप कुलपति महोदय को हमारे इमानदार प्रधान मंत्री से थोडा भी भय नही लगता है यदि भय है इतनी बड़ी आराजकता क्यों |जनसुनवाई पोर्टल पर डाले गये आवेदनों को भी महत्वहीन बना दिया गया |प्रार्थी द्वारा जमा किये गये श्रेणी सुधार आवेदन में गणित द्वितीय व चतुर्थ भरा है और उसके साथ प्रार्थी का सिगनेचर भी है अर्थात जो हाथ से भरा गया है वही प्रार्थी का मूल आवेदन और ऑथेंटिक भी है | श्री मान जी प्रार्थी गणित के चतुर्थ व द्वितीय प्रश्न पत्र बहुत कम अंक पाया है इसलिए उसी में आवेदन करना चाहता है और वह प्रार्थी के स्तर से इस समय संभव नही है|निस्संदेह प्रार्थी के भविष्य निर्माण में आपका सहयोग अपेक्षित है |

Preeti Singh
3 years ago

नियत तिथि: 25 – Sep – 2017
शिकायत की स्थिति: लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:
आवेदन का संलग्नक
संलग्नक देखें
अग्रसारित विवरण-
क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या नियत दिनांक स्थिति आख्या रिपोर्ट
1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 10 – Sep – 2017 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, — अधीनस्थ को प्रेषित
2 आख्या जिलाधिकारी ( ) 11 – Sep – 2017 मुख्य विकास अधिकारी-मिर्ज़ापुर,ग्राम्‍य विकास विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें लंबित