सोचिये तहसीलदार सदर खुद तालाब पटवा रहे है जब की पूरा मामला ही पश्चिमी छोर का न हो कर पूर्वी छोर का है घोर कलियुग

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
40019918011253
आवेदक कर्ता का
नाम:
हरिश्चंद
पासी
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
7054703028,7054703028
विषय:
श्री मान जिलाधिकारी महोदय प्रार्थी द्वारा तीन प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किये गये जिनका शिकायत क्रमांक और तहसीलदार सदर की
आख्या निम्न तीन प्रस्तर खंडो में है | आप को सर बहुत आश्चर्य होगा की तहसीलदार सदर की
कार्यवाही इतनी कारगर सिद्ध हुई की
दो नये मड़हे और
चढ़ गये तालाब के
भीटे पर| तहसीलदार सदर इतने चुपके से कार्यवाही करते है
की शिकायत करता भी
नही मालूम होता है
की उनकी आख्या का
आधार क्या है | श्री मान जी इनकी तीनो आख्या खुद में बिरोधाभास है
| पहले रिपोर्ट में शेष भाग पश्चिम तरफ लिये गये अवैध कब्जेर को हटवाने हेतु विपक्षी को कहा गया, विपक्षी हटाने को
तैयार है| दुसरे रिपोर्ट में उन
लोगों कोभी अवैधकब्जाा हटाने केलिए कहा गयाएवं कब्जेदारोंको 15 दिन काकब्जा‍ हटाने केलिए समयदिया गया है।यदि कब्जा् नहींहटाते हें तोउनके विरूद्धबेदखली कीकार्यवाही करदी जायेगी। तीसरे रिपोर्ट में विपक्षी द्वारा जो
मडहा लगवाया गया था
अपने आप
क्षीर्ण हो
गया है
| जो खुद हटाना चाहते थे
वे नही हटाये और
बेदखली की
कार्यवाही भी
रुक गयी और तीसरी रिपोर्ट में मड़हा जीर्ण शीर्ण हो
गया और
अब दो
और मड़हे चढ़ गये | क्या अब तालाब की जमीन भी श्री मान जी
कब्ज़ा होने लगा | कितना नीचे गिरेंगे | आवेदन का विवरण शिकायत संख्या-40019918001603 तहसीलदार सदर की
रिपोर्ट कुछ इस प्रकार थी तहसीलदार सदर की
आख्या3नुसार प्रश्न गत
प्रकरण ग्राम आदमपुर के
शिकायती प्रार्थना पत्र का
स्थसलीय एवं अभिलेखीय जांच किया गया, जिसमें गाटा नं0 93 तालाब की भूमि है। इसके पश्चिमी शीरे पर सन
2006 में चकमार्ग बना है। उक्त चकमार्ग मौके पर तालाब में कट
गया है। शेष भाग पश्चिम तरफ लिये गये अवैध कब्जेप को हटवाने हेतु विपक्षी को कहा गया, विपक्षी हटाने को
तैयार है। आवेदन का
विवरण शिकायत संख्या-40019918003254 तहसीलदार सदर की
आख्यारनुसार प्रश्नगतप्रकरण में ग्रामआदमपुर केआ0नं0 93 कास्थ लीय एवंअभिलेखीयजांय कियागया।जांचोपरान्ताआ0नं0 93 तालाब की भूमिहै। तालाब कीपश्चिमी तरफचकमार्ग बनाहै। चकमार्गतालाब मेंकटकर फिसलगया है
तथातालाब कीपश्चिमी सिरेपर मडहा आदिविपक्षी द्वारारखा गया था।जिसे हटाने केके लिए कहागया औरविपक्षी हटानेके लिए तैयार हैएवं ग्राम प्रधानसे कहा गयासडक निर्माणका कार्य करायाजाय। तालाबके भीटे पर कुछलोगों द्वाराअवैध कब्जाकिया गया है।उन लोगों कोभी अवैधकब्जाा हटाने केलिए कहा गयाएवं कब्जेदारोंको 15 दिन काकब्जा‍ हटाने केलिए समयदिया गया है।यदि कब्जा् नहींहटाते हें तोउनके विरूद्धबेदखली कीकार्यवाही करदी जायेगी। शिकायत संख्या– 40019918008317 आवेदक कर्ता का नाम हरिश्चंद पासी तहसीलदार सदर की आख्या्नुसार प्रकरण में ग्राम प्रधान
द्वारा पश्चिमी छोर पर मिटटी डालकर चकरोड बनवाया गया था
, जो खिसक कर पानी में गिर गया है, ग्राम प्रधान से कहा गया कि
मिटटी फेंककर कार्य करवाये। विपक्षी द्वारा जो मडहा लगवाया गया था अपने आप
क्षीर्ण हो गया है
, ग्राम
प्रधान कहा गया कि तालाब का साफ सफाई करवाना है
, जो मिटटी खिसक गया गया है उसके ऊपर मिटटी डलवा देंगे रास्ता, पूर्ण हो जायेगा। प्रार्थी की
मदद करे जिसके लिए प्रार्थी सदैव श्री मान जी का आभारी रहेगा
| प्रार्थी हरिश्चंद पासी पुत्र छेदी लाल पासी चल भाष ७०५४७०३०२८ ग्राम आदमपुर ,पोस्ट नीबी गहरवार पिनकोड २३१३०३ जिला मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश
नियत तिथि:
29 – May – 2018
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
दिनांक 31/05/2018को फीडबैक:- श्री मान जी
शिकायतकर्ता से
लेखपाल कभी मिला ही
नही कभी भी वह
प्रधान को
छोड़ कर
किसी अन्य से संपर्क ही नही साधते ही
इसलिए वह
हमेशा प्रधान के द्वारा मिसलीड होता रहता है
| श्री मान जी
यदि शिकायतकर्ता से कोई मिल कर
शिकायत का
हल निकालेगा तो हल निकलेगा इनकी यह चौथी आख्या है
और सच
यह है
की इन्हें वस्तुस्थित की
ही जानकारी नही है
और सभी तीर अधेरे में चला रहे है
जिनका मामले से कुछ लेना देना ही नही है | श्री मान जी तालाब पटवाने की
क्या आवश्यकता है उसको तो वैसे ही लोग पाट ले
रहे है
रास्ते का
मड़हा हटवाये | इतने बड़े तालाब को पटवा दिया गया है किन्तु हमे उससे मतलब नही किन्तु पूर्वी छोर पर
तालाब के
भीटा से
मड़हा हटा कर रोड स्पस्ट किया जाय और
प्रधान जैसे लोगो का
नाम लेकर कनफूजन की
स्थिति पैदा करे | श्री मान जी पूर्वी छोर पर
मड़हा रख
कर तालाब कब्ज़ा किया गया है
नकी पश्चिमी छोर पर
|श्री मान जी
तहसील सदर में आराजकता का आकलन इसी बात से लगाया जासकता है
की कभी कोई मौके पर गया ही नही और कार्यालय में बैठे रिपोर्ट लग
गई | सरकार इतना ज्यादातनख्वाह सिर्फ कार्यालय में बैठने के
लिए देती है |इनकी सारी रिपोर्ट झूठी है और
यदि प्रार्थी से मिले हीनही तो
उसकी समस्या कैसे हल
होगयी |मै गरीब आदमी और
तहसीलदार चाहते है की
हम शक्ति संपन्नऔर प्रभावशाली राजपूतो के
क्रोध का
सामना करू | हमारे रास्ते में तो यादवो ने मड़हा लगाया नकीराजपूतो ने |तहसीलदार महोदय आपस में सौहार्द बढ़ाने की जगह बैबनस्यता पैदा कर रहे है अरे पूर्वी छोरपर रखे मड़हे को हटाये होते तो
आज दो
नये मड़हे उसी स्थान पर चढ़े होते |श्री मान जी आपनेतहसीलदार महोदय समस्या हल करते की बढ़ाते है | हम तो सिर्फ रोड सही करने के लिए सबल प्रयोगकरके लगाए गये मड़हे को
हटाने के
लिए कह
रहे जिसमे किसी का
भी अहित नही है
| किन्तु तहसीलदारमहोदय मामले को अलग रूख दे
कर लड़ाई लगा रहे है जो
सरकारी मुलाजिम को शोभा नही देता है |मड़हाजिस जगह यादव ने
लगाया है
उस जगह उनकी एक
धुर भी
जमीन नही है और
दस विस्वा कब्ज़ा किये हुएहै और
एक मड़हा हटा लेते तो क्या बिगड़ जाता उनका और
वह दस
विश्वा जमीन तालाब की
ही है
और तहसीलदार महोदय यादव से एक
मड़हा उस
जमीन से
नही हटाना चाहते है
क्यों की
अगर सिर्फ कहलवादेते तो
भी जमीन से वे
लोग मड़हा हटा लेते क्यों की
उनके कब्जे में तालाब की दस
विश्व जमीन है कुछ तो गड़बड़ है |
फीडबैक की स्थिति:
फीडबैक
प्राप्त
आवेदन
का संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन
सन्दर्भ
14 – May – 2018
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
30/05/2018
आख्या
अपलोड है
निस्तारित
2
आख्या
जिलाधिकारी ( )
14 – May – 2018
उप
जिलाधि‍कारी सदर,जनपदमिर्ज़ापुर,राजस्व एवं आपदा विभाग
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें आख्या अपलोड है
29/05/2018
तहसीलदार
सदर के आख्‍यानुसार प्रकरण में मौके पर जो मिटटी तालाब में घिसक गया है। प्रधान से कहा गया कि तालाब की सफाई करायेंगे तो मिटटी उसी पर फेंककर रास्‍ता बनवा दें प्रधान द्वारा कहा गया कि मिटटी उसी फेंकवा दिया जायेगा और रास्‍ता बन जायेगा।
निस्तारित
3
आख्या
उप
जिलाधि‍कारी (राजस्व एवं आपदा विभाग )
15 – May – 2018
तहसीलदार सदर,जनपदमिर्ज़ापुर,राजस्व एवं आपदा विभाग
नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें तहसीलदार सदर के आख्‍यानुसार प्रकरण में मौके पर जो मिटटी तालाब में घिसक गया है। प्रधान से कहा गया कि तालाब की सफाई करायेंगे तो मिटटी उसी पर फेंककर रास्‍ता बनवा दें प्रधान द्वारा कहा गया कि मिटटी उसी फेंकवा दिया जायेगा और रास्‍ता बन जायेगा।
29/05/2018
आख्‍या
अपलोड। प्रकरण में मौके पर जो मिटटी तालाब में घिसक गया है। प्रधान से कहा गया कि तालाब की सफाई करायेंगे तो मिटटी उसी पर फेंककर रास्‍ता बनवा दें प्रधान द्वारा कहा गया कि मिटटी उसी फेंकवा दिया जायेगा और रास्‍ता बन जायेगा।

4.8 4 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Mahesh Pratap Singh Yogi M P Singh

श्री मान जी शिकायतकर्ता से लेखपाल कभी मिला ही नही कभी भी वह प्रधान को छोड़ कर किसी अन्य से संपर्क ही नही साधते ही इसलिए वह हमेशा प्रधान के द्वारा मिसलीड होता रहता है | श्री मान जी यदि शिकायतकर्ता से कोई मिल कर शिकायत का हल निकालेगा तो न हल निकलेगा इनकी यह चौथी आख्या है और सच यह है की इन्हें वस्तुस्थित की ही जानकारी नही है और सभी तीर अधेरे में चला रहे है जिनका मामले से कुछ लेना देना ही नही है | श्री मान जी तालाब पटवाने की क्या आवश्यकता है उसको तो वैसे ही लोग पाट ले रहे है रास्ते का मड़हा हटवाये | इतने बड़े तालाब को पटवा दिया गया है किन्तु हमे उससे मतलब नही किन्तु पूर्वी छोर पर तालाब के भीटा से मड़हा हटा कर रोड स्पस्ट किया जाय और प्रधान जैसे लोगो का नाम लेकर कनफूजन की स्थिति न पैदा करे | श्री मान जी पूर्वी छोर पर मड़हा रख कर तालाब कब्ज़ा किया गया है नकी पश्चिमी छोर पर |

Arun Pratap Singh
2 years ago

हमारे रास्ते में तो यादवो ने मड़हा लगाया न कीराजपूतो ने |तहसीलदार महोदय आपस में सौहार्द बढ़ाने की जगह बैबनस्यता पैदा कर रहे है अरे पूर्वी छोरपर रखे मड़हे को हटाये होते तो आज दो नये मड़हे उसी स्थान पर न चढ़े होते |श्री मान जी आपनेतहसीलदार महोदय समस्या हल करते की बढ़ाते है | हम तो सिर्फ रोड सही करने के लिए सबल प्रयोगकरके लगाए गये मड़हे को हटाने के लिए कह रहे जिसमे किसी का भी अहित नही है | किन्तु तहसीलदारमहोदय मामले को अलग रूख दे कर लड़ाई लगा रहे है जो सरकारी मुलाजिम को शोभा नही देता है |मड़हाजिस जगह यादव ने लगाया है उस जगह उनकी एक धुर भी जमीन नही है और दस विस्वा कब्ज़ा किये हुएहै और एक मड़हा हटा लेते तो क्या बिगड़ जाता उनका और वह दस विश्वा जमीन तालाब की ही है और तहसीलदार महोदय यादव से एक मड़हा उस जमीन से नही हटाना चाहते है क्यों की अगर सिर्फ कहलवादेते तो भी जमीन से वे लोग मड़हा हटा लेते क्यों की उनके कब्जे में तालाब की दस विश्वा जमीन है कुछ तो गड़बड़ है |
फीडबैक की स्थिति: फीडबैक विचाराधीन

Preeti Singh
2 years ago

Think about the gravity of the situation that Tahsildaar sadar didn't show the interest to understand the contents of the Grievance/complaint. तहसीलदार सदर के आख्‍यानुसार प्रकरण में मौके पर जो मिटटी तालाब में घिसक गया है। प्रधान से कहा गया कि तालाब की सफाई करायेंगे तो मिटटी उसी पर फेंककर रास्‍ता बनवा दें प्रधान द्वारा कहा गया कि मिटटी उसी फेंकवा दिया जायेगा और रास्‍ता बन जायेगा।