Not a single coin was provided by the state government to bereaved family of slain R.T.I. Activist

आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
60000190011073
आवेदक कर्ता का नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
Daylight
murder of the RTI Activist is the failure of state government so government
may provide support to bereaved family as done in the case of Govt staffs.The
matter is concerned with the daylight murder of the RTI Activist in District
Mau, published with the broad headings in
most of the dailies of the state. Tragic incidence took place at Badhua Godam
Patti in the Mau District at 8 O clock in the morning. Detail is available in
the attached JPG images with this representation. Subject-Government aid may
be provided to the bereaved family of the deceased. Most revered Sir
Your applicant invites the kind attention
of the Hon
ble Sir with due
respect to following submissions as follows. 1-It is submitted before the Hon
ble Sir that undoubtedly RTI Activist
martyred for a public cause so it is the obligation of governments both at
the centre and state provide all those helps which are provided to a
government staff. Whatever riskey job was undertaken by the revered departed
soul was to pursued by the accountable public functionaries in the state but
instead of taking any positive steps for the betterment of society could not
secure the life of the public spirited individual is the failure of the
government machinery in the state. On one side of screen few public
functionaries claim to be honest but on the other side of screen really
honest people in the state are being killed is not proved contrary. If
someone is really honest undoubtedly he will have sympathy to the people
murdered because of pursuing the path of the anticorruption crusade. 2-It is
submitted before the Hon
ble
Sir that undoubtedly murder of the RTI Activist is not a good signal for the
government of the Uttar Pradesh and is reflection of the failure of the law
order mechanism in the state. Here role of the police is itself under cloud
as the matter was under the investigation by the district police and the
individual instituted the complaint was targeted by the offenders against
whom charges were alleged. Whether there is no need to investigate the role
of the police concerned who were carrying out the investigation on the
complaint submitted by the deceased with supporting documents obtained under
Right to Information Act 2005?
नियत तिथि:
06 – Mar – 2019
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 12/03/2019को फीडबैक:- Daylight murder of the RTI Activist
is the failure of state government so government may provide support to
bereaved family as done in the case of Govt staffs.
श्री मान जी उपरोक्त का हिन्दी अनुवाद इस प्रकार है दिनदहाड़े आर टी आई कार्यकर्ता की हत्या प्रदेश सरकार की असफलता है इसलिए प्रदेश सरकार की नैतिक जिम्मेदारी बनती है की वह आर टी आई कार्यकर्ता के अनाथ परिवार की मदद करे ठीक उसी तरह जैसा की लोक कर्मचारी के निधन पर उसके परिवार के साथ किया जाता | किन्तु आप ने किया नही बल्कि मेरा महिमा मंडन किये जिसके लिए
मै योग्य नही हू
| मै एकांतवासी हू चिंतन करता हू | सच के लिए लड़ता हू | इस प्रत्यावेदन का अर्थ सिर्फ ब्यथा निवारण है और व्यथा निवारण कैसे हो गया जब आप ने एक सिक्का भी उस अनाथ परिवार की झोली में नही डाला | कम से कम मऊ जिलाधिकारी से रिपोर्ट मगा कर परिवार की कुछ आर्थिक सहायता कर देते जिससे मुझे आत्मिक संतोष तो होता | श्री मान जी प्रार्थी इस हृदयहीन तानाशाही व्यवस्था से बहुत कष्ट में है | आप की कार्यशैली से पूरे जनपद की पुलिस मुझे जानने लगी | मुख्य मंत्री कार्यालय में ही कुछ अच्छे अधिकारी है जिनकी मदद से पूर्व सरकार में तेज़ाब पीड़ित महिला और अन्य मामलो में पीड़ित पक्ष का मदद किया गया है |
फीडबैक की स्थिति:
फीडबैक प्राप्त

आवेदन का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग – 1(मुख्यमंत्री कार्यालय )
04 – Feb – 2019
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
कृपया शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
11/03/2019
निस्तारित
2
आख्या
जिलाधिकारी ( )
05 – Feb – 2019
वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षकमिर्ज़ापुर,पुलिस
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें
11/03/2019
अनुमोदित
निस्तारित
3
आख्या
वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक (पुलिस )
05 – Feb – 2019
अपर पुलिस अधीक्षक मिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें अनुमोदित
08/03/2019
अनुमोदित
निस्तारित
4
आख्या
वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक (पुलिस )
05 – Feb – 2019
अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशनमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें अनुमोदित
28/02/2019
महोदय, आवेदक की शिकायत के सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी चुनार/लालगंज/आपरेशन की जॉंच आख्या सादर अवलोकनार्थ संलग्न है।
निस्तारित
5
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन (पुलिस )
07 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीलालगंज
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें महोदय, आवेदक की शिकायत के सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी चुनार/लालगंज/आपरेशन की जॉंच आख्या सादर अवलोकनार्थ संलग्न है।
20/02/2019
जांच कर्ता की जांच आख्या संलग्न कर प्रेषित है ।
निस्तारित
6
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन (पुलिस )
07 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीमडिहान
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें please attach pdf report.
15/02/2019
सादर अवगत कराना है कि सर्किल ऑपरेशन जनपद मिर्जापुर थाना अहरौरा वह थाना मड़िहान ऐसा कोई प्रोग्राम नहीं पाया गया है
निस्तारित
7
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन (पुलिस )
07 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीमडिहान
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें महोदय, आवेदक की शिकायत के सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी चुनार/लालगंज/आपरेशन की जॉंच आख्या सादर अवलोकनार्थ संलग्न है।
15/02/2019
प्रकरण के संबंध में सादर अवगत कराना है कि इस प्रकार का कोई भी प्रकरण सर्किल के थाना मड़िहान थाना अहरौरा में नहीं पाया गया है
निस्तारित
8
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन (पुलिस )
07 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीचुनार
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें महोदय, आवेदक की शिकायत के सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी चुनार/लालगंज/आपरेशन की जॉंच आख्या सादर अवलोकनार्थ संलग्न है।
27/02/2019
कृपया रिपोर्ट सर्किल चुनार जनपद मीरजापुर की आख्या अपलोड कर सादर अवलोकनार्थ सेवा मॆं प्रेषित
है
निस्तारित
9
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
07 – Feb – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षकअहरोरा,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें सादर अवगत कराना है कि सर्किल ऑपरेशन जनपद मिर्जापुर थाना अहरौरा
वह थाना मड़िहान ऐसा कोई प्रोग्राम नहीं पाया गया है
09/02/2019
निस्तारित
10
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
07 – Feb – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षकमदिहान,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
जांच कर आख्या प्रेषित करें सादर अवगत कराना है कि सर्किल ऑपरेशन जनपद मिर्जापुर थाना अहरौरा
वह थाना मड़िहान ऐसा कोई प्रोग्राम नहीं पाया गया है
10/02/2019
IGRS NO-60000190011073 का आख्यां श्रीमान् जी सेवा में सादर प्रेषित है।
निस्तारित
11
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक (पुलिस )
11 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीक्षेत्राधिकारी , नगर
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें अनुमोदित
08/03/2019
जाँच आख्या संलग्न है
निस्तारित
12
आख्या
अपर पुलिस अधीक्षक (पुलिस )
11 – Feb – 2019
क्षेत्राधिकारीसदर
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें अनुमोदित
02/03/2019
शिकायतकर्ता के प्रार्थना पत्र की जॉच कर जॉच आख्या अवलोकनार्थ संलग्न है।
निस्तारित
13
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
13 – Feb – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षककोतवाली सिटी,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें जांच आख्या संलग्न है ।
19/02/2019
महोदय, सन्दर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न कर रिपोर्ट सादर अवलोकनार्थ प्रेषित है
निस्तारित
14
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
13 – Feb – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षककोतवाली कटरा,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें जांच आख्या संलग्न है ।
21/02/2019
report attach
निस्तारित
15
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
13 – Feb – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षकविन्ध्याचल,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें जाँच आख्या संलग्न है ।
06/03/2019
सेवा मे श्रीमान जी जाँच आख्या अवलोकनार्थ अपलोड है सेवा मे श्रीमान जी जाँच आख्या अवलोकनार्थ अपलोड है
निस्तारित

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

Daylight murder of the RTI Activist is the failure of state government so government may provide support to bereaved family as done in the case of Govt staffs. श्री मान जी उपरोक्त का हिन्दी अनुवाद इस प्रकार है दिनदहाड़े आर टी आई कार्यकर्ता की हत्या प्रदेश सरकार की असफलता है इसलिए प्रदेश सरकार की नैतिक जिम्मेदारी बनती है की वह आर टी आई कार्यकर्ता के अनाथ परिवार की मदद करे ठीक उसी तरह जैसा की लोक कर्मचारी के निधन पर उसके परिवार के साथ किया जाता |

Preeti Singh
1 year ago

फीडबैक : दिनांक 12/03/2019को फीडबैक:- Daylight murder of the RTI Activist is the failure of state government so government may provide support to bereaved family as done in the case of Govt staffs. श्री मान जी उपरोक्त का हिन्दी अनुवाद इस प्रकार है दिनदहाड़े आर टी आई कार्यकर्ता की हत्या प्रदेश सरकार की असफलता है इसलिए प्रदेश सरकार की नैतिक जिम्मेदारी बनती है की वह आर टी आई कार्यकर्ता के अनाथ परिवार की मदद करे ठीक उसी तरह जैसा की लोक कर्मचारी के निधन पर उसके परिवार के साथ किया जाता | किन्तु आप ने किया नही बल्कि मेरा महिमा मंडन किये जिसके लिए मै योग्य नही हू | मै एकांतवासी हू चिंतन करता हू | सच के लिए लड़ता हू | इस प्रत्यावेदन का अर्थ सिर्फ ब्यथा निवारण है और व्यथा निवारण कैसे हो गया जब आप ने एक सिक्का भी उस अनाथ परिवार की झोली में नही डाला | कम से कम मऊ जिलाधिकारी से रिपोर्ट मगा कर परिवार की कुछ आर्थिक सहायता कर देते जिससे मुझे आत्मिक संतोष तो होता | श्री मान जी प्रार्थी इस हृदयहीन तानाशाही व्यवस्था से बहुत कष्ट में है | आप की कार्यशैली से पूरे जनपद की पुलिस मुझे जानने लगी | मुख्य मंत्री कार्यालय में ही कुछ अच्छे अधिकारी है जिनकी मदद से पूर्व सरकार में तेज़ाब पीड़ित महिला और अन्य मामलो में पीड़ित पक्ष का मदद किया गया है |
फीडबैक की स्थिति: फीडबैक विचाराधीन

Beerbhadra Singh
1 year ago

Man of discretion thinks positively but those who are corrupt how can they think positively? Think about the gravity of situation that individual who struggled for a betterment of society throughout the life now is being overlooked by the government functionaries because why he had raised the voice against corruption whether such government can carry us to the path of development. No Country can progress if it will be governed by corrupt people because these people always have selfish motives.