Whether matter concerned with scholarship is sent to public work department ? Anarchy in Uttar Pradesh

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
60000190022152
आवेदक कर्ता का
नाम:
Yogi M. P. Singh
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
Whether now a days in the government of Uttar Pradesh, matter
concerned with the scholarship is forwarded to public work department ipso
facto obvious from the attached matter concerned with the Priyanshi Dubey
Daughter of Ravindra Kumar Dubey is forwarded to aforementioned public
authority while it was to be forwarded to social welfare department. Now a
days public work department deals with the matter concerned with the
scholarship. Whether it is not mockery of PMO.
नियत तिथि:
29 – May – 2019
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 01/05/2019को फीडबैक:- Registration
Number-PMOIN/R/2019/51596 Name -Yogi M P Singh Date of Filing-11-04-2019 RTI
Fee Received-10 Payment Mode-Internet Banking SBI Reference number -IK00ZYWJG2
Transaction Status-Completed Successfully Request filed with Prime Minister’s
Office Contact Details Telephone Number-23074072 Email
Id-rti-pmo.applications@gov.in Online RTI Request Form Details RTI Request
Registration number -PMOIN/R/2019/51596 Public Authority-Prime Minister’s
Office Personal Details of RTI Applicant:- Name-Yogi M P Singh Gender-Male
Address-Mohalla Surekapuram , Jabalpur Road, Sangmohal post officePincode-231001
Country-India State-Uttar Pradesh Status-Urban Educational Status-Literate
Above Graduate Phone NumberDetails not provided Mobile Number+91-7379105911 Email-IDyogimpsingh[at]gmail[dot]com
Citizenship- Indian Request Details :- Is the Requester Below Poverty Line
?No (Description of Information sought (upto 500 characters) Description of
Information Sought 1-According to attached status-High school roll number of
Priyanshi Dubey not matched with board uploaded data. Please provide
information of uploading different roll number in the uploaded data by CBSE
Board. 2-Page 2 is screen print of online application for scholarship and 3 is
CBSE Board High school result and High school roll number according to both
is 5246932 but social welfare department considering it suspect entry. Please
provide the reason. Concerned CPIO Nodal Officer Supporting document (only
pdf upto 1 MB)
फीडबैक की स्थिति:
फीडबैक
प्राप्त

आवेदन
का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग – 2( मुख्यमंत्री कार्यालय )
29 – Apr – 2019
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव समाज कल्‍याण विभाग
कृपया
शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
01/05/2019
अनुमोदित
निस्तारित
2
अंतरित
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव (समाज कल्‍याण विभाग )
30 – Apr – 2019
निदेशक समाज कल्याण
नियमनुसार
आवश्यक कार्यवाही करें
01/05/2019
अनुमोदित
निस्तारित
3
अंतरित
निदेशक (समाज कल्याण )
30 – Apr – 2019
जिला समाज कल्याण अधिकारीमिर्ज़ापुर,समाज कल्‍याण विभाग
नियमनुसार
आवश्यक कार्यवाही करें
01/05/2019
छात्रवृत्ति
योजनान्तर्गत करेन्ट स्टेटस ऑनलाइन देखकर छात्रवृत्तिशुल्कप्रतिपूर्ति की जानकारी प्राप्त कर लें।
निस्तारित

Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com>
क्या यही सुशासन है जैसा की दावा किया जा रहा बड़े बड़े लोगो द्वारा जहा किसी को न्याय नही मिलता सिर्फ अनियमितता ही अनियमितता है |
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> 20 February 2019 at 02:16

To: pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, presidentofindia@rb.nic.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, cmup <cmup@up.nic.in>, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko <uphrclko@yahoo.co.in>, lokayukta@hotmail.com

Whether now a days in the government of Uttar Pradesh, matter concerned with the scholarship is forwarded to public work department ipso facto obvious from the attached matter concerned with the Priyanshi Dubey Daughter of Ravindra Kumar Dubey is forwarded to aforementioned public authority while it was to be forwarded to social welfare department. Now a days public work department deals with the matter concerned with the scholarship. Whether it is not mockery of PMO.
आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
60000190018517
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
यह सच है की उत्तर प्रदश सरकार किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाही करती ही नही है सिर्फ जनसुनवाई पोर्टल पर डाल कर लिख देंगे प्रक्रिया में है और सामने वाला सोचता है की प्रक्रिया में है किन्तु उनके लिए यह समय विताने का सब से अच्छा साधन तरीका है प्रदेश सरकार की कार्यशैली इतनी ख़राब है की जनता में आक्रोश व्याप्त है जिसका असर २०१९ के संसदीय चुनाव में देखने को मिलेगा Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows. 1-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that नियत तिथि:प्रक्रिया में है शिकायत की स्थिति:लम्बित दिसम्बर २०१८ के शिकायत की यही स्थित है तीन शिकायते किन्तु एक भी सम्बंधित के यहा नही पहुची है क्यों की मुख्यमंत्री कार्यालय नही चाहता की किसी की कोई समस्या हल हो आवेदन का विवरण, शिकायत संख्या-60000180132032, आवेदक कर्ता का नाम:Yogi M. P. Singh, आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:7379105911 नियत तिथि:-प्रक्रिया में है, शिकायत की स्थिति:-लम्बित 2-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that इसमें स्पस्ट तौर पर उल्लेख है की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है परन्तु यह जानते हुए की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है तो मुख्य सचिव को अग्रसारित करना चाहिए था for registration number : PMOPG/E/2018/0586688 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M P Singh,Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Prime Ministers Office 3-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that सभी जानते है की उत्तर प्रदेश सरकार कोई कार्यवाही नही करती है इस लिए इस शिकायत पर अपने अधीनस्थो का पूर्ण ख्याल रखा है इसलिए तो अभी तक प्रक्रिया में है Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2018/14608 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M. P. Singh, Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Uttar Pradesh
नियत तिथि:
20 – Mar – 2019
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग – 1(मुख्यमंत्री कार्यालय )
18 – Feb – 2019
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव लोक निर्माण विभाग
कृपया शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
अधीनस्थ को प्रेषित
2
अंतरित
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव (लोक निर्माण विभाग )
19 – Feb – 2019
प्रमुख अभियन्ता लोक निर्माण विभाग
कृपया शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
अनमार्क

On Sat, 16 Feb 2019 at 02:19, Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> wrote:
श्री मान जी गरीब छात्रो व छात्राओं को वजीफा से वंचित करना अर्थात उनको शिक्षा से वंचित करना है |प्रधान मंत्री कार्यालय सन्दर्भ के पत्रों को जब खुद मुख्यमंत्री कार्यालय गंभीरता से नही ले रहा है तो देश की जनता श्री मान प्रधान मंत्री सर को कितनी गंभीरता से लेगा यह तो २०१९ का चुनाव स्पस्ट कर देगा |
श्री मान जी प्रस्तुत प्रकरण को प्रधान मंत्री कार्यालय द्वारा मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन को भेजा गया |
Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2019/0076211
Grievance Concerns To, Name Of ComplainantYogi M P Singh
Date of Receipt08/02/2019
Received By Ministry/DepartmentPrime Ministers Office
Grievance Description
यह सच है की उत्तर प्रदश सरकार किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाही करती ही नही है सिर्फ जनसुनवाई पोर्टल पर डाल कर लिख देंगे प्रक्रिया में है और सामने वाला सोचता है की प्रक्रिया में है किन्तु उनके लिए यह समय विताने का सब से अच्छा साधन व तरीका है प्रदेश सरकार की कार्यशैली इतनी ख़राब है की जनता में आक्रोश व्याप्त है जिसका असर २०१९ के संसदीय चुनाव में देखने को मिलेगा Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows. 1-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that नियत तिथि:प्रक्रिया में है शिकायत की स्थिति:लम्बित दिसम्बर २०१८ के शिकायत की यही स्थित है तीन शिकायते किन्तु एक भी सम्बंधित के यहा नही पहुची है क्यों की मुख्यमंत्री कार्यालय नही चाहता की किसी की कोई समस्या हल हो आवेदन का विवरण, शिकायत संख्या-60000180132032, आवेदक कर्ता का नाम:Yogi M. P. Singh, आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:7379105911 नियत तिथि:-प्रक्रिया में है, शिकायत की स्थिति:-लम्बित 2-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that इसमें स्पस्ट तौर पर उल्लेख है की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है परन्तु यह जानते हुए की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है तो मुख्य सचिव को अग्रसारित करना चाहिए था for registration number : PMOPG/E/2018/0586688 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M P Singh,Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Prime Ministers Office 3-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that सभी जानते है की उत्तर प्रदेश सरकार कोई कार्यवाही नही करती है इस लिए इस शिकायत पर अपने अधीनस्थो का पूर्ण ख्याल रखा है इसलिए तो अभी तक प्रक्रिया में है Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2018/14608 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M. P. Singh, Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Uttar Pradesh
Grievance Document
Current StatusUnder process, Date of Action08/02/2019
RemarksSend Through Web Service, Officer Concerns To
Officer NameShri Kalyan Banerji, Officer DesignationUnder Secretary
Contact AddressChief Minister Secretariat U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address, Contact Number05222215127

From< https://pgportal.gov.in/Status/Detail
श्री मान जी उपरोक्त प्रकरण को मुख्य मंत्री कार्यालय ने लापरवाही से लिया और आज तक मुख्य मंत्री कार्यालय ने कोई कार्यवाही नही की जैसा की निम्न से स्पस्ट है |

आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
60000190018517
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
यह सच है की उत्तर प्रदश सरकार किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाही करती ही नही है सिर्फ जनसुनवाई पोर्टल पर डाल कर लिख देंगे प्रक्रिया में है और सामने वाला सोचता है की प्रक्रिया में है किन्तु उनके लिए यह समय विताने का सब से अच्छा साधन व तरीका है प्रदेश सरकार की कार्यशैली इतनी ख़राब है की जनता में आक्रोश व्याप्त है जिसका असर २०१९ के संसदीय चुनाव में देखने को मिलेगा Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows. 1-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that नियत तिथि:प्रक्रिया में है शिकायत की स्थिति:लम्बित दिसम्बर २०१८ के शिकायत की यही स्थित है तीन शिकायते किन्तु एक भी सम्बंधित के यहा नही पहुची है क्यों की मुख्यमंत्री कार्यालय नही चाहता की किसी की कोई समस्या हल हो आवेदन का विवरण, शिकायत संख्या-60000180132032, आवेदक कर्ता का नाम:Yogi M. P. Singh, आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:7379105911 नियत तिथि:-प्रक्रिया में है, शिकायत की स्थिति:-लम्बित 2-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that इसमें स्पस्ट तौर पर उल्लेख है की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है परन्तु यह जानते हुए की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है तो मुख्य सचिव को अग्रसारित करना चाहिए था for registration number : PMOPG/E/2018/0586688 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M P Singh,Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Prime Ministers Office 3-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that सभी जानते है की उत्तर प्रदेश सरकार कोई कार्यवाही नही करती है इस लिए इस शिकायत पर अपने अधीनस्थो का पूर्ण ख्याल रखा है इसलिए तो अभी तक प्रक्रिया में है Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2018/14608 Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M. P. Singh, Date of Receipt-26/12/2018 Received By Ministry/Department-Uttar Pradesh
नियत तिथि:
प्रक्रिया में है
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:
आवेदन का संलग्नक
 श्री मान जी प्रियांशी दुबे का प्रस्तुत प्रकरण यह है श्री मान जी प्रार्थिनी द्वारा समस्त प्रविष्टियों शुद्ध भरे जाने की बात कही गयी है और वह शुद्ध है भी |श्री मान जी जब ऑनलाइन भरी समस्त प्रविष्टिया शुद्ध है तो डाटा का संदिग्ध होना सिर्फ इनके कुटिल दिमाग की उपज मात्र है |श्री मान जी खुद प्रधान मंत्री कार्यालय को निम्न शिकायत के माध्यम से समस्त दस्तावेजो को उपलब्ध करा दिया गया है जो की २६/१२/२०१८ को कल्याण बनर्जी को उपलब्ध करा दिया गया है अर्थात २० दिन से भी पहले जैसा की समाज कल्याण अधिकारी द्वारा कहा जा रहा है संस्था ने नही उपलब्ध कराया उसके लिए संस्था जिम्मेदार है छात्रा नही जिम्मेदार है |
Grievance Document Current Status Grievance received, Date of Action-26/12/2018, Officer Concerns To, Forwarded to Uttar Pradesh, Officer Name-Shri Kalyan Banerji, Officer Designation-Under Secretary
Contact Address-Chief Minister Secretariat U.P. Secretariat, Lucknow
आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
40019919006566
आवेदक कर्ता का नाम:
Priyanshi Dubey
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7388002308,7388002308
विषय:
श्री मान जी प्रार्थी द्वारा भरी गई समस्त प्रविस्टिया शुद्ध है इसके बावजूद समाज कल्याण विभाग छात्रवृत्ति नही देना चाहता है |इसकी जांच कराइ जाय |
नियत तिथि:
23 – Feb – 2019
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन सन्दर्भ
08 – Feb – 2019
जिला समाज कल्याण अधिकारीमिर्ज़ापुर,समाज कल्‍याण विभाग
14/02/2019
छात्रा द्वारा छात्रवृत्ति हेतु किया गया आनलाइन आवेदन रजिस्टेशन क्रमांक 690080501800671 ,UP board High School Roll No not matched with UP Board Database/Board type Other Than UP Board में चिन्हित है। दशमोत्तर छात्रवृत्ति हेतु जारी समयसारिणी में जिन छात्रछात्राओं द्वारा यू0पी0 बोर्ड से इतर अन्य बोर्ड से हाईस्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण की है। उन छात्रछात्राओं को अपने छात्रवृत्ति आवेदनपत्र की प्रतिहाईस्कूल रिजल्ट की छायाप्रति के साथ सम्बन्धित शिक्ष्ण संस्थान के माध्यम से अधोहस्ताक्षरी कार्यालय में दिनांक 17-01-2019 तक उपलब्ध करायेंगे। छात्र का आवेदनपत्र छात्र द्वारासम्बन्धित शिक्ष्ण संस्थान द्वारा अधोहस्ताक्षरी कार्यालय में समयान्तर्गत उपलब्ध नहीं कराया गया हैजिसके फलस्वरूप छात्रवृत्तिशुल्क प्रतिपूर्ति का भुगतान देय नहीं है।
निस्तारित

जब प्रविष्टिया  गलत ही नही थी तो शुद्ध कराना महज एक आडम्बर था एक ऐसा भ्रष्ट ट्रिक जिसके सहायता से हजारो छात्रों को और छात्राओं को छात्रवृत्ति से वंचित किया गया | समस्त डाक्यूमेंट्स चेक शुरू में किये  गये और  शुद्ध पाए गये तभी तो संस्था द्वारा अग्रसारित किया गया |प्रथम बार कुछ त्रुटिया मिलने पर संस्था द्वारा पुनः रजिस्ट्रेशन करा के फॉर्म भरवाया गया | इस बात की जांच होनी चाहिए क्यों  समाज कल्याण अधिकारी शुद्ध प्रविष्टियों को संदिग्ध बता रहे है |यहा तो अपात्रो को वजीफा दिया जा रहा है पात्र छात्रो को कुटिल तरीके से वंचित किया जा रहा है जो की पूर्ण रूपेड़ अस्म्बैधानिक है जिसके लिए समाज कल्याण अधिकारी पूर्ण रूपेड़ जिम्मेदार है |

On Thu, 7 Feb 2019 at 12:56, Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> wrote:
यह सच है की उत्तर प्रदश सरकार किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाही करती ही नही है सिर्फ जनसुनवाई पोर्टल पर डाल कर लिख देंगे प्रक्रिया में है और सामने वाला सोचता है की प्रक्रिया में है किन्तु उनके लिए यह समय विताने का सब से अच्छा साधन व तरीका है |प्रदेश सरकार की कार्यशैली इतनी ख़राब है की जनता में आक्रोश व्याप्त है जिसका असर २०१९ के संसदीय चुनाव में देखने को मिलेगा |
Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows.
 1-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that नियत तिथि:प्रक्रिया में है  शिकायत की स्थिति:लम्बित दिसम्बर २०१८ के शिकायत की यही स्थित है |  तीन शिकायते किन्तु एक भी सम्बंधित के यहा नही पहुची है क्यों की मुख्यमंत्री कार्यालय नही चाहता की किसी की कोई समस्या हल हो |
आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
60000180132032
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi M. P. Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
Whether girls students can be subjected to repeated mental and physical torture through arbitrary actions by public functionaries concerned. The scholarship is provided to students by the government to poor and vulnerable section of society but staffs of the government always create obstacles and deprive the entitled students of the right to public aids. The attached grievance is one of such examples. An application under article 51 A of the constitution of India to make enquiry in regard to unfair dealings of the staffs of the social welfare department of the government of Uttar Pradesh. Subject Why the data submitted for online application for the scholarship of Priyanshi Dubey was made suspense arbitrarily while every entry made in the application is correct The matter is concerned with the Priyanshi Dubey D/O Ravindra Kumar Dubey Registration number-690080501800671 Name of the student: PRIYANSHI DUBEY Name of the father: RAVINDRA KUMAR Dubey Name of the mother: REKHA DUBEY, Religion: Hindu Date of Birth: 22/10/1997, Gender: FEMALE If it is claimed by the concerned public functionaries that entire students of CBSE Board are facing such arbitrary action, then they are wrong in the case of Satyam Gupta. His status of the application submitted for the scholarship is attached to this representation which ipso facto indicates that he was not subjected to arbitrary action by the department of social welfare department Mirzapur.
नियत तिथि:
प्रक्रिया में है
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
प्राप्त अनुस्मारक –
क्र..
अनुस्मारक
प्राप्त दिनांक
1
Grievance Concerns To Name Of Complainant-Yogi M P Singh Date of Receipt-26122018 Received By MinistryDepartment-Prime Ministers OfficeGrievance Document Current Status-Case closed Date of Action-10012019 Remarks-Pertains to Department of Education, Government of Uttar Pradesh Rating, Rating Remarks Every one knows that Higher education is the central subject only the officers who redress the grievances addressed to prime minister do not know such things Whether justice is available to girls students in the regime of great Prime Minister Mr Nrendra Modi Sir if not why Why is he not showing his cryptic approach to welfare of the Girls in this largest democracy in the world which not only widely supported him to be prime minister of this largest democracy in the world but also made yogi Adity nath as chief minister of this largest state because assurances of Prime minister which is proving to be hollow Now concerned officers are writing matter is concerned with the government of Uttar Pradesh then here this question arises that whom government is installed in the Uttar Pradesh Mr Narendra Modi was the star campaigner in the state during the assembly elections and who assured the good governance and now vulnerable section is deprived of its rights why is he silent
07 Feb 2019
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:
आवेदन का संलग्नक

From< http://www.jansunwai.up.nic.in/TrackGraviancePopup.aspx?complainno=60000180132032&MOBNO=7379105911&IsOldNew=N&Type=2>

  2-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that इसमें स्पस्ट तौर पर उल्लेख है की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है परन्तु यह जानते हुए की मामला उत्तर प्रदेश सरकार से सम्बंधित है तो मुख्य सचिव को अग्रसारित करना चाहिए था |                                                                         for registration number : PMOPG/E/2018/0586688
Grievance Concerns To
Name Of Complainant-Yogi M P Singh,Date of Receipt-26/12/2018
Received By Ministry/Department-Prime Ministers Office
Grievance Description
Whether girls students can be subjected to repeated mental and physical torture through arbitrary actions by public functionaries concerned. The scholarship is provided to students by the government to poor and vulnerable section of society but staffs of the government always create obstacles and deprive the entitled students of the right to public aids. The attached grievance is one of such examples. An application under article 51 A of the constitution of India to make enquiry in regard to unfair dealings of the staffs of the social welfare department of the government of Uttar Pradesh. Subject Why the data submitted for online application for the scholarship of Priyanshi Dubey was made suspense arbitrarily while every entry made in the application is correct The matter is concerned with the Priyanshi Dubey D/O Ravindra Kumar Dubey Registration number-690080501800671 Name of the student: PRIYANSHI DUBEY Name of the father: RAVINDRA KUMAR Dubey Name of the mother: REKHA DUBEY, Religion: Hindu Date of Birth: 22/10/1997, Gender: FEMALE If it is claimed by the concerned public functionaries that entire students of CBSE Board are facing such arbitrary action, then they are wrong in the case of Satyam Gupta. His status of the application submitted for the scholarship is attached to this representation which ipso facto indicates that he was not subjected to arbitrary action by the department of social welfare department Mirzapur.
Grievance Document
Current Status
Grievance Received, Date of Action-26/12/2018
Officer Concerns To, Forwarded to-Prime Ministers Office
Officer Name-Shri Ambuj Sharma, Officer Designation-Under Secretary (Public)
Contact Address-Public Wing 5th Floor, Rail Bhawan New Delhi
Email Address-ambuj.sharma38@nic.in
Contact Number-011-23386447
 3-It is to be submitted before the Hon’ble Sir that  सभी जानते है की उत्तर प्रदेश सरकार कोई कार्यवाही नही करती है इस लिए इस शिकायत पर अपने अधीनस्थो का पूर्ण ख्याल रखा है इसलिए तो अभी तक प्रक्रिया में है |
Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2018/14608
Grievance Concerns To
Name Of Complainant-Yogi M. P. Singh, Date of Receipt-26/12/2018
Received By Ministry/Department-Uttar Pradesh
Grievance Description
Whether girls students can be subjected to repeated mental and physical torture through arbitrary actions by public functionaries concerned. The scholarship is provided to students by the government to poor and vulnerable section of society but staffs of the government always create obstacles and deprive the entitled students of the right to public aids. The attached grievance is one of such examples. 
An application under article 51 A of the constitution of India to make enquiry in regard to unfair dealings of the staffs of the social welfare department of the government of Uttar Pradesh.
Subject Why the data submitted for online application for the scholarship of Priyanshi Dubey was made suspense arbitrarily while every entry made in the application is correct
The matter is concerned with the Priyanshi Dubey D/O Ravindra Kumar Dubey Registration number-690080501800671
Name of the student: PRIYANSHI DUBEY
Name of the father: RAVINDRA KUMAR Dubey Name of the mother: REKHA DUBEY, Religion: Hindu
Date of Birth: 22/10/1997, Gender: FEMALE
If it is claimed by the concerned public functionaries that entire students of CBSE Board are facing such arbitrary action, then they are wrong in the case of Satyam Gupta. His status of the application submitted for the scholarship is attached to this representation which ipso facto indicates that he was not subjected to arbitrary action by the department of social welfare department Mirzapur.
Grievance Document Current Status
Grievance received, Date of Action-26/12/2018, Officer Concerns To, Forwarded to Uttar Pradesh, Officer Name-Shri Kalyan Banerji, Officer Designation-Under Secretary
Contact Address-Chief Minister Secretariat U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address, Contact Number-05222215127
                            This is a humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in an arbitrary manner by making the mockery of law of land? There is need of the hour to take harsh steps against the wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray you, Hon’ble Sir.                Yours sincerely
·         Date-07-02-2019              Yogi M. P. Singh, Mobile number-7379105911, Mohalla- Surekapuram, Jabalpur Road, District-Mirzapur, Uttar Pradesh, Pin code-231001.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

यह सच है की उत्तर प्रदश सरकार किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाही करती ही नही है सिर्फ जनसुनवाई पोर्टल पर डाल कर लिख देंगे प्रक्रिया में है और सामने वाला सोचता है की प्रक्रिया में है किन्तु उनके लिए यह समय विताने का सब से अच्छा साधन व तरीका है |प्रदेश सरकार की कार्यशैली इतनी ख़राब है की जनता में आक्रोश व्याप्त है जिसका असर २०१९ के संसदीय चुनाव में देखने को मिलेगा |

Arun Pratap Singh
1 year ago

जिस जिलाधिकारी को खुद ही यह नही मालुम की वह अनुमोदन क्या कर रहा है उसके अनुमोदन का क्या महत्व और रही बात आख्या की तो वह खुल ही नही रही है | यह पर प्रश्न इस बात का है की जब छात्र /छात्रा द्वारा कोई गलती ही नही किया गया तो उनका डाटा संदिग्ध क्यो किया गया | क्या जो कमीशनखोरी जिलाधिकारी महोदय अप्रभावित है उनसे न्याय की अपेक्षा कैसे हो सकती है |
फीडबैक की स्थिति: जिलाधिकारी द्वारा दिनाक 22/05/2019 को फीडबैक पर कार्यवाही अनुमोदित कर दी गयी है

Beerbhadra Singh
1 year ago

Undoubtedly excellent display was made of the electronic voting machine by the youth scientist Lalit and surprised us now many are expressing its apprehension in regard to the democratic values in this largest democracy in the world. Our motive is to build up a stronger democracy which is feasible when entire country men will support us but such rigging pole will never provide us any constructive result.