Bureaucrats are only to say public srvants actually they are kings and we are to abide by their dictations

आवेदन का विवरण
शिकायत संख्या
15199170324497
आवेदक कर्ता का नाम:
महेश प्रताप सिंह
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
7379105911,0
विषय:
B.D.O.
patehra kalan may be instrumental in completing requisite formalities.
नियत तिथि:
08 –
Oct – 2017
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 18/11/2017को
फीडबैक:-
Following
representation was made by aggrieved itself before the accountable public
functionaries in this country on on 6-May-2017 but still nothing concrete
step was taken by the concerned .
मोदी सर एवं परम आदरणीय योगी आदित्य नाथ जी क्या आप लोगो के दिल में
बिधवाओं के प्रति कोई सहानुभूति हो तो प्रार्थी को बिधवा पेंशन न मिलने को
गंभीरता से ले और संबंधितो के खिलाफ कार्यवाही करे
| विषय –प्रार्थी को विधवा
पेंशन प्रदान करने के सम्बन्ध में
|प्रार्थी दो
वर्ष से परेशान है कोई ब्यथा सुनने वाला नही है
| With great respect to revered Sir, your applicant
invites the kind attention of the Hon’ble Sir to the following submissions as
follows. 1-It is submitted before the Hon’ble Sir that
जैसा कि आप को बिदित हो कि प्रार्थी
की ओर से जनपद सामाजिक कार्यकर्ता श्री योगी एम्. पी. सिंह द्वारा
दिनांक-०७-०२-२०१७ उत्तर प्रदेश सरकार के जन सुनवाई ब्यथा निवारण पोर्टल पर आप
के प्रार्थी की बिधवा पेंशन के बारे में पूछ ताछ की और उसी क्रम में जिला
प्रोबेशनरी अधिकारी ने खंड विकास अधिकारी पटेहरा कलां मिर्ज़ापुर को पत्र लिखा है
|श्री मान जी प्रस्तुत शिकायत के साथ
लगे संलग्नक के पेज
2 का अवलोकन करे | 2-It is submitted before the Hon’ble
Sir
श्री मान जी तीन
महीने से ज्यादा बीत गये किन्तु अभी तक सिर्फ टाल मटोल हो रहा है कोई संतोष जनक
प्रगति प्रकरण में नही हुआ प्रार्थी को दो नाबालिक लडकिया व एक पांच वर्ष का
बेटा है जिनके भरण पोषण की जिम्मेदारी प्रार्थी पर है
| नियम तो था ग्राम सभा के स्तर से अब तक नाम जिला
प्रोबेशनरी कार्यालय पहुच जाता किन्तु ब्यवस्था का कछप गति किसी से छुपी नही है
| 3-It is submitted before the Hon’ble
Sir
श्री मान जी पुरातन
काल से ही भिन्न भिन्न परम्पराए और रीति रिवाज बना कर पुरुष प्रधान समाज सिर्फ
महिलाओं का शोषण किया है और महिलाओं को न्याय कभी नही मिला
| पति किसी सरकारी सर्विस में तो थे नही इसलिए कोई फण्ड
इत्यादि तो मिला नही और पेंशन भी नही मिली और विधवा पेंशन जो सरकार देती है उसको
उसके मुलाजिम अपने जेब का पैसा समझते है जिसको चाहे दे चाहे तो न दे
| इसलिए सरकार सिर्फ हम गरीबो को दौड़ना ही भाग्य में लिखा
होता है
| This is humble
request of your applicant to you Hon’ble Sir that It can never be justified
to overlook the rights of citizenry by delivering services in arbitrary
manner by floating all set up norms. This is sheer mismanagement which is
encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving
poor citizens from right to justice. Therefore it is need of hour to take
concrete steps in order to curb grown anarchy in the system. For this your
applicant shall ever pray you Hon’ble Sir. Yours sincerely
एकता सिंह पति दिवंगत श्री श्याम
नारायण सिंह ग्राम पंचायत –पटेवर
, विकास खंड
–पटेहरा
कलां District-Mirzapur , Uttar Pradesh ,India.
फीडबैक की स्थिति:
फीडबैक प्राप्त
आवेदन का संलग्नक
अग्रसारित
विवरण-
क्र.स.
सन्दर्भ का प्रकार
आदेश देने वाले अधिकारी
आदेश दिनांक
अधिकारी को प्रेषित
आदेश
आख्या दिनांक
आख्या
नियत दिनांक
स्थिति
आख्या रिपोर्ट
1
अंतरित
रिग्जियान
सैम्फिल(विशेष सचिव मुख्यमंत्री कार्यालय )
02 – Jun – 2017
जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर,
कृपया
नियमानुसार कार्यवाही की अपेक्षा की गयी है। 
19 – Sep – 2017
ok
निस्तारित
2
आख्या
जिलाधिकारी
( )
09 – Sep – 2017
मुख्य
विकास अधिकारी-मिर्ज़ापुर,ग्राम्‍य विकास विभाग
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करेंok
18 – Sep – 2017
ok
निस्तारित
3
आख्या
मुख्य
विकास अधिकारी (ग्राम्‍य विकास विभाग )
12 – Sep – 2017
खण्‍ड
वि‍कास अधि‍कारी-पथेरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,ग्राम्‍य विकास विभाग
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करेंok
18 – Sep – 2017
आख्या
निस्तारित
निस्तारित

From
<http://jansunwai.up.nic.in/TrackGraviancePopup.aspx?complainno=15199170324497&Emaild=yogimpsingh@gmail.com&IsOldNew=N&Type=2

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh

श्री मान जी पुरातन काल से ही भिन्न भिन्न परम्पराए और रीति रिवाज बना कर पुरुष प्रधान समाज सिर्फ महिलाओं का शोषण किया है और महिलाओं को न्याय कभी नही मिला | पति किसी सरकारी सर्विस में तो थे नही इसलिए कोई फण्ड इत्यादि तो मिला नही और पेंशन भी नही मिली और विधवा पेंशन जो सरकार देती है उसको उसके मुलाजिम अपने जेब का पैसा समझते है जिसको चाहे दे चाहे तो न दे | इसलिए सरकार सिर्फ हम गरीबो को दौड़ना ही भाग्य में लिखा होता है |

Arun Pratap Singh
3 years ago

श्री मान जी पुरातन काल से ही भिन्न भिन्न परम्पराए और रीति रिवाज बना कर पुरुष प्रधान समाज सिर्फ महिलाओं का शोषण किया है और महिलाओं को न्याय कभी नही मिला | पति किसी सरकारी सर्विस में तो थे नही इसलिए कोई फण्ड इत्यादि तो मिला नही और पेंशन भी नही मिली और विधवा पेंशन जो सरकार देती है उसको उसके मुलाजिम अपने जेब का पैसा समझते है जिसको चाहे दे चाहे तो न दे | इसलिए सरकार सिर्फ हम गरीबो को दौड़ना ही भाग्य में लिखा होता है | This is humble request of your applicant to you Hon'ble Sir that It can never be justified to overlook the rights of citizenry by delivering services in arbitrary manner by floating all set up norms. This is sheer mismanagement which is encouraging wrongdoers to reap benefit of loopholes in system and depriving poor citizens from right to justice. Therefore it is need of hour to take concrete steps in order to curb grown anarchy in the system. For this your applicant shall ever pray you Hon'ble Sir. Yours sincerely एकता सिंह पति दिवंगत श्री श्याम नारायण सिंह ग्राम पंचायत –पटेवर, विकास खंड –पटेहरा कलां District-Mirzapur , Uttar Pradesh ,India.
फीडबैक की स्थिति:

Beerbhadra Singh
Beerbhadra Singh
7 months ago

One can easily guess from the procrastination of the concerned public functionaries that what they want. Government is providing huge amount as the emoluments of salary but these public functionaries are so greedy that without taking bribe they are not satisfied with their jobs.