Quantum corruption in the system can be guessed from fact that even government is misled by district unit

कपुल
ऑफ़ डेज मीन्स इन फोर्थ कमिंग टू
डेज
अर्थात आने वाले दो दिनों में प्रमाण पत्र जारी हो जायेगा किन्तु अफ़सोस की बात है
की अभी तक कोई भी प्रमाण पत्र जारी नही किया गया और प्रगति के नाम पर केवल
जनसुनवाई पोर्टल पर योजित ब्यथा निवारणार्थ प्रार्थना पत्र को निस्तारित दिखाया
गया जो की पूर्ण रूपेण असंबैधानिक व नियम विरुद्ध है |
FROM,
DESIGNATED
OFFICER
FSDA,MIRZAPIJR
TO,
COMMISSIONER
FSDA,  U.P.  
(9, JAGAT  NARAIN ROAD)
LUCKNOW
LETTER
NO. Memo/ FSDA/Mirzapur/Jansunwai/2016-2017   
DATED…27- 12- 2016
SUBJECT-DISPOSAL
OF COMPLAINT OF JANSUNWAI PORTAL(REF NO.40019916001745)
RESPECTED
SIR,
I BEG
TO SAY THAT ABOVESAID COMPLAJNT OF JANSUNWAI PORTAL HAS BEEN DISPOSED THROUGH
MEETING
PERSONALLY WITH COMPLAINT MAKER.REGISTRATION CERTIFICATE WILL BE ISSUED IN A
COUPLE
OF DAYS.
                                                                                        
YOURS
                                                                                   
(S. P. SRIVASTAVA)
                                                                                    
Designated Officer
आवेदन
का विवरण
शिकायत संख्या
40019916001745
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi
M. P. Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,7379105911
विषय:
What a good governance ,problems are resolved
without contacting the aggrieved and complainant
but it-seIf entire processing is being done online ,why
concerned staff took hundred Rs100 bribe and filled up the form
यदि सुबिधाए उपलब्ध है तो क्यों दूकानदार से १०० लिया गया
और क्यों स्टाम्प नही
लगाया गया
जब दुकानदार ने २१०० रुपये देने से मना
कर दिया सब से बड़ी बात उपरोक्त फॉर्म विभाग के कर्मचारी द्वारा भरा
गया है जोअभिहीत अधिकारी मिर्ज़ापुर,खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के दावों को पूरी तरह से खारिज करता है और यदि थोड़ी इमानदारी है तो १०० रूपये वापस कर दे क्यों की स्टाम्प लगाने की वजह
से स्टेट बैंक में
चलान जमा
नही हो पाया | यदि सारी ब्यवस्था ऑनलाइन है तो दुकानदार का फॉर्म विभाग के कर्मचारी द्वारा क्यों भरा गया
जब दूकानदार द्वारा घुश
नही दिया गया तब भरे गये रिन्यूअल आवेदन पर स्टाम्प नही लगाया गया जिसकी वजह से दूकानदार जो की एक बेरोजगार है दिन भर लाइन में खड़ा
रहा और शाम को बैंक के कर्मचारी ने कह दिया की ट्रेजरी चलान फॉर्म में स्टाम्प नही लगा
है इसलिए फॉर्म बैंक द्वारा ग्राह्य नही है | This is humble request of
your applicant to you Honble Sir that It can never be justified to
overlook  the rights of citizenry by delivering services in arbitrary
manner by floating all set up norms This is sheer mismanagement which is
encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving
poor citizens from right to justice Therefore it is need of hour to take
concrete steps in order to curb grown anarchy in the system For this your
applicant shall ever pray you Honble Sir          
                  Yours
 sincerely                
           
                                    Yogi M P
Singh Mobile number-7379105911 Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road
District-Mirzapur , Uttar Pradesh ,India
नियत तिथि:
23
– Dec – 2016
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
नियत
दिनांक
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन
सन्दर्भ
08
– Dec – 2016
प्रमुख सचिव/सचिव खाद्य सुरक्षा एवं
औषधि प्रशासन
— 
27
– Dec – 2016
अनुमोदित
निस्तारित
2
अंतरित
प्रमुख सचिव/सचिव (खाद्य सुरक्षा एवं
औषधि प्रशासन )
09
– Dec – 2016
आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं
औषधि प्रशासन
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 
27
– Dec – 2016
अनुमोदित
निस्तारित
3
अंतरित
आयुक्त (खाद्य सुरक्षा एवं
औषधि प्रशासन )
09
– Dec – 2016
अभिहीत अधिकारी मिर्ज़ापुर,खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन
कृपया प्रकरण में
शीध्र यथोचित कार्यवाही करने का कष्ट करें 
27
– Dec – 2016
COMPLAINT
DISPOSED.
निस्तारित

2 comments on Quantum corruption in the system can be guessed from fact that even government is misled by district unit

  1. कपुल ऑफ़ डेज मीन्स इन फोर्थ कमिंग टू डेज अर्थात आने वाले दो दिनों में प्रमाण पत्र जारी हो जायेगा किन्तु अफ़सोस की बात है की अभी तक कोई भी प्रमाण पत्र जारी नही किया गया और प्रगति के नाम पर केवल जनसुनवाई पोर्टल पर योजित ब्यथा निवारणार्थ प्रार्थना पत्र को निस्तारित दिखाया गया जो की पूर्ण रूपेण असंबैधानिक व नियम विरुद्ध है |

  2. कृपया प्रकरण में शीध्र यथोचित कार्यवाही करने का कष्ट करें 27 – Dec – 2016

    COMPLAINT DISPOSED.

    निस्तारित When nothing was done by concerned, then how can it be justified that concerned submitted grievance may be considered to be disposed.

Leave a Reply

%d bloggers like this: