Whether it is good governance where transfer is a tool to earn black money?

Grievance
Status for registration number : PMOPG/E/2019/0110022

Grievance Concerns To

Name Of Complainant –Yogi M P Singh, Date of Receipt –23/02/2019

Received By Ministry/Department –Prime
Ministers Office

Grievance Description

सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है श्री मान जी भ्रस्टाचार की भी एक सीमा होती है किन्तु यहा तो उस सीमा को
भी लोग लाघ चुके है श्री मान जी आप के जिला पंचायत राज अधिकारी ने प्रार्थी को
सूचित रमेश उपाध्याय सहायक विकास अधिकारी को दिनांक २७
/०६/२०१७ को कार्यमुक्त कर दिया गया श्री मान
जी लगभग दो वर्ष बीतने वाले है श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी मिर्ज़ापुर के
पत्रांक ११३४ दिनांक
०१/०७/२०१७ जो की पत्र के साथ संलग्न है का संज्ञान ले उपरोक्त पत्र प्रार्थी को
संबोधित है श्री मान जी सरकारी तंत्र में तो सही काम का पैसा लगता है है फिर
स्थानान्तरण रोकना बिना घुस के तो संभव हुआ नहीं फिर किस बात की इमानदारी सिर्फ
चेहरे बदले है कार्यशैली और भी बदतर हुई है श्री मान जी अब निदेशक पंचायती राज के
उस आदेश का अवलोकन करे जिसके द्वारा ए
. डी. . पंचायत रमेश उपाध्याय का स्थानानतरण जनपद
मिर्जापूर से जनपद
गाजीपुर किया गया उपरोक्त आदेश दिनांक २७/०६/२०१७ कुछ इस प्रकार है श्री मान जी अब आप
अमर उजाला हिंदी दैनिक के आज के अंक की कटिंग देखे जो चीख चीख कर कह रहा है की
सहायक विकास अधिकारी का कही स्थानांतरण नहीं हुआ है अभी भी वह मिर्ज़ापुर जनपद के
हालिया ब्लाक में तैनात है और उत्तर प्रदेश शासन के स्थानांतरण नीति का मखौल उड़ा
रहे है श्री मान जी मैं मानता हु की जिलाधिकारी कार्यालय की कोई गरिमा नहीं है
निदेशक पंचायती राज पद भ्रस्टाचार की वजह से नपुंशक बन चुकाकिन्तु मेरा तो ख्याल
किया जाता क्यों की वह पत्र मुझे संबोधित था श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी
ने जुलाई २०१७ को ही सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय को कार्यमुक्त कर दिया है
तो वह यहा क्या कर रहे है उनका तबादला किसके आदेश से रोका गया और मामले में कितनी
घुसखोरी हुई है इसकी जांच कराई जाय २३
/०२/२०१९ प्रार्थी योगी एम् . पी . सिंह

Grievance Document

Current Status

Case
closed

Date of Action –08/03/2019

Remarks

Your
Case does not falls under the purview of this Ministry. The same has been
forwarded to the concerned State Government of Uttar Pradesh for taking
necessary action. A copy of the forwarding letter is attached. You are kindly
requested to follow up the matter with them.

Reply Document

Officer Concerns To Officer Name –Shri Kalyan Banerji

Officer Designation –Under Secretary

Contact Address –Chief Minister Secretariat
U.P. Secretariat, Lucknow

Email Address , Contact Number –05222215127

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है श्री मान जी भ्रस्टाचार की भी एक सीमा होती है किन्तु यहा तो उस सीमा को भी लोग लाघ चुके है श्री मान जी आप के जिला पंचायत राज अधिकारी ने प्रार्थी को सूचित रमेश उपाध्याय सहायक विकास अधिकारी को दिनांक २७/०६/२०१७ को कार्यमुक्त कर दिया गया श्री मान जी लगभग दो वर्ष बीतने वाले है श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी मिर्ज़ापुर के पत्रांक ११३४ दिनांक -०१/०७/२०१७ जो की पत्र के साथ संलग्न है का संज्ञान ले उपरोक्त पत्र प्रार्थी को संबोधित है

Beerbhadra Singh
1 year ago

Undoubtedly matter is concerned with the serious irregularities but it is unfortunate that the government of Uttar Pradesh is adopting a lackadaisical approach in the matter which is concerned with the deep rooted corruption and violation of government transfer policy but it seems that these wrongdoers have the blessings of the political Masters so action is not taken against them but it is not beneficial to the healthy democracy. Here this question arises that why concerned public functionaries informed the applicant that Ramesh Upadhyay has been transferred to the Ghazipur district two years ago even when he is posted in the same Haliya black at this time whether it is not disobedience of the government policy concerned with the transfer of the public staff.

Preeti Singh
1 year ago

Your Case does not falls under the purview of this Ministry. The same has been forwarded to the concerned State Government of Uttar Pradesh for taking necessary action.
The need of the hour is to take on line, government of Uttar Pradesh as there is sheer anarchy in its working.