लोगों ने बांधे केजरीवाल की तारीफ के पुल


केजरीवाल लूट ले गए महफिल

अलग ही समां था। गणतंत्र दिवस की 65वीं वर्षगांठ, ल‌ुटियंस दिल्ली की सबसे खास इमारत राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में भोज का आयोजन और देश-विदेश के खासमखास मेहमानों का जमघट।

करीब 4,500 मेहमान मौजूद थे और बेहद आम आदमी सा दिखने वाला यह शख्स भी इसी भीड़ का हिस्सा था, लेकिन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के ‘ऐट होम’ भोज में पहली बार पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने महामहिम की महफिल लूट ली।

अपना ट्रेडमार्क मैरून स्वेटर, मफलर और फ्लोटर पहनकर पहुंचे केजरीवाल मुगल गार्डंस में खड़े थे, तो वहां मौजूद लोग उनके ऑटोग्राफ लेने, साथ तस्वीरें खिंचवाने और कई बार तो सिर्फ हाथ मिलाने के लिए उत्साहित दिखे।

लोगों ने बांधे केजरीवाल की तारीफ के पुल

राष्ट्रपति भवन में मौजूद तमाम मेहमानों ने केजरीवाल की खूब तारीफ की। कई राजदूतों और नौकरशाहों ने इस मौके का फायदा उठाते हुए केजरीवाल को अपना इंट्रोडक्‍शन दिया। दिल्ली के मुख्यमंत्री के साथ उनके कैबिनेट सहयोगी भी थे।


जर्मन राजदूत माइकल स्टेनर ने केजरीवाल के साथ उनके मुल्क के राष्ट्रपति जोकिम गॉक से मुलाकात की चर्चा की, जो अगले महीने भारत के दौरे पर आ रहे हैं। ऐसा लगता है जैसे सीएम ऑफिस ने यह आग्रह फिलहाल ठुकरा दिया था।


1 comment on लोगों ने बांधे केजरीवाल की तारीफ के पुल

  1. Arvind Ji is one of the great men of India. Indian people have so many expectations from him. This man will save us from corrupt circle of executives ,bureaucrats and judicial members.At present our system no more remained democracy but democracy has been replaced by aristocracy. Whether any poor can get justice in this democracy where delivery of justice has been blocked by accountable functionaries by taking other organs of government in good faith.Whether there is humanity in the present incumbents if they have ,then why stern action is not being taken against wrongdoers. Who is shielding the wrongdoers ? every one knows it. Who extorts hapta? Who is is master mind behind the thefts in the area ? Who is the originator of likewise crimes in the area ,whether police don't know really?

Leave a Reply

%d bloggers like this: