डिस्ट्रिक्ट यूनिट प्रेसिडेंट of ruling party was threatened to kill ,O God save us from this anarchy.



Think about the gravity of situation that even president of district unit of ruling party is being threatened to kill. Whether there is fear of police in the mind of criminals.In which society ,we are living where no one is safe. 
साईं इतना दी जिए जामें कुटुंब समाय|
मै भी भूखा न रहू साधु न भूखा जाय ||
य एनम वेत्ति हन्तारम य्श्चैनम मन्यते हतम |
उभौ तौ न विजानीतों नायं हन्ति न हन्यते || 

सपा
जिलाध्यक्ष को जान
से
मारने की धमकी
ब्यूरो
मंगलवार, 22 सितंबर 2015
अमर
उजाला
Updated
@ 12:49 AM IST
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष आशीष यादव को जान से मारने की धमकी दी गई है।18 सितंबर को किसी ने उनके मोबाइल पर फोन कर धमकी देते हुए कहा कि 21 सितंबर की शाम तक तुम इस दुनिया में नहीं रहोगे।
घटना के वक्त जिलाध्यक्ष लखनऊ में मुख्यमंत्री निवास मेें थे। उनकी शिकायत पर जिले की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। किंतु 48 घंटे बाद भी कोई सफलता नहीं मिली है। 
जिलाध्यक्ष आशीष यादव18 सितंबर को लखनऊ में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की कोठी पर थे। दोपहर करीब साढ़े 12 बजे किसी ने उनके मोबाइल पर फोन किया और कहा कि वह क्या चाहते हैं। 
इस पर उन्होंने फोन करने वाले व्यक्ति से पूछा कि वह कौन बोल रहा है, कहां से बोल रहा है और क्या चाहता है। इस पर उसने कहा कि तुम 21 सितंबर की शाम तक इस दुनिया में नहीं रहोगे।
यह सुनते ही आशीष यादव सन्न रह गए। उन्होंने वहीं से मिर्जापुर के एसपी दिनेश चंद्र को फोन कर मामले से अवगत कराया और उन्हें फोन करने वाले का नंबर बताया।
रविवार को लखनऊ से लौटने पर उन्होंने पुलिस अधीक्षक को घटना की तहरीर दी। प्रभारी पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने बताया कि सपा जिलाध्यक्ष ने पूर्व पुलिस अधीक्षक दिनेश चंद्र से अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर जान से मारने की धमकी देने की शिकायत की थी। पुलिस फोन करने वाले व्यक्ति का सुराग लगा रही। उसका नंबर सर्विलांस पर लगा दिया गया है। 

2 comments on डिस्ट्रिक्ट यूनिट प्रेसिडेंट of ruling party was threatened to kill ,O God save us from this anarchy.

  1. रविवार को लखनऊ से लौटने पर उन्होंने पुलिस अधीक्षक को घटना की तहरीर दी। प्रभारी पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने बताया कि सपा जिलाध्यक्ष ने पूर्व पुलिस अधीक्षक दिनेश चंद्र से अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर जान से मारने की धमकी देने की शिकायत की थी। पुलिस फोन करने वाले व्यक्ति का सुराग लगा रही। उसका नंबर सर्विलांस पर लगा दिया गया है।

  2. The quantum of criminal activities in the society can be easily imagined from the facts that criminals are not sparing the district unit president of ruling party. Whether in such society, justice is available for poor and downtrodden section. Most surprising the incident took place when he was in Lucknow. What is going on with common man in this state.

Leave a Reply

%d bloggers like this: