Army personnel made complaint regarding siphoning of government fund but concerned made counter

logo जनसुनवाई
समन्वित शिकायत निवारण प्रणाली, उत्तर प्रदेश
Complaint No:-40019917001288
APPLICANT DETAILS :
Name : Ankit Singh Father Name : Hriday Narayan Singh   Gender : MALE
Mobile-1 : 8350889728 Mobile-2 : 8350889728 Email : yogimpsingh@gmail.com
Area : Rural State : उत्तर प्रदेश District : मिर्ज़ापुर
Tehsil : सदर Block : कोण Gram Panchayat : अनिरुधपुर पश्चिम पट्टी
Thana : चिल्हा Address : Gram Panchayat-ANURUDHPUR PASHCHIM PATTI, Block-KON, Tahsil-Sadar, District-Mirzapur
GRIEVANCE AREA DETAILS :
Area : Rural State : उत्तर प्रदेश District : मिर्ज़ापुर
Tehsil : सदर Block : कोण Gram Panchayat : अनिरुधपुर पश्चिम पट्टी
Village : अनिरुधपुर पश्चिम पट्टी Thana : चिल्हा
APPLICATION DETAILS :
Application Detail : विषय –इतना फूहड़ आरोप लगाने के पश्चात भी सम्बंधित सरकारी कर्मचारी प्रार्थी से अभी तक माफी नही मांगे क्या यही सुशासन है | जितने भी स्मरण पत्र भेजे जा रहे है उन पर कोई कार्यवाही नही हो रही है | Most revered Sir –Your applicant invites the kind attention of Hon’ble Sir with due respect to following submissions as follows 1-It is submitted before the Hon’ble Sir that आप सरकारी मुलाजिम है और बिकास कार्य का पैसा जनता का है आप के कर्मचारी जो चाहे करे चाहे एक भी पैसा मत खर्च करे हमारा काम था नागरिक कर्तव्यों का पालन करना न की इतना घिनौना आरोप बर्दास्त करना | खुद शीर्ष अदालत अपने निर्णय में कहा है की यदि हम लोकपद पर आसीन है तो हमे जनता की आलोचनाओं के लिए तैयार रहना चाहिए लेकिन यहा एक तरफ चोरी दूसरी तरफ सीना जोरी वाली कहावत खूब चरितार्थ हो रही है | २-It is submitted before the Hon’ble Sir that जब से आप के स्टाफ द्वारा प्रार्थी पर आरोप लगाया गया तब से आप लोग प्प्रार्थी के किसी भी पत्र पर कोई कार्यवाही नही किये |क्या यह आश्चर्य चकित करने वाला नही है | आरोप की भी एक सीमा और मर्यादा होती है साथ ही उसमे थोड़ी बहुत सच्चाई हो किन्तु एकदम निराधार आरोप सिर्फ घबराहट को इंगित करता है | ३-It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी कितना हस्यास्पद है की जिलाधिकारी महोदय कहते है की नागरिको की समस्याए ग्राम पंचायत स्तर पर निस्तारित कराई जाएगी किन्तु अफसोस की बात है की जब ब्यथा का निवारण खुद मुख्यमंत्री कार्यालय नही करा पा रहा है तो ग्राम पंचायत स्तर पर कर्मचारिओं का बैठना कौन सुनिश्चित करेगा | This is humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in arbitrary manner by making mockery of law of land There is need of hour to take harsh steps against wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy For this your applicant shall ever pray you Hon’ble Sir Yours sincerely अंकित सिंह पुत्र ह्रदय नारायण सिंह ,ग्राम-अनिरुद्ध्पुर पश्चिम पट्टी ,विकास खंड –कोन , जिला –मिर्ज़ापुर
Relief Type : Complaint Address To Officer : जिलाधिकारी Department Name : ग्राम्‍य विकास विभाग
Category Name : भ्रष्टाचार / वित्तीय अनियमितता/कार्यों-विभागीय योजनाओं में लापरवाही/जांच Application Old Reference No : 40019917000471
Attachment : No

आवेदन
का विवरण
शिकायत
संख्या
40019917001288
आवेदक कर्ता का नाम:
Ankit
Singh
आवेदक कर्ता का मोबाइल न०:
8350889728,8350889728
विषय:
विषय इतना फूहड़ आरोप लगाने के पश्चात भी सम्बंधित सरकारी कर्मचारी प्रार्थी से अभी तक माफी नही मांगे क्या यही
सुशासन है | जितने भी स्मरण पत्र भेजे जा रहे
है उन पर कोई कार्यवाही नही हो रही है | Most revered Sir –Your applicant invites the
kind attention of Hon’ble Sir with due respect to following submissions as
follows 1-It is submitted before the Hon’ble Sir that
आप सरकारी मुलाजिम है और बिकास कार्य का पैसा जनता का है आप के कर्मचारी जो चाहे करे चाहे एक भी पैसा मत खर्च करे हमारा काम था नागरिक कर्तव्यों का पालन करना की इतना घिनौना आरोप बर्दास्त करना | खुद शीर्ष अदालत अपने निर्णय में
कहा है की यदि हम लोकपद पर आसीन है तो हमे जनता की आलोचनाओं के लिए
तैयार रहना चाहिए लेकिन यहा एक तरफ चोरी दूसरी तरफ सीना जोरी वाली कहावत खूब
चरितार्थ हो रही है | -It is
submitted before the Hon’ble Sir that
जब से आप के स्टाफ द्वारा प्रार्थी पर आरोप लगाया गया
तब से आप लोग प्प्रार्थी के किसी भी पत्र पर कोई
कार्यवाही नही
किये |क्या यह आश्चर्य चकित करने वाला नही है | आरोप की भी एक सीमा और मर्यादा होती है साथ ही उसमे थोड़ी बहुत सच्चाई हो किन्तु एकदम निराधार आरोप सिर्फ घबराहट को इंगित करता है | -It is submitted before the Hon’ble Sir that श्री मान जी कितना हस्यास्पद है की जिलाधिकारी महोदय कहते है की नागरिको की समस्याए ग्राम पंचायत स्तर पर निस्तारित कराई जाएगी किन्तु अफसोस की बात
है की जब ब्यथा का निवारण खुद मुख्यमंत्री कार्यालय नही
करा पा रहा है तो ग्राम पंचायत स्तर पर कर्मचारिओं का बैठना कौन सुनिश्चित करेगा | This is humble request of your applicant to
you Hon’ble Sir that how can it be justified to withhold public services
arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos in arbitrary manner by
making mockery of law of land There is need of hour to take harsh steps
against wrongdoer in order to win the confidence of citizenry and strengthen
the democratic values for healthy and prosperous democracy For this your
applicant shall ever pray you Hon’ble Sir Yours sincerely
अंकित सिंह पुत्र ह्रदय नारायण सिंह ,ग्रामअनिरुद्ध्पुर पश्चिम पट्टी ,विकास खंड कोन , जिला मिर्ज़ापुर
नियत तिथि:
10
– Jun – 2017
शिकायत की स्थिति:
लम्बित
रिमाइंडर :
फीडबैक :
आवेदन
का
संलग्नक
अग्रसारित विवरण
क्र..
सन्दर्भ
का प्रकार
आदेश
देने वाले अधिकारी
आदेश
दिनांक
अधिकारी
को प्रेषित
आदेश
आख्या
दिनांक
आख्या
नियत
दिनांक
स्थिति
आख्या
रिपोर्ट
1
अंतरित
ऑनलाइन
सन्दर्भ
26
– May – 2017
जिलाधिकारीमिर्ज़ापुर,
लंबित

4 comments on Army personnel made complaint regarding siphoning of government fund but concerned made counter

  1. श्री मान जी कितना हस्यास्पद है की जिलाधिकारी महोदय कहते है की नागरिको की समस्याए ग्राम पंचायत स्तर पर निस्तारित कराई जाएगी किन्तु अफसोस की बात है की जब ब्यथा का निवारण खुद मुख्यमंत्री कार्यालय नही करा पा रहा है तो ग्राम पंचायत स्तर पर कर्मचारिओं का बैठना कौन सुनिश्चित करेगा

  2. When Arun Jaitali can file defamation suit against Arvind Kejarival and seek compensation in crores of rupees ,then why not file defamation against concerned bureaucrats?
    विषय –इतना फूहड़ आरोप लगाने के पश्चात भी सम्बंधित सरकारी कर्मचारी प्रार्थी से अभी तक माफी नही मांगे क्या यही सुशासन है | जितने भी स्मरण पत्र भेजे जा रहे है उन पर कोई कार्यवाही नही हो रही है

  3. नियत तिथि: 10 – Jun – 2017
    शिकायत की स्थिति: लम्बित
    रिमाइंडर :
    फीडबैक :
    आवेदन का संलग्नक
    संलग्नक देखें
    अग्रसारित विवरण-
    क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या नियत दिनांक स्थिति आख्या रिपोर्ट
    1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 26 – May – 2017 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, — कार्यलय से सम्बंधित नहीं

  4. नियत तिथि: 29 – Apr – 2017
    शिकायत की स्थिति: लम्बित
    रिमाइंडर :
    फीडबैक :
    आवेदन का संलग्नक
    संलग्नक देखें
    अग्रसारित विवरण-
    क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश आख्या दिनांक आख्या नियत दिनांक स्थिति आख्या रिपोर्ट
    1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 14 – Apr – 2017 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, — अधीनस्थ को प्रेषित
    2 आख्या जिलाधिकारी ( ) 16 – Apr – 2017 जिला पंचायत राज अधिकारी-मिर्ज़ापुर,पंचायती राज विभाग नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें आख्या लंबित

Leave a Reply

%d bloggers like this: