It seems that there is no effect of submitted grievances on vice chancellor MGKVP University Varanasi

logo जनसुनवाई
समन्वित शिकायत निवारण प्रणाली, उत्तर प्रदेश
Complaint No:-40019717001023
APPLICANT DETAILS :
Name : Kuldeep Kumar Chaudhary Father Name : Rambabu Chaudhary   Gender : MALE
Mobile-1 : 8545992921 Mobile-2 : 8545992921 Email : yogimpsingh@gmail.com
Area : Urban State : उत्तर प्रदेश District : मिर्ज़ापुर
Tehsil : सदर Block : —- Gram Panchayat : —-
Thana : कोतवाली कटरा Address : Tahsil-Sadar, District-Mirzapur
GRIEVANCE AREA DETAILS :
Area : Urban State : उत्तर प्रदेश District : वाराणसी
Tehsil : सदर Block : Gram Panchayat : —-
Village : 0 Thana : लंका
APPLICATION DETAILS :
Application Detail : Honble Sir undoubtedly the raised issue invites the utmost care and due attention of concerned accountable public functionaries of MGKVP Varanasi Whether this is not reflection of insolence that they are not considering the gravity of situation that they are playing game with the future of a studentशिकायत संख्या 40019717000763 How is it feasible than an examinee may appear in two papers at the same time Please consider following submissions under article 51 A constitution of IndiaYour applicants enrolment number is KA2K17405015126 Vice Chancellor MGKVP University, Varanasi may take concrete steps in order to provide justice to your applicant2-It is submitted before the Honble Sir that it is their obligatory duty consider the problem of every student and find an amicable solution Whether two papers of an examinee should coincide , then why your applicant facing such difficulty and still concerned accountable public functionaries of MGKVP University Varanasi are keeping closed their eye and ears श्री मान जी स्मरण पत्र का कोई असर नही हो रहा है क्या आप का कोई सगा सम्बन्धी होता तो भी आप यही करते | श्री मान जी पार्थी द्वारा मोटी रकम शुल्क के रूप में जमा की गई है जो किसी छात्रवृत्ति से नही प्राप्त हुई है मेरे पिता की गाढ़ी कमाई का है | श्री मान जी आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्रों को १९ अप्रैल व २१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जो किसी भी तरह विधि सम्मत नही है अनुरोध है की प्रार्थी के प्रत्यावेदनो को गंभीरता से लिया जाय | श्री मान जी प्रार्थी का प्रवेश पत्र व टाइम टेबल संलग्न है कृपया अवलोकन करे क्या संगतता है यदि नही तो प्रार्थी कैसे एक ही समय में दोनों प्रश्न पत्रों का उत्तर देगा | क्या परीक्षा समिति की भूलो के लिए प्रार्थी का भविष्य अंधकारमय किया जा सकता है क्या प्रार्थी को न्याय नही मिलेगा | कहा है सामाजिक न्याय | गरीब और न्याय में इतनी दूरी है की वह दूरी सामीप्य में बदल ही नही सकती | श्री मान प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करना पड़ सकता है यदि परीक्षा समिति यथोचित समय तक निर्णय लेने में विफल रहती है | This is sheer mismanagement which is encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving poor citizens from right to justice Therefore it is need of hour to take concrete steps in order to curb grown anarchy in the system For this your applicant shall ever pray you Honble Sir Yours sincerely Kuldeep Kumar Chaudhary Mobile number -9695657211 , 8545992921, 9598603518 Mohalla-Sabari ,Bhagauti Chaudhary ke bagal ki gali ,District-Mirzapur
Relief Type : Complaint Address To Officer : Department Name : महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी
Category Name : घटिया निर्माण कार्य/गुणवत्ता में कमी / विलम्ब Application Old Reference No : 40019717000763
Attachment : Yes

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
40019717001023
आवेदक कर्ता का नाम:
Kuldeep
Kumar Chaudhary
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
8545992921,8545992921
विषय:
Honble Sir undoubtedly the raised issue invites
the utmost care and due attention of concerned accountable public
functionaries of MGKVP Varanasi Whether this is not reflection of insolence
that they are not considering the gravity of situation that they are playing
game with the future of a student
शिकायत संख्या 40019717000763 How is it feasible than an examinee may appear in
two papers at the same time Please consider following submissions under
article 51 A constitution of IndiaYour applicants enrolment number is KA2K17405015126
Vice Chancellor MGKVP University, Varanasi may take concrete steps in order
to provide justice to your applicant2-It is submitted before the Honble Sir
that it is their obligatory duty consider the problem of every student and
find an amicable solution Whether two papers of an examinee should coincide ,
then why your applicant facing such difficulty and still concerned
accountable public functionaries of MGKVP University Varanasi are keeping
closed their eye and ears
श्री मान
जी स्मरण पत्र का कोई असर नही
हो रहा
है क्या आप का कोई सगा सम्बन्धी होता तो भी आप यही
करते | श्री मान जी पार्थी द्वारा मोटी रकम शुल्क के रूप
में जमा
की गई है जो किसी छात्रवृत्ति से नही प्राप्त हुई
है मेरे पिता की गाढ़ी कमाई का है | श्री मान जी आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम द्वितीय प्रश्न पत्रों को १९ अप्रैल २१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ
खिलवाड़ किया जा रहा
है जो किसी भी तरह
विधि सम्मत नही है अनुरोध है की प्रार्थी के प्रत्यावेदनो को गंभीरता से लिया जाय | श्री मान जी प्रार्थी का प्रवेश पत्र टाइम टेबल संलग्न है कृपया अवलोकन करे
क्या संगतता है यदि
नही तो प्रार्थी कैसे एक ही समय में
दोनों प्रश्न पत्रों का उत्तर देगा | क्या परीक्षा समिति की भूलो के लिए
प्रार्थी का भविष्य अंधकारमय किया जा सकता है क्या प्रार्थी को न्याय नही मिलेगा | कहा है सामाजिक न्याय | गरीब और न्याय में
इतनी दूरी है की वह दूरी सामीप्य में बदल
ही नही
सकती | श्री मान प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करना पड़ सकता है यदि
परीक्षा समिति यथोचित समय
तक निर्णय लेने में
विफल रहती है | This is sheer mismanagement which is
encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving
poor citizens from right to justice Therefore it is need of hour to take
concrete steps in order to curb grown anarchy in the system For this your
applicant shall ever pray you Honble Sir Yours sincerely Kuldeep Kumar
Chaudhary Mobile number -9695657211 , 8545992921, 9598603518 Mohalla-Sabari
,Bhagauti Chaudhary ke bagal ki gali ,District-Mirzapur
नियत तिथि:
04
– May – 2017
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
आवेदन
का
संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
नियत
दिनांक
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन
सन्दर्भ
04
– Apr – 2017
रजिस्ट्रार महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी
लंबित

2 comments on It seems that there is no effect of submitted grievances on vice chancellor MGKVP University Varanasi

  1. श्री मान जी स्मरण पत्र का कोई असर नही हो रहा है क्या आप का कोई सगा सम्बन्धी होता तो भी आप यही करते | श्री मान जी पार्थी द्वारा मोटी रकम शुल्क के रूप में जमा की गई है जो किसी छात्रवृत्ति से नही प्राप्त हुई है मेरे पिता की गाढ़ी कमाई का है | श्री मान जी आपने अर्थात आपकी परीक्षा समिति प्रार्थी के दो विषयों के प्रथम व द्वितीय प्रश्न पत्रों को १९ अप्रैल व २१ अप्रैल को एक ही समय पर रख कर प्रार्थी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है जो किसी भी तरह विधि सम्मत नही है अनुरोध है की प्रार्थी के प्रत्यावेदनो को गंभीरता से लिया जाय | श्री मान जी प्रार्थी का प्रवेश पत्र व टाइम टेबल संलग्न है कृपया अवलोकन करे क्या संगतता है यदि नही तो प्रार्थी कैसे एक ही समय में दोनों प्रश्न पत्रों का उत्तर देगा | क्या परीक्षा समिति की भूलो के लिए प्रार्थी का भविष्य अंधकारमय किया जा सकता है क्या प्रार्थी को न्याय नही मिलेगा | कहा है सामाजिक न्याय | गरीब और न्याय में इतनी दूरी है की वह दूरी सामीप्य में बदल ही नही सकती | श्री मान प्रार्थी द्वारा जमा शुल्क वापस करना पड़ सकता है यदि परीक्षा समिति यथोचित समय तक निर्णय लेने में विफल रहती है

  2. Think about the insolence of staffs of M.G.K.V.P. University Varanasi who never think about the future of students but only think about the pockets which may be never empty. : Honble Sir undoubtedly the raised issue invites the utmost care and due attention of concerned accountable public functionaries of MGKVP Varanasi Whether this is not reflection of insolence that they are not considering the gravity of situation that they are playing game with the future of a student. This shows that there is no transparency and accountability in the system.

Leave a Reply

%d bloggers like this: