In the name of free and compulsory education, only press notes are issued by office of B.S.A. Mirzapur.

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
15199160035204
आवेदक कर्ता का नाम:
महेश
प्रताप सिंह
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,0
विषय:
Please
provide scholarship to my children taking under consideration my poor
economic condition as an unemployed youth.
नियत तिथि:
25
– May – 2016
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 12/07/2017
को फीडबैक:- On one side of screen Basic Shiksha Adhikaari did nothing
except circulation of false and fabricated news in the vernacular dailies in
regard to free and compulsory education and now falsely
crying his subordinate has remitted the fee of one my children through
headmistress of kindergarten.
जब दो सगे भाई या दो सगी बहन या एक भाई और एक बहन एक ही विद्यालय  में पढ़ रहे हो तो  उनमे से एक की शुल्क आधी माफ़ हो जाती
है और उसी आधार पर मेरे लड़के की आधी फीस माफ है  बेसिक शिक्षा अधिकारी सिर्फ बकवास कर रहे है अनर्गल प्रलाप करना
उनका जन्म
सिद्ध अधिकार है | सभी जानते है देश में भ्रस्टाचार है और ये भी जानते है भ्रस्टाचार कौन करता
है | To
                                                          
District Magistrate
                                 
                    District
–Mirzapur, Uttar Pradesh Subject –Basic Shiksha Adhikari only misled you in
regard to disposal of grievance registered on jansunwai  portal of
government of Uttar Pradesh as 
शिकायत संख्या-40019917000695. With great respect to revered
Sir, your applicant invites the kind attention of the Hon’ble Sir  to
the following submissions as follows. 1-It is submitted before the Hon’ble
Sir that  
शिकायत संख्या-40019916000669 अग्रसारित विवरणक्र..   सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने
वाले अधिकारी       आदेश दिनांक   अधिकारी को प्रेषित     आदेश 
आख्या दिनांक       आख्या नियत दिनांक   स्थिति  आख्या रिपोर्ट 1           अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ      04 – Jul – 2016           प्रमुख सचिव/सचिव बेसिक शिक्षा विभाग  —     22 – Jul – 2016   
Nistarit (Akhya Sanlagn)        
आख्या उच्च स्तर
पर प्रेषित    2          अंतरित प्रमुख सचिव/सचिव (बेसिक शिक्षा विभाग )       05 –
Jul – 2016           
निदेशक बेसिक शिक्षा निदेशालय      
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें
    22
– Jul – 2016          
Nistarit (Akhya Sanlagn)        
आख्या उच्च स्तर
पर प्रेषित      3          अंतरित निदेशक (बेसिक शिक्षा निदेशालय )      08 – Jul – 2016           बेसिक शिक्षा अधिकारीमिर्ज़ापुर,बेसिक शिक्षा विभाग  नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें
    22
– Jul – 2016          
Nistarit (Akhya Sanlagn)        C-
श्रेणीकरण    4          आख्या मुख्यमंत्री कार्यालय     19 – Jan – 2017           बेसिक शिक्षा अधिकारीमिर्ज़ापुर,बेसिक शिक्षा विभाग       कृपया प्रकरण का गंभीरता से पुनः
परीक्षण कर नियमानुसार कार्यवाही करते
हुए 15 दिवस में आख्या उपलब्ध कराए
जाने की अपेक्षा की गई है    02 – May – 2017         
nistarit (aakhya sanlagn hai)  
निस्तारण हेतु लंबित 2-It is
submitted before the Hon’ble Sir that  
आवेदक कर्ता का नाम:      Yogi M P Singh आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:   7379105911,7379105911      
विषयसभी लोग जानते है और बहुत पहले से जानते है की दो सगे भाई या भाई और बहन एक ही संस्था में पढ़ रहे तो संस्था सहानुभूति के तौर पर एक का शुल्क आधा ही लेती है और यहां पर नगर शिक्षा अधिकारी का रोल एक छलावा जैसा
है क्यों की मुक्त आवश्यक शिक्षा अधिनियम के तहत मेरी पुत्री का आधा शुल्क प्रधानाध्यापिका से कह कर माफ करा दिया | कृपया संलग्नक देखे | With due respect your
applicant wants to draw the kind attention of the Honble Sir to the following
submissions as follows 1-It is submitted before the Honble Sir that 
समाज कल्याण अधिकारी ने प्रार्थी को बताया की कक्षा से कक्षा तक के छात्रो की छात्रवृत्ति शासन ने रोक लगा दी इसलिए प्रार्थी की कोई सहायता नही की जा सकती
है क्या
मुक्त एवं अनिवार्य शिक्षा संयुक्त राष्ट्र संघ के दबाव में पास तो कर दिया गया लेकिन उस कभी अमल नही किया
गया | या भ्रस्टाचार रूपी
दानव इस जनहित कानून को अपने समक्ष पनपने ही नही दिया |2 -It is submitted before the Honble Sir that अब आप का प्रार्थी शासन के शरण में गया तो मुख्य मंत्री कार्यालय में सचिव पार्थसारथी सेन शर्मा(सचिव) जैसा की प्रायः होता है प्रत्यावेदन प्रमुख सचिव
समाज कल्याण को भेज दिया और फिर चैनलवाइज निदेशक समाज
कल्याण और अंत में फिर समाज कल्याण अधिकारी के यहां
पहुच गया | इस बार समाज कल्याण अधिकारी को मेरे
गरीबी पर रहम गया और मुझे राहत
देने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से याचना तक कर डाली और मुझे
भी लगा की हो सकता
है प्रभु ने मति परिवर्तन कर दिया
हो |3 -It is submitted
before the Honble Sir that 
चूकी प्रार्थी ने सरकारी तंत्र के भ्रस्टाचार को बहुत
अन्दर से देखा है इसलिए उसे भरोसा पहले भी नही था इसलिए कार्यवाही जानने के लिए पुनः प्रत्यावेदन जनसुनवाई पोर्टल पर दिया और बेसिक शिक्षा अधिकारी के जिलाधिकारी मिर्ज़ापुर को संबोधित पत्र से स्थित स्पस्ट है जो की प्रत्यावेदन के साथ पीडीऍफ़ डाक्यूमेंट्स के रूप में अटैच्ड है | ब्यवस्थापिका नियम बनाती समाज को दिखाने के लिए और देश को कार्यपालिका और नौकरशाह अपने दिल से चलाते है | जब उत्तर प्रदेश सरकार ने छात्रवृत्ति बंद कर दी और इनके
विद्यालयों में लडको को बुलाना पड़ता है इसके बावजूद लडके
नही जाते
तो मुक्त और अन्निवार्य शिक्षा डस्ट
बिन में डालने जैसा हुआ | नियत तिथि:    19 – Jul – 2016 शिकायत की स्थिति:    लम्बित 3-It is submitted before the
Honble Sir that 1           
यह जनशिकायत समय सीमा के अंतर्गत निस्तारित होने के कारण
आपके स्तर
पर डिफाल्टर होकर लंबित हैजनशिकायत के अधिक
समय तक लंबित रहने की स्थिति संतोषजनक नहीं
हैकृपया प्रकरण का तत्काल नियमानुसार निस्तारण किया जाना
अपेक्षित है | – मुख्यमंत्री कार्यालय   08 Mar 2017 2          यह जनशिकायत समयसीमा के अंतर्गत निस्तारित होने के कारण
आपके स्तर
पर डिफाल्टर होकर लंबित हैजनशिकायत के अधिक
समय तक लंबित रहने की स्थिति संतोषजनक नहीं
हैकृपया प्रकरण का तत्काल नियमानुसार निस्तारण किया जाना
अपेक्षित है | —मुख्यमंत्री कार्यालय   30 Jan 2017 4-It is submitted before the Honble
Sir that whether in the following matter your  applicant is focused on
fee and scholarship as basic shiksha adhikaari is crying .
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
नियत
दिनांक
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
पार्थ सारथी सेन
शर्मा(सचिव)
27
– Apr – 2016
अपर
मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव समाज कल्‍याण विभाग
पृष्ठांकित
23
– May – 2016
Letter
no 561-63
निस्तारित
2
अंतरित
प्रमुख सचिव/सचिव (समाज कल्‍याण विभाग )
05
– May – 2016
निदेशक समाज कल्याण
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 
23
– May – 2016
Letter
no 561-63
निस्तारित
3
अंतरित
निदेशक (समाज कल्याण )
19
– May – 2016
जिला समाज कल्याण अधिकारीमिर्ज़ापुर,समाज कल्‍याण विभाग
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 
23
– May – 2016
Letter
no 561-63
निस्तारित

2 comments on In the name of free and compulsory education, only press notes are issued by office of B.S.A. Mirzapur.

  1. चूकी प्रार्थी ने सरकारी तंत्र के भ्रस्टाचार को बहुत अन्दर से देखा है इसलिए उसे भरोसा पहले भी नही था इसलिए कार्यवाही जानने के लिए पुनः प्रत्यावेदन जनसुनवाई पोर्टल पर दिया और बेसिक शिक्षा अधिकारी के जिलाधिकारी मिर्ज़ापुर को संबोधित पत्र से स्थित स्पस्ट है जो की प्रत्यावेदन के साथ पीडीऍफ़ डाक्यूमेंट्स के रूप में अटैच्ड है | ब्यवस्थापिका नियम बनाती समाज को दिखाने के लिए और देश को कार्यपालिका और नौकरशाह अपने दिल से चलाते है | जब उत्तर प्रदेश सरकार ने छात्रवृत्ति बंद कर दी और इनके विद्यालयों में लडको को बुलाना पड़ता है इसके बावजूद लडके नही जाते तो मुक्त और अन्निवार्य शिक्षा डस्ट बिन में डालने जैसा हुआ

  2. मुख्य मंत्री कार्यालय में सचिव पार्थसारथी सेन शर्मा(सचिव) जैसा की प्रायः होता है प्रत्यावेदन प्रमुख सचिव समाज कल्याण को भेज दिया और फिर चैनलवाइज निदेशक समाज कल्याण और अंत में फिर समाज कल्याण अधिकारी के यहां पहुच गया | इस बार समाज कल्याण अधिकारी को मेरे गरीबी पर रहम आ गया और मुझे राहत देने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से याचना तक कर डाली और मुझे भी लगा की हो सकता है प्रभु ने मति परिवर्तन कर दिया हो |3 -It is submitted before the Honble Sir that चूकी प्रार्थी ने सरकारी तंत्र के भ्रस्टाचार को बहुत अन्दर से देखा है इसलिए उसे भरोसा पहले भी नही था इसलिए कार्यवाही जानने के लिए पुनः प्रत्यावेदन जनसुनवाई पोर्टल पर दिया और बेसिक शिक्षा अधिकारी के जिलाधिकारी मिर्ज़ापुर को संबोधित पत्र से स्थित स्पस्ट है जो की प्रत्यावेदन के साथ पीडीऍफ़ डाक्यूमेंट्स के रूप में अटैच्ड है | ब्यवस्थापिका नियम बनाती समाज को दिखाने के लिए और देश को कार्यपालिका और नौकरशाह अपने दिल से चलाते है | जब उत्तर प्रदेश सरकार ने छात्रवृत्ति बंद कर दी और इनके विद्यालयों में लडको को बुलाना पड़ता है इसके बावजूद लडके नही जाते तो मुक्त और अन्निवार्य शिक्षा डस्ट बिन में डालने जैसा हुआ | नियत तिथि: 19 – Jul – 2016 शिकायत की स्थिति: लम्बित 3-It is submitted before the Honble Sir that 1 यह जनशिकायत समय सीमा के अंतर्गत निस्तारित न होने के कारण आपके स्तर पर डिफाल्टर होकर लंबित है| जनशिकायत के अधिक समय तक लंबित रहने की स्थिति संतोषजनक नहीं है| कृपया प्रकरण का तत्काल नियमानुसार निस्तारण किया जाना अपेक्षित है | – मुख्यमंत्री कार्यालय 08 Mar 2017 2 यह जनशिकायत समयसीमा के अंतर्गत निस्तारित न होने के कारण आपके स्तर पर डिफाल्टर होकर लंबित है| जनशिकायत के अधिक समय तक लंबित रहने की स्थिति संतोषजनक नहीं है| कृपया प्रकरण का तत्काल नियमानुसार निस्तारण किया जाना अपेक्षित है | –मुख्यमंत्री कार्यालय 30 Jan 2017 4-It is submitted before the Honble Sir that whether in the following matter your applicant is focused on fee and scholarship as basic shiksha adhikaari is crying .
    आवेदन का संलग्नक
    संलग्नक देखें
    अग्रसारित विवरण-
    क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या नियत दिनांक स्थिति आख्या रिपोर्ट
    1 अंतरित पार्थ सारथी सेन शर्मा(सचिव) 27 – Apr – 2016 अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव -समाज कल्‍याण विभाग पृष्ठांकित 23 – May – 2016 Letter no 561-63 निस्तारित
    2 अंतरित प्रमुख सचिव/सचिव (समाज कल्‍याण विभाग ) 05 – May – 2016 निदेशक -समाज कल्याण नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 23 – May – 2016 Letter no 561-63 निस्तारित
    3 अंतरित निदेशक (समाज कल्याण ) 19 – May – 2016 जिला समाज कल्याण अधिकारी-मिर्ज़ापुर,समाज कल्‍याण विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें 23 – May – 2016 Letter no 561-63 निस्तारित

Leave a Reply

%d bloggers like this: