Construction was made when complaint was pending and latter same construction proved stumbling block

Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh
<yogimpsingh@gmail.com>
मुख्‍यमंत्री कार्यालय, उत्तर प्रदेश
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh <yogimpsingh@gmail.com> 1 July 2017 at 19:51
To: cmup <cmup@up.nic.in>

Subject-Regarding the redressal of grievance on august portal of 
of government of Uttar Pradesh.
Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of Hon’ble 
Sir with due respect to following submissions as follows.

1-It is submitted before the Hon’ble Sir that प्रस्तुत शिकायत को २८-नवम्बर -२०१६ 

को निस्तारित होना चाहिए था किन्तु इसका निस्तारण २४-जून -२०१७ को किया गया | बहुत 
अफसोस की बात है की यह निस्तारण मुख्यमंत्री कार्यालय के दो अनुस्मारक के पश्चात संभव हुआ |
आवेदन काविवरण
शिकायतसंख्या
40017516003676
आवेदक कर्ताका नाम:
Shiv Bahadur Singh
आवेदक कर्ताका मोबाइलन०:
8765371076,8765371076
विषय:
Your applicant is retired personnel of Army of government of India and now facing the
 lawlessness and anarchy in the government of India specially government of Uttar Pradesh छोटा नाला एक परिवार के व्यक्तियों ने जो की दबंग किस्म के है बीच से पाट दिया 
वहनाला बड़े नाला में मिलता है और बड़ा नाला नदी में मिलता है यह नाला बरसात के जल 
जमाव कोरोकने का एकमात्र सहारा है अब हम लोगो की फसल चौपट हो जाती है और घर में 
पानी घुसने काभय बना रहता है तहसील प्रशासन और पुलिस मूकदर्शक बनी रहती है |With 
due respect your applicant wants to draw the kind attention of the Hon’ble Sir to the 
following submissions as follows 1-It is submitted before the Hon’ble Sir that according
 to SDM PHOOLPUR report ,Drainage passes through various plot numbers whose legal
 holders oppose the drainage existed since 50 years is sheer misleading as only one plot 
holder has damaged the drainage and concerned aggrieved are whole heartedly opposing 
with its teeth and nail Please take a glance of attached documents 2-It is submitted before
 the Hon’ble Sir that please take a glance of aforesaid misleading report attached with this
 representation containing various plot numbers without the name of its holders 
apparently implying that all holders are adverse to 50 years old existed drainage lone
 passage for exit of rain water Plot number 30 belong to following aggrieved 1-Chandra 
Bali Singh SO Vijay Bahadur Singh ,Mobile number-9451541800 ,2-Shiv Bahadur Singh
 SO Vijay Bahadur Singh ,Mobile number- 8765371076 , Suresh Kumar Singh SO Vijay 
Bahadur Singh ,Tej Bahadur Singh SO Vijay Bahadur Singh , Why those will oppose 
existed drainage who have already submitted various representations to the accountable 
public functionaries 3-It is submitted before the Honble Sir that think about the precedent 
being set up by public functionaries by colluding with wrongdoers and gravity of 
situation If in this way canals and drainage will be damaged in the name plot numbers 
and not existed in the record of government ,then think about aftermath scenario I know
 that your SDM is not so competent that he may evaluate the huge losses occurred after 
such tragic events but there are other public staffs who can easily guess the aftermath 
anarchy 4-It is submitted before the Honble Sir that उपरोक्त को नजीर मानते हुए दुसरे 
भी नाले को पाट दे तो क्या तब भी आपचुप रहेगे तब 
तो अगल बगल की आबादी बरसात में डूब जाएगी क्यों की बहुत से ऐसे नाले है जोपूर्ण रूप से 
सरकारी दस्तावेजो में दर्ज नही है |
नियत तिथि:
28 – Nov – 2016
शिकायत कीस्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
प्राप्त अनुस्मारक 
क्र..
अनुस्मारक
प्राप्त दिनांक
1
यह जनशिकायत समय सीमा के अंतर्गत निस्तारित  होने के कारण आपके स्तर परडिफाल्टर होकर लंबित है
जनशिकायत के अधिक समय तक लंबित रहने की स्थितिसंतोषजनक नहीं हैकृपया प्रकरण का तत्काल 
नियमानुसार निस्तारण किया जाना अपेक्षितहै | – मुख्यमंत्री कार्यालय
08 Mar 2017
2
यह जनशिकायत समयसीमा के अंतर्गत निस्तारित  होने के कारण आपके स्तर परडिफाल्टर होकर लंबित है
जनशिकायत के अधिक समय तक लंबित रहने की स्थितिसंतोषजनक नहीं हैकृपया प्रकरण का तत्काल 
नियमानुसार निस्तारण किया जाना अपेक्षितहै | —मुख्यमंत्री कार्यालय
30 Jan 2017
फीडबैक :
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ काप्रकार
आदेश देनेवाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्यादिनांक
आख्या
नियत दिनांक
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइनसन्दर्भ
13 – Nov – 2016
मंडलायुक्त मण्डल इलाहाबाद,
27 – Jun – 2017
जिलाधिकारी,इलाहाबाद कीआख्‍याअवलोकनार्थप्रेषित
निस्तारित
2
आख्या
मंडलायुक्त ( )
10 – Feb – 2017
जिलाधिकारीइलाहाबाद,
नियमनुसारआवश्यककार्यवाही करें पन:मौके पर जांचकरायी जाय तथाशिकायतकर्ता कीजो 
शिकायत हैउसका निस्‍तारणकराकर आख्‍या देजिससे सन्‍दर्भ कानिस्‍तारण हो सकेपनमौके
 परजांच करायी जायतथाशिकायतकर्ता कीजो शिकायत हैउसका निस्‍तारणकराकर आख्‍या दे
जिससे सन्‍दर्भ कानिस्‍तारण हो सके
10 – Apr – 2017
जाँच आख्याअवलोकनार्थसादर प्रेषित
अस्वीकृत
3
आख्या
मंडलायुक्त ( )
10 – Feb – 2017
जिलाधिकारीइलाहाबाद,
नियमनुसारआवश्यककार्यवाहीकरें जिलाधिकारी,इलाहाबाद कीआख्‍याअवलोकनार्थप्रेषित
24 – Jun – 2017
जाँच आख्याअवलोकनार्थसेवा सादरप्रेषित है
निस्तारित
4
आख्या
जिलाधिकारी ( )
13 – Feb – 2017
उप जिलाधि‍कारी फूलपुर,जनपदइलाहाबाद,
राजस्व एवं आपदाविभाग
नियमनुसारआवश्यककार्यवाहीकरें जाँच आख्याअवलोकनार्थसादर प्रेषित
04 – Apr – 2017
प्रार्थना पत्रनिस्‍तारितअनुमोदन हेतुआख्‍या प्रेषित
अस्वीकृत
5
आख्या
जिलाधिकारी ( )
13 – Feb – 2017
उप जिलाधि‍कारी फूलपुर,जनपदइलाहाबाद,
राजस्व एवं आपदाविभाग
नियमनुसारआवश्यककार्यवाहीकरें जाँच आख्याअवलोकनार्थ सेवासादर प्रेषित है
24 – Jun – 2017
प्रार्थना पत्रनिस्‍तारितअख्‍याअवलोकनार्थहेतु प्रेषित
निस्तारित
२-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी आख्या में 
लिखा है आवेदक प्रार्थना पत्र  देने का आदी हो गया है |श्री मान जी उपजिलाधिकारी 
फूलपुर को मालूम होना चाहिए की वह जनता के नौकर है इसलिए कोई भी टिप्पड़ी 
करने से पहले अपनी सीमा अच्छी ढंग से समझ ले | 
३-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी उपजिलाधिकारी 
फूलपुर जो आज अपने रिपोर्ट में कह रहे है कास्तकारो ने अपने भूमिधरी जमीन में घर बनवा 
लिया है तो वह घर भी इस शिकायत के निर्णयाधीन होने के समय ही बना क्या शिकायत को 
पेंडिंग रख कर अपरोक्ष रूप से घर इसी लिए बनवाया गया जिससे रिपोर्ट में लिखा जा 
सके की कास्तकारो ने घर बनवा लिए |
४-It is submitted before the Hon’ble Sir that तीन विस्वा वाला कास्तकार बहुत से 
कास्तकार हो गये क्यों की उसके लिए कास्तकारों शब्द का इस्तमाल किया गया और प्रार्थी जो 
दस बीघा डूबने की वजह कास्तकारो की फसल चौपट हो रही है वे कास्तकार हो गये |अपनी 
जमीन में घर बना लिए एक hume पाइप तक निकलने नही दिए और सड़क पर पशु  बाध कर 
सड़क चौपट करते है और सामने की सारी जमीन जो की गवर्नमेंट की है उसका उपयोग कर रहे 
है और जो व्यक्ति मालगुजारी दे रहा है सरकार के कोश को बढ़ा रहा उसकी फसल पानी में 
डुबो रहे है उपजिलाधिकारी महोदय को अपने भारी भरकम तनख्वाह से मतलब है यदि किसी 
महीने में न मिले तो उनकी सूरत देखिये |

५-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी नाला पाटने का विरोध हुआ 
किन्तु कार्यवाही करने के बजाय वहा घर बनवा दिया गया अब तो सरकार को चाहिए की हर वर्ष 
जितनी फसल चौपट हो उसकी भरपाई करे जोकि न्याय की मांग है किन्तु न्याय तो इस सर जमी 
से बहुत पहले उठ गया है |
                                        This is a humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in an arbitrary manner by making the mockery of law of land? There is need of hour to take harsh steps against the wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray you, Hon’ble Sir.                                                          
                                                    Yours sincerely 
                                                  शिव बहादुर सिंह पुत्र विजय बहादुर सिंह
ग्राम -सरायजीत राय उर्फ पुरेभावा ,तहसील -फूलपुर , थाना -मऊआईमा जनपद -इलाहांबाद   उत्तर प्रदेश                                         
                                                                                                                        

2017-07-01 12:28 GMT+05:30 <cmup@up.nic.in>:

प्रिय महोदय,
        आपका ईमेल मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक ईमेल पर प्राप्त हुआ है.  यदि आपका ईमेल जनशिकायत श्रेणी का है

तो आपको सविनय अवगत कराना है कि मुख्यमंत्री कार्यालय, उ०प्र० द्वारा जनता की शिकायतों को दर्ज किए जाने हेतु उ०प्र०

सरकार का आधिकारिक ऑनलाइन पोर्टल ‘जन-सुनवाई’ विकसित किया गया है जिसका वेब एड्रेस नीचे दिया गया है –
http://jansunwai.up.nic.in/Home2.html
आपसे निवेदन है कि अपनी शिकायतों के त्‍वरित निस्‍तारण हेतु जनसुनवाई पोर्टल का प्रयोग करें
ध‍न्‍यवाद।
मुख्‍यमंत्री कार्यालय, उ०प्र०
नोट- वेबसाइट या जनसुनवाई के मोबाइल app के माध्यम से ऑनलाइन दर्ज की गयी शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा भी

मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा गहनता से की जाती है |
जनसुनवाई मोबाइल app डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें|
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.nic.up.jansunwai.upjansunwai
शिकायत के वेबसाइट पर दर्ज होने के पश्चात की प्रक्रिया –
 आपके मोबाइल पर sms/ईमेल के माध्यम से चौदह अंकों की शिकायत/सन्दर्भ पंजीकरण संख्या प्राप्त होगी | इस पंजीकरण

संख्या एवं दर्ज मोबाइल नंबर/ईमेल के माध्यम से आप किसी भी समय अपनी शिकायत की स्थिति सीधे वेबसाइट या मोबाइल

app पर देख सकते हैं एवं निस्तारण के पश्चात निस्तारण आख्या भी देख सकते हैं |
 इसके अतिरिक्त किसी भी स्तर पर शिकायत के अधिक समय तक लंबित रहने पर आप अपनी शिकायत का रिमाइंडर भी भेज

सकते हैं तथा निस्तारण आख्या से असंतुष्टि की दशा में अपना फीडबैक भी पोर्टल पर दर्ज कर सकते हैं| आपके फीडबैक का

मूल्यांकन निस्तारणकर्ता अधिकारी से एक स्तर उच्च अधिकारी द्वारा किया जाएगा|
मूल्यांकन में आपकी आपत्तियों से सहमति की दशा में आपका संदर्भ/शिकायत पुनर्जीवित हो जायेगी, तथा उसका पुनः परीक्षण कर

गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित किया जाएगा|


4 attachments
img096.jpg
2131K
Shiv Bahadur Singh.jpg
482K
Damage of drainage by muscle men because insensitivity of Tahsil.pdf
779K
Why more construction is taking place on the drainage even from reports of
police and others ipso facto obvious that drainage is more than 50 years old_.pdf

399K

2 comments on Construction was made when complaint was pending and latter same construction proved stumbling block

  1. नियमनुसारआवश्यककार्यवाही करें पन:मौके पर जांचकरायी जाय तथाशिकायतकर्ता कीजो
    शिकायत हैउसका निस्‍तारणकराकर आख्‍या देजिससे सन्‍दर्भ कानिस्‍तारण हो सके, पन: मौके
    परजांच करायी जायतथाशिकायतकर्ता कीजो शिकायत हैउसका निस्‍तारणकराकर आख्‍या दे
    जिससे सन्‍दर्भ कानिस्‍तारण हो सकेश्री मान जी नाला पाटने का विरोध हुआ
    किन्तु कार्यवाही करने के बजाय वहा घर बनवा दिया गया अब तो सरकार को चाहिए की हर वर्ष
    जितनी फसल चौपट हो उसकी भरपाई करे जोकि न्याय की मांग है किन्तु न्याय तो इस सर जमी
    से बहुत पहले उठ गया है |

  2. Report must be logical and law of land must be pursued but here nothing is so.
    अग्रसारित विवरण-
    क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या नियत दिनांक स्थिति आख्या रिपोर्ट
    1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 13 – Nov – 2016 मंडलायुक्त मण्डल -इलाहाबाद, — 27 – Jun – 2017 जिलाधिकारी, इलाहाबाद की आख्‍या अवलोकनार्थ प्रेषित निस्तारित
    2 आख्या मंडलायुक्त ( ) 10 – Feb – 2017 जिलाधिकारी-इलाहाबाद, नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें पन: मौके पर जांच करायी जाय तथा शिकायतकर्ता की जो शिकायत है उसका निस्‍तारण कराकर आख्‍या दे जिससे सन्‍दर्भ का निस्‍तारण हो सके , पन: मौके पर जांच करायी जाय तथा शिकायतकर्ता की जो शिकायत है उसका निस्‍तारण कराकर आख्‍या दे जिससे सन्‍दर्भ का निस्‍तारण हो सके 10 – Apr – 2017 जाँच आख्या अवलोकनार्थ सादर प्रेषित अस्वीकृत
    3 आख्या मंडलायुक्त ( ) 10 – Feb – 2017 जिलाधिकारी-इलाहाबाद, नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें जिलाधिकारी, इलाहाबाद की आख्‍या अवलोकनार्थ प्रेषित 24 – Jun – 2017 जाँच आख्या अवलोकनार्थ सेवा सादर प्रेषित है निस्तारित
    4 आख्या जिलाधिकारी ( ) 13 – Feb – 2017 उप जिलाधि‍कारी -फूलपुर,जनपद-इलाहाबाद,राजस्व एवं आपदा विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें जाँच आख्या अवलोकनार्थ सादर प्रेषित 04 – Apr – 2017 प्रार्थना पत्र निस्‍तारित अनुमोदन हेतु आख्‍या प्रेषित अस्वीकृत
    5 आख्या जिलाधिकारी ( ) 13 – Feb – 2017 उप जिलाधि‍कारी -फूलपुर,जनपद-इलाहाबाद,राजस्व एवं आपदा विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें जाँच आख्या अवलोकनार्थ सेवा सादर प्रेषित है 24 – Jun – 2017 प्रार्थना पत्र निस्‍तारित अख्‍या अवलोकनार्थ हेतु प्रेषित निस्तारित

Leave a Reply

%d bloggers like this: