Hand pump is pumping out dirty water and it stops after providing one bucket of water.

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
40019919023503
आवेदक कर्ता का
नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
9794103433,9794103433
विषय:
छह
महीने भी
नहीं हुआ बने हैंड पंप लगे रुक रुक कर गंदा पानी दे
रहा है
फिर भी
हर कार्य में पारदर्शिता और जवाब देही है
क्या यह
हस्यास्पद नहीं है | श्री मान जी तीन वर्षो से
री बोर का प्रार्थना पत्र दिया जा रहा था और तब जा कर यह हैंड पंप
लगाया गया काफी टालमटोल के पश्चात् और छह महीने भी नहीं चला
| जब एक निजी हैंडपंप लगता है वह
पांच वर्षो तक आराम से चलता है और
यह इंडिया मार्का हैण्ड पंप छह
महीने के
भीतर एक
बार नगर पालिका द्वारा बनवाया जा
चुका है
और इसके बावजूद इस
बार पानी छोड़ चूका है डिटेल वास्ते संलग्नक देखे |
नियत तिथि:
03 – Jul – 2019
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:

आवेदन
का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन
सन्दर्भ
18 – Jun – 2019
अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका जनपदमिर्ज़ापुर,मिर्ज़ापुर
अनमार्क

Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com>
छह महीने भी नहीं हुआ बने हैंड पंप लगे रुक रुक कर गंदा पानी दे रहा है फिर भी हर कार्य में पारदर्शिता और जवाब देही है क्या यह हस्यास्पद नहीं है |
1 message
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> 18 June 2019 at 11:13

To: pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, presidentofindia@rb.nic.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, cmup <cmup@up.nic.in>, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko <uphrclko@yahoo.co.in>, lokayukta@hotmail.com

Matter of fact is concerned new Handpump installed in the Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road District-Mirzapur PIN Code-231001 by Nagar Nigam Mirzapur on the request of re-bore of old Handpump made frequently by the applicant. 
At most six months passed when the new Hand pump was installed in the Mohalla-Surekapuram by the Nagar Nigam Mirzapur and it regrettable that after pumping out one bucket of water it leaves the water and after five minutes of wait then it pumps out again a bucket of water moreover it is pumping out muddy water. According to Yogi Adityanath Sir, he will have zero tolerance with the corruption but think about the gravity of situation that such a third grade work is being carried out under his regime.
Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of Hon’ble Sir with due respect to the following submissions as follows.

1-It is submitted before the Hon’ble Sir that  51A. Fundamental duties It shall be the duty of every citizen of India (a) to abide by the Constitution and respect its ideals and institutions, the National Flag and the National Anthem;(h) to develop the scientific temper, humanism and the spirit of inquiry and reform;

(i) to safeguard public property and to abjure violence;
(j) to strive towards excellence in all spheres of individual and collective activity so that the nation constantly rises to higher levels of endeavour and achievement.

2-It is submitted before the Hon’ble Sir that Hon’ble Sir may be pleased to  take a glance of following report submitted by the staffs of municipality Mirzapur on the Jansunwai portal of the government of Uttar Pradesh.

3-It is submitted before the Hon’ble Sir that Hon’ble Sir may be pleased to  take a glance of the following grievance submitted on the Jansunwai portal of the government of Uttar Pradesh in regard to rebore of the aforementioned Hand pump.

आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
15199170372486
आवेदक कर्ता का नाम:
महेश प्रताप सिंह
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,0
विषय:
Please direct appropriate authority to repan public hand pump
नियत तिथि:
25 – Oct – 2017
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
प्राप्त अनुस्मारक
क्र..
अनुस्मारक
प्राप्त दिनांक
1
Sir, whether the reports are submitted on the Jansunwai portal of the government of Uttar Pradesh bearing no date and letter number How will the Hand pump be re-bored if the Virendra Kumar Shrivastava like executive officer of municipality Mirzapur will remain posted who are busy in satisfying its friends circles belonging to the Samajwadi party and newly made friends of Bhartiya Janta Party Whether it is justified that those posted during the regime of the outgoing incumbent and reigned in the district as executive officer of the municipality Mirzapur city for a longer duration by perpetrating its misrule, anarchy and tyranny and ongoing incumbent also posted as the same personnel, as the executive officer of the municipality Mirzapur city How much surprising that Virendra Kumar Shrivastava because of its influence and approach in Samajwadi party entertained the long span of posting in the district and now in the BJP rule also having the likewise patronage of political masters Consequently, people are facing the same misrule and tyranny as was earlier
26 Jun 2018
2
श्री मान जी भीषण गर्मी पड़ रही है और सरकार कोई कारगर कदम ले ही नही रही है सिर्फ सुरेकपुरम ही नही मिर्ज़ापुर के समस्त हैण्ड पंप या तो सूख गये है या पानी के स्थान पर कीचड़ उगल रहे है या फिर साबुन वाला झाग | क्या इसी प्रकार पेय जल की समस्या हल होगी | समाचार पत्रों में कही अमृत पेयजल शुरू होता है तो कही तो कही कोई और जानदार शब्द खोजा जाता है किन्तु इन शब्दों से इस गर्मी में प्यास नही बुझेगी |आप शिकायत को को चाहे सी केटेगरी में करे या डी उन पर कोई प्रभाव नही पड़ने वाला है क्यों की उन्हें कार्यवाही का भय है ही नही |क्या यह आराजकता नही है की जिले के सभी सार्वजनिक हैंडपंप बेकार हो गये |
12 May 2018
3
श्री मान जी क्या यही सुशासन है की जिला प्रशासन पेयजल की समस्या को गंभीरता से नही ले रहा है | सन्दर्भ पुनर्जीवित हुआ क्यों की निस्तारण नियम सम्मत नही था | फीडबैक दिनांक 20102017को फीडबैक जनसुनवाई पोर्टल पर प्रस्तुत जनसमस्याओं का निस्तारण मुख्यमंत्री कार्यालय के देख रेख में होता है फिर किस बात का इन्तजार किया जा रहा है | लगभग चार महीने बीतने को है और हर महीने समीक्षा होती है क्या किसी का ध्यान इस ओर नही गया क्या यह गर्मी भी बिना जल की त्रासदी में ही बीतेगी | तीन वर्षो से जिला प्रशासन इस हैण्ड पंप का रीबोर करा रही है और परिणाम सीफर रहा पहले सपा सरकार टाल मटोल कर रही थी और अब योगी सरकार | लाखो प्रयास हो जब तक योग्य प्रशासक नही होगा व्यवस्था में कोई सुधार नही होगा| झूठे कागजी आकणे व्यक्ति को सफलता नही दिला सकते |
01 Mar 2018
फीडबैक :
दिनांक 20/10/2017को फीडबैक:- Most revered Sir Your applicant invites the kind attention of Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows. 1-It has been submitted before the Hon’ble Sir that reboring of public hand pump installed in Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road awaiting reboring. Most revered Sir Your applicant invites the kind attention of Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows. 1-It has been submitted before the Hon’ble Sir that reboring of public hand pump installed in Mohalla-Surekapuram, Jabalpur Road awaiting reboring. 2-It is submitted before the Hon’ble Sir that ipso facto obvious from aforementioned registered grievance that was referred to executive engineer municipality Mirzapur city. The job Executive Officer and his subordinates are confined to repair of Hand pump and now matter has been referred to following public authority as follows 3-It had been submitted to the Hon’ble Sir that reboring is needed not repairing then why the matter was referred to those whose job is to repair the hand pump. How the grievance can be considered redressed if no reboring was carried out.If the concerned were really interested in redressing the grievance, then they had to ensure reboring of the defective hand pump. This is a humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in an arbitrary manner by making a mockery of law of land? This is need of the hour to take harsh steps against the wrongdoers in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray you, Hon’ble Sir. Yours sincerely Yogi M. P. Singh, Mobile number-7379105911, Mohalla- Surekapuram, Jabalpur Road, District-Mirzapur, Uttar Pradesh. Pin code-231001.
फीडबैक की स्थिति:
सन्दर्भ पुनर्जीवित
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
श्री जवाहर लाल(संयुक्त सचिव मुख्यमंत्री कार्यालय )
19 – May – 2017
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
कृपया नियमानुसार कार्यवाही की अपेक्षा की गई है।
11/10/2017
श्रीमान जी की सेवा में विस्तृत आख्या सादर प्रेषित है.
C-श्रेणीकरण
2
आख्या
जिलाधिकारी ( )
03 – Oct – 2017
अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका जनपदमिर्ज़ापुर,मिर्ज़ापुर
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें श्रीमान जी की सेवा में विस्तृत आख्या सादर प्रेषित है.
11/10/2017
श्रीमान जी की सेवा में विस्तृत आख्या सादर प्रेषित है.
आख्या उच्च स्तर पर प्रेषित
3
आख्या
मुख्यमंत्री कार्यालय
21 – Dec – 2017
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
कृपया नियमानुसार कार्यवाही की अपेक्षा की गई है।पेयजल की व्यवस्था हेतु तत्काल कार्यवाही किये जाने की अपेछा की गयी है
22/12/2017
आख्या संलग्न है
आख्या प्राप्त/प्रेषित/अनुमोदन लंबित
4
आख्या
जिलाधिकारी ( )
21 – Dec – 2017
नगर मजिस्ट्रेट मिर्ज़ापुर,राजस्व एवं आपदा विभाग
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें आख्या संलग्न है
22/12/2017
आख्या संलग्न है
आख्या उच्च स्तर पर प्रेषित

This is a humble request of the applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness, and chaos in an arbitrary manner by making the mockery of law of land? This is need of the hour to take harsh steps against the wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray you, Hon’ble Sir.                                                                                     Yours sincerely

   Date-18/06/2019                                                                           Yogi M. P. Singh, Mobile number-7379105911, Mohalla- Surekapuram, Jabalpur Road, District-Mirzapur, Uttar Pradesh, Pin code-231001.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Yogi
1 year ago

छह महीने भी नहीं हुआ बने हैंड पंप लगे रुक रुक कर गंदा पानी दे रहा है फिर भी हर कार्य में पारदर्शिता और जवाब देही है क्या यह हस्यास्पद नहीं है | श्री मान जी तीन वर्षो से री बोर का प्रार्थना पत्र दिया जा रहा था और तब जा कर यह हैंड पंप लगाया गया काफी टालमटोल के पश्चात् और छह महीने भी नहीं चला | जब एक निजी हैंडपंप लगता है वह पांच वर्षो तक आराम से चलता है और यह इंडिया मार्का हैण्ड पंप छह महीने के भीतर एक बार नगर पालिका द्वारा बनवाया जा चुका है और इसके बावजूद इस बार पानी छोड़ चूका है डिटेल वास्ते संलग्नक देखे |

Arun Pratap Singh
1 year ago

फीडबैक : दिनांक 09/07/2019को फीडबैक:- अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका -जनपद-मिर्ज़ापुर,मिर्ज़ापुर — 28/06/2019 श्रीमान जी की सेवा में विस्तृत आख्या सादर प्रेषित है. निस्तारित आख्या के अनुसार प्रकरण को हैंडपंप जलकल निगम मिर्ज़ापुर को दिनांक २७/०६/२०१९ निस्तारण वास्ते भेजा गया जो की उपयुक्त है इससे स्पष्ट है की प्रकरण नगर पालिका मिर्ज़ापुर से सम्बंधित नहीं है वल्कि हैंडपंप जलकल निगम मिर्ज़ापुर से है | प्रश्न यह है की जिलाधिकारी महोदय इतने सचेत है की उनके अनुसार प्रकरण का निस्तारण हो चूका क्यों की आख्या लग गयी जन सुनवाई पर | श्री मान जी अब हैंडपंप जलकल निगम मिर्ज़ापुर की जवाबदेही तय कराई जाय | श्री मान जी सामान्य हैंडपंप भी पांच वर्षो तक रिपेयरिंग तक नहीं मांगते है | यह स्टैण्डर्ड क्वालिटी का हैंड पंप है फिर यह विकृतिया क्यों | कही ऐसा न हो अधिशासी अभियंता नगरपालिका की रिपोर्ट को ठन्डे बस्ते में डाल दिया जाय |

Beerbhadra Singh
1 year ago

Since the date hand pump was installed pumping out dirty water and still our political Masters are saying that they are providing good governance and people are being misled by them. Moreover concern government staff only the matter forwarded to them who are directly concerned with the rebore of Handpump but on that basis grievance was considered disposed providing any reprieve to the aggrieved people of the area concerned. Here this question arises that whether the grievance was disposed on the merit of the grievance if not how the reprieve was provided to the aggrieved as they had only transferred the letter from one table to the other table. Whether our government functionaries have set the new rule to dispose the grievance that they transfer the grievance from one table to the other table ipso facto obvious from the post.