स्वच्छता और सुंदरीकरण से सम्बंधित सरकार की योजनाए सिर्फ भ्रष्ट लोकसेवकों के जेबो का पोषण करते है

जांच अधिकारी महोदय किस विवेचना के आधार पर इस निष्कर्ष पर पहुंचे की सुंदरीकरण में कोई घोटाला नहीं हुआ है क्योकि स्वच्छता अभियान सुंदरीकरण अभियान सरकार  द्वारा चलाई जाने वाली वे योजनाए है जिनका उद्देश्य ही भ्रस्ट अधिकारिओं व कर्मचारिओं की जेबे भरना | जिस अधिकारी को यही नहीं मालूम है की सरकार द्वारा कितना फण्ड सुंदरी करण  हेतु आया है और कितना  सुंदरीकरण में खर्च हुआ है जब इसका विवरण उन्हें नहीं मालूम है तो वे कैसे इस निष्कर्ष पर पहुंचे की पंकज अहीर सारहीन बात कर रहे है | अपने आप को जाँच अधिकारी कहने वाला किसी तथ्य को नहीं जानता और सुंदरीकरण के डीलिंग्स से अपरिचित फिर भी पंकज अहीर के दावों को समझे बिना उनको सार हीन  कहना कहा  की बुद्धिमानी है | स्वच्छता और सुंदरीकरण से सम्बंधित सरकार की योजनाए सिर्फ भ्रष्ट लोकसेवकों के जेबो का पोषण करते है |

अपने 
आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
60000190132647
आवेदक कर्ता का
नाम:
Yogi M P Singh
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
7379105911,
विषय:
2-It is submitted before the Hon’ble Sir that मोहल्ला सुरेकापुरम नालिया जाम है
पानी ऊपर से बह
रहा है
और सफाई के नाम पर सिर्फ महज खाना पूर्ति 3-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी
क्या नगर पालिका मिर्ज़ापुर सिटी की
कोई जिम्मेदारी नही है
निस्संदेह जल जमाव की समस्या २५ वर्ष पुराना है परन्तु शुरू में मकान नही बने थे
किन्तु अब तो हजारो मकान बन गये है और नगर पालिका को विकाश के नाम पर करोडो
रुपये मिले यहा के लोगो से किन्तु जल जमाव की समस्या से निपटने के लिए नगर
पालिका का प्रयास सिफर रहा
4-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी
कोई यह
नही कह
सकता है
की यहा की समस्या जिला प्रशासन के संज्ञान में नही है और
कई बार जिला स्तरीय अधिकारिओं ने
मुहल्ले का
स्थलीय निरीक्षण भी किया किन्तु परिणाम जीरो निकला स्थानीय जनप्रतिनिधियो की स्थित हमेशा नकारात्मक रही है क्यों की उनका
अपना निधि तो अपने ही रियल स्टेट के विकाश में चला जाता है ये और बात है की
आश्वासन बहुतो ने दिया
5-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी
इस समय मुहल्ले की
स्थित इतनी ख़राब है
की नालियों से निकल कर पानी सड़क पर
बह रहा है और
इस सड़े पानी से
बदबू रही है कल्पना करे कितना कष्ट दायक है
यहा के लोगो का दैनिक जीवन जो की किसी नरक से कम नही है नगर पालिका मिर्ज़ापुर
सिटी में दाइत्वो का पूर्ण अभाव है और इनके पास समस्याओं से निपटने की कोई ठोस
रणनीति भी नही है सोचिये कोई महामारी फैले गी तो कौन जिम्मेदारी लेगा ये पहले से
तय हो तो अच्छा है
6-It is submitted before the Hon’ble Sir that Swachh Bharat
Abhiyan (English: Clean India Movement) is a campaign by the Government of
India to clean the streets, roads and infrastructure of the country’s 4,041 statutory
cities and towns.The campaign was officially launched on 2 October 2014 at
Rajghat, New Delhi, by Prime Minister Narendra Modi. It is India’s largest
ever cleanliness drive with 3 million government employees, and especially
school and college students from all parts of India, participating in the
campaign.
https://swachhbharat.mygov.in/challenge/green-india-clean-india What is the meaning of such
initiatives if only done for media coverage and befool the countrymen
otherwise Executive Officer Municipality Mirzapur city may not have played
bad game with the health and hygiene of thousands of families even when he is
well informed with the entire tragic scenario?
नियत तिथि:
28 – Sep – 2019
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:

आवेदन
का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग – 1(मुख्यमंत्री कार्यालय )
13 – Sep – 2019
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव नगर विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन
कृपया
शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
अधीनस्थ
को प्रेषित
2
अंतरित
अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव (नगर विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन )
13 – Sep – 2019
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
कृपया
प्रकरण में नियमानुसार कार्यवाही करने का कष्ट करें
अधीनस्थ
को प्रेषित
3
अंतरित
जिलाधिकारी ( )
14 – Sep – 2019
अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका जनपदमिर्ज़ापुर,मिर्ज़ापुर
नियमनुसार
आवश्यक कार्यवाही करें
कार्यालय
स्तर पर लंबित

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
60000190120325
आवेदक कर्ता का
नाम:
???? ????
आवेदक कर्ता का
मोबाइल न०:
6394950546,
विषय:
सी
सी कैमरा व अखाडे के लिए आए सरकारी पैसा का गबन करना व पुलिस
एस आई रमेश राम की मद्द से अखाडे के अध्यक्ष पंकज अहीर के उपर दबाव बनाने के
सम्बन्ध में अखाडे की चाभी लेने के सम्बन्ध में। और मुख्यमंत्री पोर्टल निरस्त
करने के लिए पिता का अपहरण पुलिस द्वारा कराये जाने के सम्बन्ध में।
नियत तिथि:
14 – Sep – 2019
शिकायत की स्थिति:
निस्तारित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
फीडबैक की स्थिति:

आवेदन
का संलग्नक

अग्रसारित विवरण

क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
लोक शिकायत अनुभाग -3( मुख्यमंत्री कार्यालय )
30 – Aug – 2019
महानिदेशक पुलिस
कृपया
शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है।
14/09/2019
अधीनस्थ
अधिकारी के स्तर पर निस्तारित
निक्षेपित
2
अंतरित
महानिदेशक (पुलिस )
31 – Aug – 2019
पुलिस उप महानिरीक्षक/पुलिस महा निरीक्षक मण्डल मिर्ज़ापुर,पुलिस
पृष्ठांकित
14/09/2019
अधीनस्थ
अधिकारी के स्तर पर निस्तारित
निक्षेपित
3
अंतरित
पुलिस उप महानिरीक्षक/पुलिस महा निरीक्षक (पुलिस )
01 – Sep – 2019
वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षकमिर्ज़ापुर,पुलिस
आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या 05 दिवस में तत्काल प्रेषित करें
14/09/2019
महोदय
संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न है। महोदय संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न
है।
निस्तारित
4
आख्या
वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक (पुलिस )
02 – Sep – 2019
क्षेत्राधिकारीक्षेत्राधिकारी , नगर
आवश्यक कार्यवाही करने का
कष्ट करें एवं
आख्या प्रेषित करें महोदय
संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न है। महोदय संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न है।
14/09/2019
आवेदक श्री पंकज अहीर पुत्र हीरालाल यादव निवासी सुन्दरघाट थाना को0 शहर जनपद मीरजापुर
निस्तारित
5
आख्या
क्षेत्राधिकारी (पुलिस )
03 – Sep – 2019
थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षककोतवाली सिटी,जनपदमिर्ज़ापुर,पुलिस
जाँच कर आवश्यक कार्यवाही करते हुए आख्या प्रेषित करे आवश्यक कार्यवाही
करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें
आवेदक श्री पंकज अहीर पुत्र हीरालाल
यादव निवासी सुन्दरघाट थाना को
0 शहर जनपद मीरजापुर
11/09/2019
प्रकरण
के सन्दर्भ मे जाँच आख्या सलग्न प्रेषित है
निस्तारित

Grievance
Status for registration number : DORVU/E/2019/01701

Grievance Concerns To

Name Of Complainant –पंकज यादव

Date of Receipt –29/07/2019

Received By Ministry/Department –Revenue

Grievance Description

सी सी कैमरा
व अखाडे के लिए आए सरकारी पैसा का गबन करना व पुलिस एस आई रमेश राम की मद्द से
अखाडे के अध्यक्ष पंकज अहीर के उपर दबाव बनाने के सम्बन्ध में अखाडे की चाभी लेने
के सम्बन्ध में। और मुख्यमंत्री पोर्टल निरस्त करने के लिए पिता का अपहरण पुलिस
द्वारा कराये जाने के सम्बन्ध में।

Grievance Document

Current Status –Case closed Date of Action –14/09/2019

Remarks

अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित ,अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित ,
महोदय संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न है।
 महोदय संदर्भित प्रकरण पर आख्या संलग्न है।,आवेदक श्री पंकज अहीर पुत्र हीरालाल यादव निवासी सुन्दरघाट थाना को0 शहर जनपद मीरजापुर 
 ,
 
 प्रकरण के सन्दर्भ मे जाँच आख्या सलग्न प्रेषित है

Reply Document

Officer Concerns To  Officer Name –Shri Arun Kumar
Dube

Officer Designation –Joint Secretary

Contact Address –Chief Minister Secretariat
U.P. Secretariat, Lucknow

Email Address 
Contact Number –
05222215127

3 comments on स्वच्छता और सुंदरीकरण से सम्बंधित सरकार की योजनाए सिर्फ भ्रष्ट लोकसेवकों के जेबो का पोषण करते है

  1. जांच अधिकारी महोदय किस विवेचना के आधार पर इस निष्कर्ष पर पहुंचे की सुंदरीकरण में कोई घोटाला नहीं हुआ है क्योकि स्वच्छता अभियान सुंदरीकरण अभियान सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वे योजनाए है जिनका उद्देश्य ही भ्रस्ट अधिकारिओं व कर्मचारिओं की जेबे भरना | जिस अधिकारी को यही नहीं मालूम है की सरकार द्वारा कितना फण्ड सुंदरी करण हेतु आया है और कितना सुंदरीकरण में खर्च हुआ है जब इसका विवरण उन्हें नहीं मालूम है तो वे कैसे इस निष्कर्ष पर पहुंचे की पंकज अहीर सारहीन बात कर रहे है | अपने आप को जाँच अधिकारी कहने वाला किसी तथ्य को नहीं जानता और सुंदरीकरण के डीलिंग्स से अपरिचित फिर भी पंकज अहीर के दावों को समझे बिना उनको सार हीन कहना कहा की बुद्धिमानी है | स्वच्छता और सुंदरीकरण से सम्बंधित सरकार की योजनाए सिर्फ भ्रष्ट लोकसेवकों के जेबो का पोषण करते है |

  2. It is quite obvious that there is no reasoned decisions taken by the staffs of the government at the district level. Moreover government is running on phone from behind the screen and what is going on the paper that is only elephant teeth. Funds of the government meant to development and up-gradation of weaker and downtrodden section is flowing into pockets of the corrupt public functionaries. Whether it is good governance where truth is suppressed forcibly.

  3. Information has been sought under The Right to to Information act 2005 and concerned public staff deniede the sought information on flimsy ground which can never be justified and they are saying that information seeker is seeking the information because of enmity and on that basis they are denying the sought information which can never be justified and they must provide the information and they are not providing this implies that they are indulged in siphoning the fund meant to the development of the area.

Leave a Reply

%d bloggers like this: