Ramesh Upadhyay remained posted in Mirzapur more than 15 years after one years again posted in MZP

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
60000190027147
आवेदक कर्ता का
नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को
हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है श्री मान जी भ्रस्टाचार की भी
एक सीमा होती है किन्तु यहा तो उस सीमा को भी लोग लाघ चुके है श्री मान जी आप के
जिला पंचायत राज अधिकारी ने प्रार्थी को सूचित रमेश उपाध्याय सहायक विकास
अधिकारी को दिनांक २७
/०६/२०१७ को कार्यमुक्त कर दिया गया
श्री मान जी लगभग दो वर्ष बीतने वाले है श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी
मिर्ज़ापुर के पत्रांक ११३४ दिनांक
०१/०७/२०१७ जो की पत्र के साथ संलग्न
है का संज्ञान ले उपरोक्त पत्र प्रार्थी को संबोधित है श्री मान जी सरकारी तंत्र
में तो सही काम का पैसा लगता है है फिर स्थानान्तरण रोकना बिना घुस के तो संभव
हुआ नहीं फिर किस बात की इमानदारी सिर्फ चेहरे बदले है कार्यशैली और भी बदतर हुई
है श्री मान जी अब निदेशक पंचायती राज के उस आदेश का अवलोकन करे जिसके द्वारा ए
. डी. . पंचायत रमेश उपाध्याय का स्थानानतरण जनपद मिर्जापूर से जनपद गाजीपुर किया गया उपरोक्त आदेश
दिनांक २७
/०६/२०१७ कुछ इस प्रकार है श्री मान
जी अब आप अमर उजाला हिंदी दैनिक के आज के अंक की कटिंग देखे जो चीख चीख कर कह
रहा है की सहायक विकास अधिकारी का कही स्थानांतरण नहीं हुआ है अभी भी वह
मिर्ज़ापुर जनपद के हालिया ब्लाक में तैनात है और उत्तर प्रदेश शासन के
स्थानांतरण नीति का मखौल उड़ा रहे है श्री मान जी मैं मानता हु की जिलाधिकारी
कार्यालय की कोई गरिमा नहीं है निदेशक पंचायती राज पद भ्रस्टाचार की वजह से
नपुंशक बन चुकाकिन्तु मेरा तो ख्याल किया जाता क्यों की वह पत्र मुझे संबोधित था
श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी ने जुलाई २०१७ को ही सहायक विकास अधिकारी
रमेश उपाध्याय को कार्यमुक्त कर दिया है तो वह यहा क्या कर रहे है उनका तबादला
किसके आदेश से रोका गया और मामले में कितनी घुसखोरी हुई है इसकी जांच कराई जाय २३
/०२/२०१९ प्रार्थी योगी एम् . पी . सिंह
नियत तिथि:
12 – Apr – 2019
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 01/05/2019को फीडबैक:- शिकायत निस्तारण की
नियत तिथि १२ अप्रैल २०१९ थी
और आज
एक मई
२०१९ है
देरी का
कारण स्पस्ट करे | सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर
रहे है
| शिकायत संख्या-60000190027147 आवेदक कर्ता का
नाम:-Yogi M P Singh निदेशक पंचायती राज के परिपत्र आदेश संख्या -2/1388/2018-2/33/2018
दिनांक 30 मई 2018 को रद्द करते हुए निदेशक पंचायती राज के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही किया जाय | महोदय क्या निदेशक पंचायती राज की इमानदारी आपको दृष्टि गोचर हो
रही है
इस मामले में यदि ऐसी इमानदारी योगी आदित्यनाथ की सरकार में है
जिनका स्थानांतरण नीति सिर्फ पैसा कमाने का जरिया मात्र है
तो ऐसी स्थान्तरण नीति से नतो देश का
भला हो
सकता है
और नही रियाया का
| योगी आदित्यनाथ सत्य ह्रदय भले मानष है
जिसका दुरुपयोग नौकरशाही खुले मन से
कर रही है |राष्ट्रहित
के कार्य राष्ट्रहित में सहायक हो
सकते है
और वही सच्चा राष्ट्रवाद है जिससे राष्ट्र मजबूत हो |योगी जी के स्थानांतरण नीति का
उद्देश्य तो
योगी जी
को मालूम ही होगा और इस
केस में जो कुछ हुआ है
वह स्थानांतरण नीति के
बलात्कार या
चीर हरण से कम
नही है
| किन्तु निदेशक स्तर के कर्मचारी के विरुद्ध योगी सरकार कार्यवाही की
हिम्मत नही रखती है
|
फीडबैक की स्थिति:
फीडबैक
प्राप्त

आवेदन
का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग – 1( मुख्यमंत्री कार्यालय )
13 – Mar – 2019
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
कृपया
शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
30/04/2019
निस्तारित
2
आख्या
जिलाधिकारी ( )
14 – Mar – 2019
जिला पंचायत राज अधिकारीमिर्ज़ापुर,पंचायती राज विभाग
नियमनुसार
आवश्यक कार्यवाही करें
30/04/2019
refer to attach file(उक्त शिकायत के
समभंद में अवगत कराना है की
रमेश चन्द्र उपाध्याय का
थानांतरण मिर्ज़ापुर में किया गया है
)
निस्तारित

Pasted
from <http://www.jansunwai.up.nic.in/TrackGraviancePopup.aspx?complainno=60000190027147&MOBNO=7379105911&IsOldNew=N&Type=2>

Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com>
सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है |
1 message
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> 23 February 2019 at 12:45

To: pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, presidentofindia@rb.nic.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, cmup <cmup@up.nic.in>, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko <uphrclko@yahoo.co.in>, lokayukta@hotmail.com


श्री मान जी भ्रस्टाचार की भी एक सीमा होती है किन्तु यहा तो उस सीमा को भी लोग लाघ चुके है |श्री मान जी आप के जिला पंचायत राज अधिकारी ने प्रार्थी को सूचित रमेश उपाध्याय सहायक विकास अधिकारी को दिनांक २७/०६/२०१७ को कार्यमुक्त कर दिया गया | श्री मान जी लगभग दो वर्ष बीतने वाले है |श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी मिर्ज़ापुर के पत्रांक ११३४  दिनांक -०१/०७/२०१७ जो की पत्र के साथ संलग्न है का संज्ञान ले | उपरोक्त पत्र प्रार्थी को संबोधित है |श्री मान जी सरकारी तंत्र में तो सही काम का पैसा लगता है है फिर स्थानान्तरण रोकना बिना घुस के तो संभव हुआ नहीं फिर किस बात की इमानदारी | सिर्फ चेहरे बदले है कार्यशैली और भी  बदतर हुई है |
आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
40019917001705
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,7379105911
विषय:
Subject-In regard to posting of ADO Panchayat, Ramesh Upadhyay posted in Development block-Chhanbey, District-Mirzapur, Uttar Pradesh since more than 15 years Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows 1-It is submitted before the Hon’ble Sir that after carrying out a major reshuffle in the state administration and the police department, the Yogi Adityanath cabinet approved the new transfer policy for 2017-18 “Under the new transfer policy, 20 per cent officers and employees of group ‘A’ and ‘B’ who have completed three years in a district or seven years in a division will be transferred The transfers will be completed by June 30,” said UP urban development minister Suresh Khanna who, along with cabinet colleague Siddharth Nath Singh, briefed media persons about the cabinet decisions here 2-It is submitted before the Hon’ble Sir that please take a glance of letter dated 28-05-2017 of ADO Panchayat Mirzapur addressed to DPRO Mirzapur which is attached as first page of attached PDF Documents with this representation Hon’ble Sir may be pleased to focus on the signature made on paper sheet 3-It is submitted before the Hon’ble Sir that please take a glance of letters dated 07-02-2009 and 20-March-2009 of BDO Chhanbey, District-Mirzapur addressed to your applicant which are attached as page second and third of attached PDF Documents with this representation Hon’ble Sir may be pleased to focus on the signatures made on paper sheets 4-It is submitted before the Hon’ble Sir that these three initials are same which implies that Ramesh Upadhyay is posted in the block-Chhanbey, District-Mirzapur since more than 15 years Most surprising is that so many BDOs were transferred during this larger span of time This is humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in arbitrary manner by making mockery of law of land There is need of hour to take harsh steps against wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy For this your applicant shall ever pray you Hon’ble Sir Yours sincerely Yogi M P Singh, Mobile number-7379105911, Mohalla- Surekapuram , Jabalpur Road, District-Mirzapur , Uttar Pradesh Pin code-231001
नियत तिथि:
29 – Jun – 2017
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
नियत दिनांक
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन सन्दर्भ
14 – Jun – 2017
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
01 – Jul – 2017
सहमत
निस्तारित
2
आख्या
जिलाधिकारी ( )
14 – Jun – 2017
जिला पंचायत राज अधिकारीमिर्ज़ापुर,पंचायती राज विभाग
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें सहमत
01 – Jul – 2017
refer to attach letter
निस्तारित
श्री मान जिला पंचायत राज अधिकारी मिर्ज़ापुर के उपरोक्त पत्र का अवलोकन करे |

श्री मान जी अब निदेशक पंचायती राज के उस आदेश का अवलोकन करे जिसके द्वारा ए. डी. ओ. पंचायत रमेश उपाध्याय का स्थानानतरण जनपद मिर्जापूर से जनपद -गाजीपुर किया गया | उपरोक्त आदेश दिनांक २७/०६/२०१७ कुछ इस प्रकार है |

श्री मान जी अब आप अमर उजाला हिंदी दैनिक के आज के अंक की कटिंग देखे जो चीख चीख कर कह रहा है की सहायक विकास अधिकारी का कही स्थानांतरण नहीं हुआ है अभी भी वह मिर्ज़ापुर जनपद के हालिया ब्लाक में तैनात है और उत्तर प्रदेश शासन के स्थानांतरण नीति का मखौल उड़ा रहे है | श्री मान जी मैं मानता हु की जिलाधिकारी कार्यालय की कोई गरिमा नहीं है निदेशक पंचायती राज पद भ्रस्टाचार की वजह से नपुंशक बन चुकाकिन्तु मेरा तो ख्याल किया जाता क्यों की वह पत्र मुझे संबोधित था |

श्री मान जी जिला पंचायत राज अधिकारी ने जुलाई २०१७ को ही सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय को कार्यमुक्त कर दिया है तो वह यहा क्या कर रहे है | उनका तबादला किसके आदेश से रोका गया और मामले में कितनी घुसखोरी हुई है इसकी जांच कराई जाय |
२३/०२/२०१९                                     प्रार्थी
                                             योगी एम् . पी . सिंह

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
4 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

शिकायत निस्तारण की नियत तिथि १२ अप्रैल २०१९ थी और आज एक मई २०१९ है देरी का कारण स्पस्ट करे | सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है | शिकायत संख्या-60000190027147 आवेदक कर्ता का नाम:-Yogi M P Singh निदेशक पंचायती राज के परिपत्र आदेश संख्या -2/1388/2018-2/33/2018 दिनांक 30 मई 2018 को रद्द करते हुए निदेशक पंचायती राज के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही किया जाय |

Preeti Singh
1 year ago

What was approved by the divisional commissioner is itself a mystery as approved by keeping both the eyes closed?
फीडबैक की स्थिति: मंडलायुक्त द्वारा दिनाक 02/05/2019 को फीडबैक पर कार्यवाही अनुमोदित कर दी गयी है
आवेदन का संलग्नक संलग्नक देखें अग्रसारित विवरण-
क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या स्थिति आख्या रिपोर्ट
1 अंतरित लोक शिकायत अनुभाग – 1( मुख्यमंत्री कार्यालय ) 13 – Mar – 2019 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, कृपया शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है। 30/04/2019 निस्तारित
2 आख्या जिलाधिकारी ( ) 14 – Mar – 2019 जिला पंचायत राज अधिकारी-मिर्ज़ापुर,पंचायती राज विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 30/04/2019 refer to attach file(उक्त शिकायत के समभंद में अवगत कराना है की रमेश चन्द्र उपाध्याय का थानांतरण मिर्ज़ापुर में किया गया है ) निस्तारित

Beerbhadra Singh
1 year ago

It seems that new transfer policy of the Government of Uttar Pradesh is only and to earn money which may be said that to earn the money through back door otherwise a staff who remained in the district Mirzapur more than 15 years and was transferred Ghazipur district was again return back after one year by the director department of Panchayati Raj government of Uttar Pradesh. How the concerned staff set the director in order to be instrumental in order to transfer at the place of posting where he was earlier posted since 15 years is not a mystery and the reflection of rampant corruption in the government machinery. weather the new transfer policy after government of Uttar Pradesh has been formulated to enhance the back door income the corrupt public functionaries

Bhoomika Singh
5 months ago

दिनांक 01/05/2019को फीडबैक:- शिकायत निस्तारण की नियत तिथि १२ अप्रैल २०१९ थी और आज एक मई २०१९ है देरी का कारण स्पस्ट करे | सहायक विकास अधिकारी रमेश उपाध्याय जिनका तबादला गाजीपुर जनपद में जुलाई २०१७ को हुआ मिर्ज़ापुर में क्या कर रहे है | शिकायत संख्या-60000190027147 आवेदक कर्ता का नाम:-Yogi M P Singh निदेशक पंचायती राज के परिपत्र आदेश संख्या -2/1388/2018-2/33/2018 दिनांक 30 मई 2018 को रद्द करते हुए निदेशक पंचायती राज के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही किया जाय | महोदय क्या निदेशक पंचायती राज की इमानदारी आपको दृष्टि गोचर हो रही है इस मामले में यदि ऐसी इमानदारी योगी आदित्यनाथ की सरकार में है जिनका स्थानांतरण नीति सिर्फ पैसा कमाने का जरिया मात्र है तो ऐसी स्थान्तरण नीति से नतो देश का भला हो सकता है=
Now one can easily guess whether it is good governance or bad in the state of Uttar Pradesh.